Hindi News »Rajasthan »Sikar» Sucess Story Of Famer Son Who Select Bollywood

बॉलीवुड फिल्म में दिखेगा ये किसान का बेटा, कभी ताने मिलने पर हुआ था परेशान

एक साधारण किसान परिवार में जन्मे अनिल चाहर की सफलता की कहानी लोगों को सीख देने वाली है।

Bhaskar news | Last Modified - Jan 22, 2018, 02:49 AM IST

  • बॉलीवुड फिल्म में दिखेगा ये किसान का बेटा, कभी ताने मिलने पर हुआ था परेशान
    +1और स्लाइड देखें
    सिरोही के रहने वाले अनिल किसान फैमिली से ताल्लुक रखते है। चार हजारो लोगों में उनका सिलेक्शन फिल्म के लिए हुआ है।

    नीमकाथाना। सिरोही के अनिल चाहर ने जिद और संघर्ष से बड़ी कामयाबी हासिल की है। वे जल्द बॉलीवुड फिल्म "द पुष्कर लॉज" में नजर आएंगे। एक साधारण किसान परिवार में जन्मे अनिल चाहर की सफलता की कहानी लोगों को सीख देने वाली है। उनके माता-पिता चाहते थे कि बेटा सरकारी नौकरी करे, लेकिन अनिल की पढ़ाई में रुचि नहीं थी। किसान पिता ताना मारते थे, कहते जिंदगी में तुम कभी आगे नहीं बढ़ पाओगे।ताने सुन- सुन हो गया परेशान...

    - इससे अनिल परेशान रहने लगा था। जैसे तैसे उसने सिरोही में स्कूली शिक्षा हासिल की। उन्हें कॉलेज शिक्षा के लिए जयपुर भेज दिया गया, जहां अनिल ने बड़े पर्दे पर जाने की ठानी। इसके लिए पांच साल तक संघर्ष किया।
    - मुंबई की भीड़ में कई बार भटके भी। आखिर जिद और संघर्ष से अनिल ने बॉलीवुड में जगह बनाई। अनिल सात भाई-बहनों में सबसे छोटे हैं।
    - बेटा बॉलीवुड में गया, इसकी जानकारी अनिल के माता-पिता को नहीं है। अनिल बताते हैं कि माता-पिता को थिएटर में फिल्म दिखाकर वे उन्हें सरप्राइज देना चाहते हैं।

    चार हजार लोगों के ऑडिशन में हुआ था सिलेक्शन
    बॉलीवुड फिल्म "द पुष्कर लॉज" के लिए जयपुर में ऑडिशन हुआ। इसमें चार हजार लोगों ने भाग लिया।

    इनमें अनिल का चयन किया गया। फिल्म के लेखक और निर्देशक विजय सुथार बताते हैं कि फिल्म की शूटिंग पुष्कर, जयपुर और मुंबई में हुई।

    "द पुष्कर लॉज" फिल्म उन लोगों पर गहरा कटाक्ष है जो धर्म की आड़ में पवित्र तीर्थनगरी में ड्रग्स जैसे घिनोने व्यापार कर धार्मिक स्थल को बदनाम करने का काम करते हैं।

    सचिन चौधरी भी मचा रहे हें धूम
    - अनिल चाहर के भतीजे सचिन चौधरी भी बड़े पर्दे पर धूम मचा रहे हैं। सचिन भी "द पुष्कर लॉज" में किरदार निभा रहे हैं।
    - इससे पहले सचिन डीआईडी लिटिल मास्टर और अंतरराष्ट्रीय पुरुस्कार विजेता फिल्म तावड़ो द सनलाइट में भी काम कर चुके हैं।
    - सचिन कई बड़े अभिनेताओं के डॉयलॉग की नकल कर लेते हैं।

    भीड़ में खो जाने का डर लगता था
    अनिल चाहर कहते हैं किह उन्हें बचपन से ही बड़े पर्दे पर काम करना पसंद था, लेकिन मुंबई की भीड़ में खोने का डर भी सताता था। अब बॉलीवुड में मौका मिला है। अभी और आगे तक जाना है। इस भीड़ में कड़ी स्पर्धा है।

  • बॉलीवुड फिल्म में दिखेगा ये किसान का बेटा, कभी ताने मिलने पर हुआ था परेशान
    +1और स्लाइड देखें
    अनिल चौधरी के भतीजे सचिन भी बड़े पर्दे पर धूम मचा रहे है।
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Sikar News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: Sucess Story Of Famer Son Who Select Bollywood
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From Sikar

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×