Hindi News »Rajasthan »Sikar» Job Alerts For Joint Defence Service Exam Recruitment

JOB Alert : ज्वाइंट डिफेंस सर्विस एग्जाम में 444 भर्तियां, जानें इससे जुड़ीं हर बात

यूनियन पब्लिक सर्विस कमीशन द्वारा सीडीएस-2018 ( ज्वाइंट डिफेंस सर्विस एग्जाम) का सर्कुलर जारी।

Bhaskar News | Last Modified - Nov 15, 2017, 01:23 AM IST

सीकर.यूनियन पब्लिक सर्विस कमीशन द्वारा सीडीएस-2018 ( ज्वाइंट डिफेंस सर्विस एग्जाम) का सर्कुलर जारी हो गई है। इंडियन आर्मी एकेडमी, इंडियन नेवल एकेडमी और ऑफिसर्स ट्रेनिंग एकेडमी द्वारा करवाए जाने वाले कोर्स में दाखिले के लिए यह एग्जाम होता है। इसके लिए 4 दिसंबर 2017 तक अप्लाई किया जा सकता है। भर्ती 444 पोस्ट्स के लिए होगी। इंडियन मिलिट्री एकेडमी देहरादून में करीब 100 पोस्ट हैं, इसमें एनसीसी सी सर्टिफिकेट आर्मी विंग कैंडिडेट्स के लिए रिजर्व है। इंडियन नेवल एकेडमी में करीब 45 पोस्ट हैं, जिसमें छह पोस्ट एनसीसी सी सर्टिफिकेट नेवल विंग कैंडिडेट्स के लिए रिजर्व है। एयरफोर्स एकेडमी हैदराबाद में 32 पोस्ट हैं। ऑफिसर्स ट्रेनिंग एकेडमी चेन्नई में करीब 255 पोस्ट, इसमें 50 पोस्ट एनसीसी सी सर्टिफिकेट कैंडिडेट्स के लिए रिजर्व हैं। ऑफिसर्स ट्रेनिंग एकेडमी चेन्नई महिला में करीब 12 पोस्ट हैं।
एज लिमिट : आईएमए और इंडियन नेवल एकेडमी में मैरिड मेल कैडिडेट, जिनका जन्म 2 जनवरी 1995 के बाद और 1 जनवरी 2000 से पसॉल्वे हुआ हो, वे इस कोर्स के कैंडिडेट के दावेदार होंगे।
एयरफोर्स एकेडमी में भी यही एज लिमिट रहेगी और एल का कैलकुलेशन 1 जनवरी 2019 को बेस मानकर किया जाएगा।
एग्जाम पैटर्न : अंग्रेजी और मैथ्स पर फोकस करें
आईएमए, इंडियन नेवल एकेडमी और इंडियन एयरफोर्स में दाखिले के लिए होने वाली एग्जाम में तीन सब्जेक्ट्स (अंग्रेजी, कॉम्प्रीहेन्सन, जनरल नॉलेज, मैथ्स के अलग-अलग पेपर होंगे। जिनमें हर पेपर को सॉल्व करने के लिए टाइम लिमिट दो घंटे और मैक्सिमम मार्क्स 100-100 होंगे। ऑफिसर्स ट्रेनिंग एकेडमी के लिए कैंडिडेट्स को केवल अंग्रेजी और जनरल नॉलेज के पेपर पास होंगे, जिसका फार्मेंट दूसरी एकेडमी के समान ही रहेगा। मैक्सिमम मार्क्स भी 100-100 रहेंगे तथा वक्त भी दो-दो घंटे होंगे।
{अंग्रेजी: एग्जाम के दिन सबसे पहले अंग्रेजी का पेपर होगा। अंग्रेजी के पेपर को चार हिस्सों में बांटकर तैयारी करें। वोकेब में 40 मार्क्स सीधे ही एन्टोनिम्स, साइनोनिम्स, वन वर्ड, क्लोज टेस्ट जैसे टॉपिक्स से रहेंगे और इस पेपर के लिए दूसरे हिस्सों में भी वो, चाहे ग्रामर का हो या फिर रीडिंग कॉम्प्रीहेन्सन या सेंटेंस अरेंजमेंट का हो, सभी में वोकेब का अहम रोल रहता है। ग्रामर में भी Practice questions पर ध्यान दें।
{मैथ्स : मैथ्स को दो पार्ट्स में बांटा जाता है, जिसमें Arithmetic और एडवांस मैथ्स मेन हैं। Arithmetic में टाइम वर्क, परसेंटेज, सिंपल इंटरेस्ट, कम्पाउंट इंटरेस्ट, प्रॉफिट एंड लॉस, Ratio proportion, एज से रिलेटेड ऑपरेश तथा कोण, त्रिभुज, चतुर्भुज, Mensuration एडवांस मैथ्स के तहत आते हैं।
