Hindi News »Rajasthan »Sikar» Army Man Killed Daughter

फौजी पति ने ले ली मासूम बेटी की जान, पत्नी ने पुलिस को बताया पूरा सच

लाश को निकालते ही कपड़े में लिपटा देखकर नानी और मां फफककर रो पड़ी।

Bhaskar News | Last Modified - Nov 17, 2017, 11:55 PM IST

सीकर. तारानगर तहसील के गांव घासला अगुणा में गुरुवार सुबह दिल दहलाने वाली घटना सामने आई। एक फौजी ने दो दिन पहले जन्मी बेटी को उसकी मां की गोद से छीनकर पानी की बाल्टी में डूबोकर मार डाला। इतना ही नहीं इस जघन्य अपराध को छिपाने के लिए मासूम के शव को गुपचुप तरीके से दफना भी दिया। लेकिन मां की ममता जाग गई और उसने अपने पीहर वालों को ये सब बता दिया। इसके बाद उसने फौजी पति के खिलाफ दो दिन की नवजात की निर्मम ढंग से हत्या कर शव को दफनाने का मामला दर्ज करा दिया। पुलिस भी ये सब सुनकर दंग रह गई। पुलिस के अधिकारी एसडीएम को साथ लेकर शुक्रवार सुबह मुक्तिधाम पहुंचे और मासूम के शव को बाहर निकलवाया। चूरू के डीबी अस्पताल में पोस्टमार्टम करवाया गया। इस बीच तारानगर पुलिस ने फौजी पिता को पूछताछ के लिए हिरासत में ले लिया है।


- जानकारी के मुताबिक, घासला अगुणा निवासी फौजी अशोक जाट की पत्नी प्रियंका ने 14 नवंबर को सादुलपुर के निजी अस्पताल में बेटी को जन्म जन्म दिया था। प्रसव के बाद अशोक उसे छुट्टी दिलाकर गांव ले आया। बड़ी बेटी राव्या (14 माह) को उसके ननिहाल जयपुरिया खालसा, राजगढ़ छोड़ आया।

- सेना में सिपाही के पद पर तैनात अशोक पुत्र शीशराम ज्याणी कुछ दिन पहले ही छुट्‌टी पर आया था। गुरुवार सुबह करीब साढ़े पांच बजे उसने प्रियंका से कहा-दूसरी बेटी आ गई। अब वह 20 साल पीछे चला जाएगा, इसलिए इसे जिंदा रहने का कोई हक नहीं है...।

- यह कहते हुए उसने प्रियंका की गोद से दो दिन की नवजात को छीनकर घर के चौक में पड़ी पानी से भरी बाल्टी में डूबो दिया। इतनी बार डूबोया जब तक कि वह मर नहीं गई। प्रियंका ने विरोध जताया तो उसके ससुर शीशराम ज्याणी ने उसका मुंह दबा लिया। इसके बाद प्रियंका के पति व ससुर ने अन्य परिजनों के साथ मिलकर मासूम को दफना दिया।


दूसरी बेटी के जन्म लेने से परेशान था पति
प्रियंका ने बताया कि दूसरी बेटी के पैदा होने से वह खुश नहीं था। पति ने उससे दस लाख रुपए भी मांगे। उसका कहना था कि दो-दो बेटियां हो गई हैं। इनके पालन-पोषण के लिए रुपयों की आवश्यकता है। पहले से ही लोन लिया हुआ है। तब प्रियंका ने कुछ दिन बाद पीहर से रुपए लाकर देने की बात कही। प्रियंका ने यह भी कहा कि वह बीएडधारी और दो साल में नौकरी लग जाएगी, उसके बाद कर्जा चुका देगी।

चार फीट नीचे दफनाई नवजात का शव निकाला तो रो पड़ी मां और नानी
शुक्रवार को एसडीएम इंद्राजसिंह, तहसीलदार राजेंद्र सिंह, एसएचओ रामचंद्र कस्वा मौके पर पहुंचे। मुक्तिधाम में दफनाई गई बच्ची को निकलवाया। उस वक्त मौके पर प्रियंका भी परिजनों के साथ मौजूद रही। शव निकालते ही कपड़े में लपेटकर शव को प्रिंयका को दिखाया गया तो नानी और मां फफककर रो पड़ी।

दो साल पहले हुई थी शादी
प्रियंका की शादी अशोक कुमार के साथ दो साल पहले हुई थी। अशोक शादी से पहले ही आर्मी में सैनिक के पद पर लगा हुआ था। उनके पहले से एक 14 माह की पुत्री है। ग्रामीणों ने बताया कि अशोक पत्नी को अध्यापिका लगाना चाहता था। जो उसे तैयारी के लिए स्कूटी दिलाने की बात भी कह रहा था। घटना को लेकर गांव में भी तरह-तरह के कयास लगाए गए और गांव मे मायूसी छाई रही।

फौजी की पत्नी ने करवाया हत्या का मामला दर्ज
घटना के बाद गुरुवार रात को प्रियंका ने पति व ससुर के खिलाफ नवजात बच्ची की हत्या करने व उससे मारपीट करने का मामला दर्ज कराया है। एसएचओ रामचंद्र कस्वा ने बताया कि प्रियंका पुत्री सुभाष चंद्र जाट निवासी जयपुरिया खालसा, राजगढ़ ने रिपोर्ट दी कि उसका विवाह दो साल पहले घासला अगुना के अशोक पुत्र शीशराम ज्याणी से हुआ था। अशोक आर्मी में नौकरी करता है। गुरुवार सुबह उसके पति ने नवजात बेटी को बरामदे में रखी पानी से भरी बाल्टी में डुबोकर मार दिया।

नवजात का चूरू में मेडिकल बोर्ड से पोस्टमार्टम
इधर, नवजात के ननिहाल पक्ष की जिद पर उसके शव का चूरू के राजकीय डीबी अस्पताल में मेडिकल बोर्ड की टीम ने शुक्रवार शाम को पोस्टमार्टम किया। अस्पताल अधीक्षक डॉ. जेएन खत्री ने बताया कि टीम में मेडिकल ज्यूरिष्ठ डॉ. सुनील शर्मा व गोविंद बबेरवाल थे।

आगे की स्लाइड्स में देखें खबर से जुड़ीं फोटोज...

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Sikar

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×