Hindi News »Rajasthan »Sikar» Four Brothers Die Due To Soil Erosion

गुफा बनाते समय धंसी मिट्टी, एक साथ ही दुनिया से विदा हो गए 4 मासूम भाई

यहां रविवार दोपहर वन विभाग की जमीन में मिट्‌टी धंसने से चार बच्चों की मौत हो गई।

Bhaskar news | Last Modified - Jan 29, 2018, 04:43 AM IST

  • गुफा बनाते समय धंसी मिट्टी, एक साथ ही दुनिया से विदा हो गए 4 मासूम भाई
    +12और स्लाइड देखें
    देव गैस गोदाम के पास फॉरेस्ट डिपार्टमेंट की जमीन में यह हादसा हुआ। इस पर बच्चों ने शोर मचाकर पड़ोसियों व परिवार के लोगों को बुलाया।

    सीकर.यहां रविवार दोपहर फॉरेस्ट डिपार्टमेंट की जमीन में मिट्‌टी धंसने से चार बच्चों की मौत हो गई। चारों रिश्ते में भाई थे, इनमें दो सगे भाई थे। पुलिस के मुताबिक छह बच्चे करीब एक बजे मिट्टी खोदकर गुफा बना रहे थे। दो बच्चे माहिर और महेंद्र खाना खाने चले गए। जब दोनों वापस लौटे तो देखा कि संजय, अभिषेक, राहुल और महेश मिट्टी के नीचे दबे हुए थे। उनमें किसी का पैर तो किसी का हाथ मिट्टी के बाहर दिख रहा था। ये देख दोनों बच्चे घबरा गए और शोर मचाया। 5 फीट उपर से ढही मिट्टी में दबे बच्चे....

    - शोर सुनकर घरवाले और पड़ोसी मौके पर अाए। लोगों ने मिट्टी हटाकर चारों मासूमों को बाहर निकाला। चारों को एसके हॉस्पिटल ले जाया गया, जहां डॉक्टरों ने चारों को मृत घोषित कर दिया।

    - जानकारी मिलने पर कलेक्टर नरेश ठकराल व एएसपी डॉ. तेजपाल, तहसीलदार जगदेव शर्मा ने घटनास्थल का मौका मुआयना किया।

    - नरसीलाल ने रिपोर्ट दी है कि उनके पोते संजय, अभिषेक, राहुल व महेश फॉरेस्ट डिपार्टमेंट की जमीन में खेल रहे थे।

    - इस दौरान करीब पांच फीट ऊपर से मिट्टी ढहने से नीचे दब गए। जिससे चारों बच्चों की मौत हो गई। घरवालों ने हादसे के लिए फॉरेस्ट डिपार्टमेंट को जिम्मेदार ठहराया।

    - उनका कहना था कि अफसरों को पहले ही चेता दिया था कि फॉरेस्ट लैंड रिहायशी एरिया के पास है, इसलिए दीवार बनाई जाए लेकिन अफसरों ने दीवार के बजाय फैंसिंग करा दी। फैंसिंग टूटी हुई थी, इस वजह से वहां पहुंच गए।

    हादसे में बचे दोनों बच्चों ने बताई आपबीती

    - महेंद्र और माहिर ने बताया कि वे दोनों और संजय, अभिषेक, राहुल, महेश मिट्‌टी की गुफा बना रहे थे।

    - वे वहां से घर आ गए। खाना खाने के बाद महेंद्र की चाची ने उन्हें बच्चों को देखने को कहा।

    - महेंद्र और माहिर वहां गए तो चारों बच्चे मिट्टी के नीचे दबे थे। इस पर बच्चों ने शोर मचाकर पड़ोसियों व परिवार के लोगों को बुलाया।

    पड़ताल में झूठ आया सामने

    उपवन संरक्षक बोले- वनकर्मी ड्यूटी पर था, घटना के बाद पहुंच गया था, वनकर्मी ने बताया-मुझे तो 3 घंटे बाद मालूम चला
    - संरक्षक राजेंद्र हुड्डा का कहना था कि फॉरेस्ट वर्कर मुकेश कुमार ड्यूटी कर रहा था। घटना के बाद वह मौके पर पहुंचा। मिट्टी में दबे बच्चों को लोगों की मदद से बाहर निकलवाया।

