--Advertisement--

6 दिन पहले ही हुई शादी, लड़की ने सुसाइड नोट में लिखा- मैं एक पागल लड़की हूं...

सुलताना की घटना : पीहर में की आत्महत्या, पूजा ने रविवार को दी थी रीट की परीक्षा।

Danik Bhaskar | Feb 14, 2018, 04:47 AM IST

सुलताना (चिड़ावा). सुलताना के जाटावास मोहल्ले में मायके आई नव विवाहिता पूजा जांगिड़ ने फंदा लगा कर आत्महत्या कर ली। उसकी शादी छह दिन पहले ही झुंझुनूं के पंकज जांगिड़ से हुई थी। पूजा के हाथों से विवाह की मेहंदी भी नहीं उतरी थी कि मंगलवार सुबह उसे कमरे में झूलते देख परिजन स्तब्ध रह गए। आत्महत्या से पहले उसने परिजनों के नाम सुसाइड नोट लिख कर छोड़ा जिसे मौके पर पहुंची पुलिस ने जब्त किया है। दो-तीन लाइनों के सुसाइड नोट में पूजा ने लिखा, मैं एक पागल लड़की हूं, अगर जिंदा रही तो बहुत लोग पागल हो जाएंगे, सॉरी मम्मी-पापा आई क्विट। पूजा ने दो दिन पहले ही रीट की परीक्षा दी थी। वह रविवार को पेपर देने के लिए ससुराल वाहिदपुरा (झुंझुनूं) से अपने पति पंकज के साथ आई थी। परीक्षा होने पर उसका भाई चिड़ावा से सुलताना ले गया। साइंस से ग्रेजुएट पूजा ने बीएड कर रखी थी।

- मामले की जानकारी मिलने पर पूजा का पति, ससुर और ससुराल पक्ष के अन्य लोग सुलताना पहुंचे।

- मौके पर आए चिड़ावा सीआई रामप्रताप चारण, एएसआई कंवरपाल और सुलताना चौकी प्रभारी हैड कांस्टेबल राजेश जांगिड़ ने शव पोस्टमार्टम के लिए चिड़ावा सीएचसी पहुंचवाया।

- तहसीलदार बृजेश गुप्ता की मौजूदगी में गठित मेडिकल बोर्ड के डॉ. परमेश्वर लाल, डॉ. देवेंद्र चाहर और डॉ. शिवा ने पोस्टमार्टम किया।

- दोपहर बाद ससुराल वाहिदपुरा में पूजा का अंतिम संस्कार किया गया। प्रारंभिक जांच-पड़ताल में आत्महत्या का कारण पूजा का विवाह से नाखुश होना माना जा रहा है। उसके भाई संदीप की रिपोर्ट पर पुलिस ने मर्ग दर्ज किया है। जांच कार्यवाहक एसडीएम तहसीलदार गुप्ता कर रहे हैंं। मंगलवार सुबह सात बजे मम्मी पूनम व दादी छोटी देवी द्वारा कमरे का दरवाजा बजाने पर अंदर सो रही छह 6 बिट्टू की नींद खुली तो मासूम बिट्टू बुआ पूजा को फंदे से झूलता देख सहम गई। फिर उसने दरवाजा खोला और मां से चिपक कर रोने लगी।

- सोमवार रात वह 97 वर्षीया बीमार पड़दादी कमला और अपनी बुआ के साथ इस कमरे में सोई थी।

- पूजा को फंदे से लटकती देख उसकी मां और भाभी घबरा कर चिल्लाने लगी। आवाजें सुन कर दूसरे कमरे में सो रहा बड़ा भाई संदीप व अन्य परिजन भी वहां पहुंचे।

सोमवार को ही पिता वापस दुबई गए थे

- 7 फरवरी को इकलौती बेटी पूजा का विवाह करने के बाद किशोरी लाल जांगिड़ सोमवार सुबह ही दुबई के लिए सुलताना से दिल्ली गए थे।

- वहां से रात 12 बजे उसने दुबई के लिए फ्लाइट पकड़ी थी। नेवी में सेवारत बड़ा भाई संदीप मंगलवार को ड्यूटी ज्वाइन करने विशाखापट्टनम जाने वाला थे।

पड़ोस में गीतों के कार्यक्रम से रात 11:30 बजे लौटी, सुबह फंदे पर झूलती मिली
- सोमवार रात सुलताना में अपने पीहर के कबीले (कुनबे) में फेर मोड़े के लिए आई दो हमउम्र सहेलियों से पूजा खूब हंस-बोलकर मिली थी।

- वहां गाने-बजाने (गीतों) व खाने का कार्यक्रम होने के बाद रात करीब 11.30 बजे वह वापस घर लौटी।

- इसके बाद घर के सदस्य अपने कमरों में सोने चले गए। पूजा चलने-फिरने में लाचार अपनी बुजुर्ग दादी व भतीजी बिट्टू के साथ कमरा बंद कर सो गई। देर रात किसी समय उसने अपनी चुन्नी का फंदा बना कर आत्महत्या कर ली। सुबह पता चला।