{जनरल अवेयरनेस: जनरल स्टडी के पेपर में नेशनल और इंटरनेशनल अफेयर के जनरल नॉलेज से रिलेटेड सवाल पूछे जाएंगे। एग्जाम से जुड़े एक्सपर्ट्स के मुताबिक, इसमें इकॉनॉमिक्स से करीब 8 से 10 सवाल, अरेंजमेंट ऑफ गवर्ननेंस से 18 से 20 सवाल, हिस्ट्री से आठ से 10 सवाल, ज्योग्राफी से 20, फिजिक्स से 10 व केमेस्ट्री में भी 10 से 12 पूछे जाएंगे। इसके अलावा एनवायरमेंट और इसके पॉल्यूशन से जुड़े तीन से चार सवाल, नेशनल सिक्युरिटी से जुड़े करंट अफेयर्स से आठ से 10 सवाल, इंडियन सोसायटी एंड कल्चर से रिलेटेड भी छह से सात सवाल पूछे जा सकते हैं। इन सब्जेक्ट्स से जुड़े स्ट्रक्चरल सवालों के अलावा करंट में किसी स्पोर्ट्स, लिटरेचल और सोशल फील्ड के अचीवमेंट्स के बारे में भी सवाल दिए जा सकते हैं।
{इंटरव्यू :इंटरव्यू करीब 300 मार्क्स का होगा। इसमें रिटन एग्जाम में पास होने के बाद ही कैंडिडेट्स का फाइनल एग्जाम में पास होने के बाद ही असली टेस्ट शुरू होता है। सीडीएस एग्जाम में यही वो स्टेप है, जो इसे दूसरी कॉम्पिटीशन एग्जाम की कैटेगरी से अलग करता है। यह इंटरव्यू वह स्टेप है, जिसमें आपके असल प्रैक्टिकल प्रोपर्टीज की पहचान की जाती है। इंटरव्यू की पूरी प्रोसेस 5 दिन तक चलती है और दिन-ब-दिन टेस्ट का लेवल बढ़ता है। पहले दिन इंटरव्यू की शुरुआत में Picture retention and delivery test लिया जाता है। इसमें कैडिडेट्स को 30 सेकंड के लिए एक पिक्चर दिखाया जाता है और फिर इससे रिलेडेट 4 मिनट में कुछ लिखना होता है।
लिखित एग्जाम के बाद इंटरव्यू लिया जाएगा, इसके बाद होगा मेडिकल टेस्ट
आईएमए और ओटीएस के लिए कैंडिडेट्स के पास ग्रैजुएशन डिग्री होनी जरूरी है। इंडियन नेवल एकेडमी के लिए, बीटेक डिग्री होनी चाहिए।
एयरफोर्स एकेडमी के लिए 12वीं में फिजिक्स और मैथ्स के साथ ही ग्रैजुएशन डिग्रीधारी ही अप्लाई कर सकते है। सिलेक्शन दो स्टेप्स के जरिए होगा। इसमें सबसे पहले Objective alternative ऑफलाइन एग्जाम होगा। इस एग्जाम में तीन सब्जेक्ट्स के पेपर एक ही दिन में होंगे। रिटन एग्जाम में पास होने के बाद इंटरव्यू होगा। इसकी पूरी प्रॉसेस पांच दिन की रहती है। इंटरव्यू के बाद मेडिकल टेस्ट होगा और इसमें कामयाब होने के बाद ऑल इंडिया मेरिट जारी होने के बाद सिलेक्शन किया जाएगा।
इन बातों का भी रखें ध्यान
1. सीडीएस रिटन एग्जाम में सभी सब्जेक्ट्स के पेपर में मिनिमम 20 फीसदी मार्क्स लाना जरूरी है।
2. पर्सनेलिटी टेस्ट के बाद तीसरा और चौथा दिन इंपम्पोर्टेंट होता है। इसमें आपकी हॉबीज, अचीवमेंट्स से रिलेटेड डिस्कशन होता है। चौथे दिन ग्रुप टास्किंग का होता है। इसमें ग्रुप डिस्कशन होगा, जो करंट अफेयर्स पर होता है। कैंडिडेट्स को अलग-अलग ग्रुप में बांट दिया जाता है। ग्रुप डिस्कशन होता है। इसके बाद ग्रुप प्लानिंग प्रैक्टिस होता है। इसके बाद कमांड टास्क होगा, जिसमें आपके ग्रुप की एक्टिविटी परखी जाएगी।
इसके तुरंत बाद रोप-वे, बैलेंसिंग की सिंगल और ग्रुप एक्टीविटीज होगी। पांचवें दिन कॉन्फ्रेंस होगी, जिसमें एक-एक करके इंटरव्यू और कन्वर्सेशन होगी। इस इंटरव्यू में पास कैंडिडेट्स का मेडिकल होगा।
3. कॉन्फीडेंस, बोलने का तरीका, स्पिरिट, क्विक रिसपोंस, पर्सनेलिटी जैसी बातें परखी जाएंगी।
4. ऑफलाइन एग्जाम 4 फरवरी 2018 और इंटरव्यू अगस्त महीने में हो सकता है।
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Sikar

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×