    - भास्कर ने मुकेश से जानकारी ली तो मुकेश ने बताया कि उसने सुबह 8 बजे घटनास्थल की लोकेशन पर राउण्ड किया था।

    - उसके बाद वह स्मृति वन में चला गया और वापस नहीं आया। शाम करीब पांच बजे हादसे का पता चला।

    - वहीं, उपवन संरक्षक राजेंद्र हुड्डा का कहना है कि उन्होंने फॉरेस्ट डिपार्टमेंट के चारों तरफ सात फीट ऊंची कंटीले तारों की फेंसिंग करा रखी है,जिसे किसी ने तोड़ दिया।

  • गुफा बनाते समय धंसी मिट्टी, एक साथ ही दुनिया से विदा हो गए 4 मासूम भाई
    +12और स्लाइड देखें
    चारों को एसके हॉस्पिटल ले जाया गया, जहां डॉक्टरों ने चारों को मृत घोषित कर दिया।
  • गुफा बनाते समय धंसी मिट्टी, एक साथ ही दुनिया से विदा हो गए 4 मासूम भाई
    +12और स्लाइड देखें
    महेंद्र व माहिर वहां गए तो चारों बच्चे मिट्टी के नीचे दबे थे।
  • गुफा बनाते समय धंसी मिट्टी, एक साथ ही दुनिया से विदा हो गए 4 मासूम भाई
    +12और स्लाइड देखें
    चारों रिश्ते में भाई थे, इनमें दो सगे भाई थे।
  • गुफा बनाते समय धंसी मिट्टी, एक साथ ही दुनिया से विदा हो गए 4 मासूम भाई
    +12और स्लाइड देखें
    घरवालों का कहना है कि विभाग ने दीवार नहीं बनवाई, इसलिए बच्चे वहां तक पहुंच गए
  • गुफा बनाते समय धंसी मिट्टी, एक साथ ही दुनिया से विदा हो गए 4 मासूम भाई
    +12और स्लाइड देखें
    करीब पांच फीट ऊपर से मिट्टी ढहने से नीचे दब गए। जिससे चारों बच्चों की मौत हो गई।
  • गुफा बनाते समय धंसी मिट्टी, एक साथ ही दुनिया से विदा हो गए 4 मासूम भाई
    +12और स्लाइड देखें
    हादसे में जान गंवाने वाले महेश कुमार की उम्र 8 साल साल थी।
  • गुफा बनाते समय धंसी मिट्टी, एक साथ ही दुनिया से विदा हो गए 4 मासूम भाई
    +12और स्लाइड देखें
    हमेशा साथ रहते थे चार भाई। - (फाइल फोटो)
  • गुफा बनाते समय धंसी मिट्टी, एक साथ ही दुनिया से विदा हो गए 4 मासूम भाई
    +12और स्लाइड देखें
    अभिषेक (10 साल) (फाइल फोटो)
  • गुफा बनाते समय धंसी मिट्टी, एक साथ ही दुनिया से विदा हो गए 4 मासूम भाई
    +12और स्लाइड देखें
    वन भूमि के चारों तरफ सात फीट ऊंची कंटीले तारों की फेंसिंग करा रखी है,जिसे किसी ने तोड़ दिया।
  • गुफा बनाते समय धंसी मिट्टी, एक साथ ही दुनिया से विदा हो गए 4 मासूम भाई
    +12और स्लाइड देखें
    राहुल (11 साल) फाइल फोटो
  • गुफा बनाते समय धंसी मिट्टी, एक साथ ही दुनिया से विदा हो गए 4 मासूम भाई
    +12और स्लाइड देखें
    महेंद्र व माहिर वहां गए तो चारों बच्चे मिट्टी के नीचे दबे थे।
  • गुफा बनाते समय धंसी मिट्टी, एक साथ ही दुनिया से विदा हो गए 4 मासूम भाई
    +12और स्लाइड देखें
    वन भूमि आबादी क्षेत्र के पास है, इसलिए दीवार बनाई जाए लेकिन अफसरों ने दीवार के बजाय फैंसिंग करा दी।
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Sikar News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: Four Brothers Die Due To Soil Erosion
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From Sikar

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×