सीकर

--Advertisement--

बिग कंट्रोवर्सी: MLA बोले- लूट में पूर्व मंत्री की टीम, आरोपी विधायक समर्थक हैं: गुढ़ा

झुंझुनूं में हुई दो बैंकों में डकैती के मामले में पूर्व मंत्री गुढ़ा और विधायक चौधरी हुए आमने-सामने

Dainik Bhaskar

Feb 14, 2018, 08:17 AM IST
Former minister and mla fight due to robbery in two banks

गुढ़ागौड़जी/झुंझनूं. गुढ़ागौड़जी बस स्टैंड के पास अल्लारखा कॉम्पलैक्स स्थित यूको बैंक में 9 फरवरी को देर रात चार चार-पांच बदमाशों ने यूको बैंक में डकैती डालने की कोशिश की थी। बाद में पुलिस इस लूट की कोशिश करने वाले चार आरोपियों किशोरपुरा निवासी संदीप उर्फ नीटू राजपूत, विकास मीणा, संजय सिंह उर्फ संजू राजपूत एवं गुड़ा निवासी शक्तिसिंह राजपूत को गिरफ्तार कर लिया था। दूसरी ओर, तीन फरवरी को उदयपुरवाटी के छापोली में ग्रामीण बैंक से करीब 53 हजार रुपए लूट हुई थी। हालांकि इस लूट को अंजाम देने वाले आरोपियों की गिरफ्तारी अभी पुलिस नहीं कर पाई है।

- पुलिस का कहना है कि आरोपियों के कुछ क्लू हाथ लगे हैं, जांच की जा रही है। सुबूत मिलते ही आरोपियों की गिरफ्तारी कर ली जाएगी।

- पुलिस का दावा है कि इस डकैती में भी चा-पांच युवकों के शामिल होने की अंदेशा है। इसी दोनों डकैतियों को लेकर मंगलवार को लेकर वर्तमान विधायक शुभकरण चौधरी और पूर्व मंत्रई गुढ़ा आमने-सामने हैं।

विधायक दावा-चुनाव जीतने के लिए गुढ़ा का नया धंधा

- विधायक शुभकरण चौधरी ने क्षेत्र के टोडी गांव में सार्वजनिक कार्यक्रम में कहा कि कि दोनों बैंक डकैतियों में पकड़े बदमाश पूर्व मंत्री राजेन्द्र गुढ़ा की टीम के सदस्य हैं। उन्होंने मंच से कहा कि चुनाव नजदीक देख कर गुढ़ा के इशारे पर बैंक डकैती का नया धंधा शुरू हुआ है। गुढ़ा और छापोली में बैक में ताले तोड़ने का काम राजेन्द्र गुढ़ा की टीम का है।

- चौधरी ने आरोप लगाया कि उनके चुनाव जीतने के बाद पूर्व मंत्री के इशारे पर क्षेत्र में आपराधिक घटनाएं की जाने लगी थी, लेकिन प्रशासन ने उनको रोक दिया था। चार साल में क्षेत्र में पूरी शांति रही। अब चुनाव निकट देख कर फिर से राजेन्द्र गुढ़ा की टीम सक्रिय होकर अापराधिक वारदातों को अंजाम दे रही है। चौधरी वीडियो में लोगों से कह रहे हैं कि ये उनको तय करना है कि विकास की राजनीति करनी है या फिर बैंकों में डाके डालने और लोगों के हाथ-पैर तोड़ने का काम करने वालों को प्रोत्साहित करना है।

- चौधरी ने आरोप लगाया कि गुढ़ागौड़जी में पकड़े गए चारों आरोपियों में से तीन राजेन्द्र गुढ़ा के निकट के रिश्तेदार हैं। चौथा उनका समर्थक है।

गुढ़ा का जवाब-उदयपुरवाटी में अपराध चौधरी की देन

- विधायक शुभकरण चौधरी के आरोप पर पूर्व मंत्री राजेन्द्र गुढ़ा ने कहा उदयपुरवाटी में सारे अपराध शुभकरण चौधरी करवा रहे हैं। उन पर सभी आरोप झूठे हैं। गुढ़ागौड़जी में बैंक डकैती के मामले में पकड़े गए सभी आरोपी शुभकरण चौधरी की टीम के सक्रिय सदस्य हैं।

- आरोपी शक्तिसिंह का सगा भाई दातारसिंह शुभकरण चौधरी का समर्थक है। चुनावों में शक्ति सिंह एजेंट के रूप में बैठा था। भाजपा के बूथ अध्यक्ष की सूची में दातार सिंह का नाम भी है। पहाड़ी क्षेत्र के हर कार्यक्रम में शक्ति सिंह का परिवार शामिल रहता है। गुड़ा गांव में शक्तिसिंह के परिवार के साथ चौधरी का पारिवारिक संबंध है। चौफूल्या में नब्बे वर्ष की महिला के साथ दुष्कर्म करने वाले विधायक के समर्थक हैं। गुढ़ा ने गणतंत्र दिवस पर क्षेत्र में लगाए गए एक पोस्टर का जिक्र किया है, जिसमें बैंक डकैती मामले में पकड़े गए शक्ति सिंह का भाई दातार सिंह विधायक को शुभकामनाएं दे रहा है।

- गुढ़ा ने कहा कि वो मेरी टीम का सदस्य कैसे हो सकता है। राजेन्द्र गुढ़ा ने आरोप लगाया कि बैंक डकैती की पूरी प्लानिंग दातार सिंह की है। पुलिस को उसे भी आरोपी बनाना चाहिए। विधायक दातार सिंह को बचाने में लगे हुए हैं, लेकिन अपराधियों को बचने नहीं दिया जाएगा। विधायक ने अपराधियों को बचाने का काम किया तो वे आंदोलन करेंगे।

Former minister and mla fight due to robbery in two banks
X
Former minister and mla fight due to robbery in two banks
Former minister and mla fight due to robbery in two banks
Click to listen..