Hindi News »Rajasthan »Sikar» SK Hospital At Number 24 In Third Time

मरीज नाखुश, 24वें स्थान पर पहुंचा एसके अस्पताल; 9 माह में लगातार तीसरी बार गिरी रैंकिंग

झुंझुनूं के बीडीके अस्पताल की प्रदेश में पांचवी रैंक है। चूरू जिला अस्पताल 15 वें नंबर पर है।

Bhaskar news | Last Modified - Dec 31, 2017, 05:35 AM IST

मरीज नाखुश, 24वें स्थान पर पहुंचा एसके अस्पताल; 9 माह में लगातार तीसरी बार गिरी रैंकिंग

सीकर. एसके अस्पताल के डॉक्टरों और पैरा मेडिकल स्टाफ से मरीजों का भरोसा लगातार टूटता जा रहा है। केंद्र सरकार की मेरा अस्पताल योजना में मरीजों से मिले फीडबैक के आधार पर प्रदेश में एसके अस्पताल की लगातार तीसरी बार रैंक गिरी है। एसके अस्पताल 24 वें स्थान पर पहुंच गया है। 9 माह में 4234 मरीज इलाज से असंतुष्ट नहीं हुए। क्योंकि अस्पताल में उन्हें न समय पर डॉक्टर मिले। पैरामेडिकल स्टाफ की व्यवहार ठीक नहीं था। सफाई भी ठीक नहीं थी।

- 3 तीन माह पहले यह 22 वें नंबर था। एसके अस्पताल से कम स्टाफ और सुविधाओं वाले पाली, नागौर, बाड़मेर जैसा जिला अस्पताल काफी आगे चल रहे है।

- झुंझुनूं के बीडीके अस्पताल की प्रदेश में पांचवी रैंक है। चूरू जिला अस्पताल 15 वें नंबर पर है। एसके के मुकाबले दोनों जगह कम स्टाफ और संसाधन है। बावजूद दोनों अस्पताल एसके से आगे निकल गए। हर तीन माह में यह रैंक निर्धारित होती है।

- मामले में डिप्टी कंट्रोलर डॉ. हरिसिंह का कहना है कि एसके अस्पताल में ज्यादा आउटडोर के दबाव में कई बार मरीज का अच्छा व्यवहार नहीं मिल पाता है। मरीज को अच्छा इलाज मिले इसके लिए प्रयास किए जा रहे हैं।

India Result 2018: Check BSEB 10th Result, BSEB 12th Result, RBSE 10th Result, RBSE 12th Result, UK Board 10th Result, UK Board 12th Result, JAC 10th Result, JAC 12th Result, CBSE 10th Result, CBSE 12th Result, Maharashtra Board SSC Result and Maharashtra Board HSC Result Online
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Sikar News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: mrij naakhush, 24ven sthaan par phunchaa eske aspatal; 9 maah mein lgaaataar tisri baar gairi rainking
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From Sikar

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×