--Advertisement--

हड़ताल के समर्थन में आए प्राइवेट डाॅक्टर, आज सुबह 9 से 11 बजे तक नहीं देखेंगे मरीज

सुबह 9 से 11 बजे मरीज नहीं देखेंगे। सेवारत डॉक्टरों के समर्थन में विरोध जताया जाएगा।

Danik Bhaskar | Dec 21, 2017, 08:01 AM IST

सीकर. प्राइवेट डॉक्टरों ने सेवारत डॉक्टरों के समर्थन में गुरुवार को दो घंटे का कार्य बहिष्कार पर जाने का फैसला लिया है। निजी डॉक्टर गुरुवार को सुबह 9 से 11 बजे तक मरीज नहीं देखेंगे। गुरुवार को सुबह 10 बजे निजी डॉक्टरों की मीटिंग होगी। इधर, सेवारत डॉक्टरों के हड़ताल के कारण अस्पतालों में मरीज भटकते रहे। पांचवें दिन भी मरीजों को इलाज नहीं मिला। निजी डॉक्टर संघ के डॉ. पीसी गर्ग ने बताया कि गुरुवार को सुबह 9 से 11 बजे मरीज नहीं देखेंगे। सेवारत डॉक्टरों के समर्थन में विरोध जताया जाएगा।


- उन्होंने बताया कि गुरुवार को सुबह 10 बजे फिर से निजी डॉक्टरों की मीटिंग बुलाई गई है। मीटिंग में जिलेभर के निजी डॉक्टर शामिल होंगे और आगामी फैसला लिया जाएगा। डॉ. गर्ग ने बताया कि सेवारत डॉक्टरों से सरकार को बातचीत करनी चाहिए। उन्हें प्रताड़ित करने के बजाए उनकी मांगों का समाधान होना चाहिए।

- इधर, सेवारत डॉक्टरों की हड़ताल पांचवें दिन भी जारी रही। हड़ताल के कारण मरीजों को इलाज नहीं मिला। मृतकों के पोस्टमार्टम नहीं हुए। मुर्दो को हायर सेंटर पर रेफर किया जाता रहा। एसके अस्पताल में सुबह 9 से 3 बजे तक चले आउटडोर में संविदा और आयुर्वेदिक डॉक्टरों ने मरीजों का चैकअप किया।

- प्रिंसिपल डॉ. गोवर्धन मीणा ने भी आउटडोर में मरीजों का इलाज किया। एसके और जनाना अस्पताल में नए मरीज भर्ती नहीं हो रहे हैं। इसलिए 400 बेड के अस्पतालों में मात्र 17 मरीज बचे हैं।