सीकर

--Advertisement--

बच्चों ने पूछा- चाची कब लाओगे चाचा, गुस्साए कुंवारे ने लड़की को उठाकर पटका

बच्चों ने जैसे ही उससे पूछा कि चाची को कब लाओगे, तो वह आपा खो बैठा।

Danik Bhaskar

Dec 13, 2017, 01:16 AM IST

सीकर. शादी नहीं होने का ताना मारने से नाराज सिरफिरे संजय सोनी ने रविवार को पड़ोसी में छत पर खेल रही 14 साल की मासूम को बड़ी ही बेरहमी से पीटा। उसे तीन बार उठाकर जमीन पर पटका, जिससे मासूम जख्मी हो गई। वह दूसरे दिन भी अस्पताल में भर्ती रही। उसे रह-रहकर वह वाकया याद आता है तो वह सिहर उठती है।

- बता दें कि शहर के वार्ड 28 में रविवार शाम को मोहल्ले के बाबूलाल सोनी की 14 वर्षीय बेटी गुनगुन बच्चों के साथ खेल रही थी। इस दौरान सभी बच्चे पड़ोस में रहने वाली बिमला देवी शर्मा के मकान पर छत पर चले गए। वहां पर खेलते-खेलते बच्चे पड़ोस में रहने वाले संजय सोनी से मजाक करने लगे।

- दरअसल, संजय की शादी नहीं हो रही है। वह एमए तक पढ़ा लिखा है। उसकी मां को लकवा है। पिता भी बीमार रहते हैं। वह खुद ही मां-पिता की सेवा करता है, लेकिन शादी नहीं होने से वह तनाव में रहता है। बच्चों ने जैसे ही उससे पूछा कि चाची को कब लाओगे, तो वह आपा खो बैठा।

उसे रोकना चाहा, लेकिन मुझे भी मारने की धमकी देने लगा था तो मैं डर गई...
- नाबालिग की बड़ी बहन खुशबू भी रविवार की शाम घर पर ही थी। उसने भास्कर को बताया कि आरोपी संजय छोटी बहन गुनगुन को पीट रहा था तब वह जोर से चिल्लाई। आवाज सुनकर परिजनों के साथ मैं भी दौड़कर वहां गई। संजय को रोकने की कोशिश की, लेकिन उस पर तो भूत सवार था। वह मान ही नहीं रहा था। मैं आगे खड़ी हो गई तो उसने मुझे भी जान से मारने की धमकी दी। इससे मैं डर गई। इस बीच आसपड़ौस के लोग वहां गए तो वह गुनगुन को छोड़कर मौके से चला गया। सभी बच्चे संजय का ऐसा रूप देखकर डर गए थे।

- खुशबू ने बताया कि वे लोग मोचीवाड़ा में रहते थे। अभी तीन-चार महीने पहले ही यहां नानाजी के मकान में रहने लगे। उसकी बहन मोहल्ले के बच्चे-बच्चियों के साथ खेलती रहती है। आरोपी युवक इससे पहले भी उसकी बहन को डांटता फटकारता था।

- नाबालिग की मां मधु सोनी ने बताया कि उक्त युवक उनके आते-जाते कुछ भी बोल देता था, लेकिन उन्होंने हमेशा उसको नजरअंदाज कर दिया। कुछ दिनों पहले जब वह बाजार में जा रही थी तब उसने अश्लील टिप्पणी भी की।

तब वह कंस बन गया था, उसे रोकने की कोशिश की, लेकिन नहीं माना
- रविवार को जिस घर में ये वाकया हुआ, उसकी मालकिन 65 वर्षीय बिमला देवी शर्मा ने भी माना कि युवक ने रविवार शाम बहुत दरिंदगी की।

- बिमला देवी ने भास्कर को बताया, 'बच्चे पहले गली में खेल रहे थे। खेलते-खेलते वे मेरे घर की छत पर गए। छत पर से बच्चों ने सिर्फ इतना ही कहा कि चाचा चाची को कब लाओगे। बस इसी बात से वह गुस्सा हो गया और दौड़ता हुआ वहां आया। इस दौरान अन्य बच्चे तो भाग गए, लेकिन गुनगुन भाग नहीं सकी। संजय ने उसे पकड़ लिया और उसके साथ बेरहमी से मारपीट की। उसे उठा उठाकर जमीन पर पटकने लगा। मैंने उसे रोकने की कोशिश की, लेकिन वह नहीं माना। उसके इस रूप को मैंने पहली बार देखा। ऐसा लग रहा था कि वह कंस बन गया। मेरी तो जुबान भी लड़खड़ाने लगी। मेरा बेटा भी घर पर नहीं था। इसलिए वह बेकाबू हो गया। जैसे-तैसे करके शोर मचाया तब गुनगुन के परिवार वाले गए और संजय वहां से अपने घर चला गया।'

कॉलेज के स्टूडेंट के साथ मारपीट
- मोहल्ले में रहने वाले किशन सोनी ने बताया कि करीब दो साल पहले संजय ने उसके साथ भी मारपीट की थी। उसने बताया कि वह जब भी दिन में उसके घर के सामने से जाता था, तब संजय के पिता उसे टोकते थे। इसलिए एक दिन हारकर उन्हें बोल दिया कि मैं मेरे काम से जाता हूं, आपको क्या मतलब है। बस इसी बात को लेकर संजय पीछे से आया और उसके साथ मारपीट की।

- इसके अलावा संजय ने किराए पर रहने वाले कॉलेज के स्टूडेंट के साथ भी मारपीट की।

सख्त कार्रवाई

- मामले को लेकर नाबालिग के पिता बाबूलाल सोनी मोहल्ले के लोगों ने सोमवार को एसडीएम को ज्ञापन देकर आरोपी युवक के खिलाफ सख्त कार्रवाई किए जाने की मांग की।

- ज्ञापन में लिखा गया कि उक्त युवक इससे पहले भी ऐसी हरकते कर चुका है, लेकिन किसी प्रकार की कार्रवाई नहीं हुई। ज्ञापन के जरिए युवक के खिलाफ सख्त कार्रवाई कर जेल भेजने की मांग की गई।

जमानत पर छोड़ दिया

- नाबालिग के साथ बेरहमी से मारपीट किए जाने के मामले में गिरफ्तार आरोपी को सोमवार को एसडीएम कोर्ट के आदेश पर जमानत पर छोड़ दिया गया।

- एएसआई भंवरलाल के अनुसार उक्त मामले में शांति भंग के आरोप में गिरफ्तार आरोपी संजय सोनी को सोमवार को एसडीएम कोर्ट में पेश किया गया, जहां से उसे 10-10 हजार रुपए के जमानत मुचलके छह महीने के लिए पाबंद कर छोड़ने के आदेश दिए गए।

- इससे पहले एएसआई ने घटनास्थल पहुंचकर मौका मुआयना किया। प्रत्यक्षदर्शियों के बयान लिए।

Click to listen..