--Advertisement--

श्रीमाधोपुर के गीतकार कुणाल वर्मा का अवार्ड के लिए नॉमिनेशन

कुणाल ने बताया कि उन्होंने गीत हंसी बन गए के दोनों वर्जन तैयार किए थे।

Dainik Bhaskar

Feb 19, 2016, 07:09 AM IST
Kunal Verma Award nomination for Songwriter of Srimadopur
श्रीमाधोपुर. कस्बे के युवा गीतकार कुणाल वर्मा का नॉमिनेशन बेस्ट अपकमिंग लिरिसिस्ट ऑफ द ईयर कैटेगरी में हुआ है। मिर्ची अवार्ड्स 2016 की इस श्रेणी में नॉमिनेशन के लिए कुणाल वर्मा का चयन बॉलीवुड फिल्म हमारी अधूरी कहानी के सुपरहिट सांग्स हंसी बन गए... के लिए किया गया है।
पिछले साल रिलीज हुई भट्‌ट कैंप की मूवी हमारी अधूरी कहानी में कुणाल वर्मा द्वारा लिखे गए गीत हंसी बन गए... को सिंगर अमी मिश्रा एवं श्रेया घोषाल ने आवाज दी थी।
कुणाल ने बताया कि उन्होंने गीत हंसी बन गए के दोनों वर्जन तैयार किए थे। वर्तमान में कुणाल वर्मा कई मूवीज के लिए सक्रिय हैं जो जल्द ही रिलीज होगी। वे सिर्फ गीतकार ही नहीं, बल्कि म्यूजिक कंपोजर व सिंगर भी है। सांग्स्टर के बैनर तले रैपरिया बालम के साथ उनके एलबम म्हारो राजस्थान ने धूम मचाई थी।
ग्राफिक डिज़ाइनर से बने गीतकार व संगीतकार : कुणाल वर्मा ने बताया कि वे श्रीमाधोपुर से बड़े सपने लेकर जयपुर गए थे... पर जैसा हमेशा होता है कि सपनों को हकीकत में ढालने के लिए जिंदगी कई इम्तिहान लेती है और उन सभी इम्तिहानों को कुणाल ने बड़ी शिद्‌दत से दिया। एक वक्त ऐसा भी था जब कुणाल को एक फोटो स्टेट की दुकान पर नौकरी करनी पड़ी।
जल्द ही कुणाल ग्राफिक डिजाइनिंग में आ गए और वहां भी उन्होंने अपने हुनर से लोगों का दिल जीता। जब कुणाल वर्मा से पूछा गया कि अचानक ग्राफिक डिजाइनर से गीतकार और शायर कैसे बन गए तो उन्होंने शायराना अंदाज में इसका जवाब दिया “ जिन्हें किस्मत ने ना ठुकराया वो लोग क्या जाने हसरतें...शायर भी बनते हैं वो जिनकी जुबान पे काश है”।
कुणाल वर्मा का हुनर और हौसले का ही कमाल है कि महेश भट्‌ट से जब उनकी मुलाकात हुई, तब भट्‌ट ने उन्हें अपनी फिल्मो में गीत लिखने का ऑफर दिया और कहा जैसे एक मां अपने बच्चे का सिर्फ छूकर इलाज कर देती है, वैसे ही उनके शब्द लोगों को सुकून देंगे। कुणाल का लक्ष्य आने वाले समय में और भी बेहतर गीत लिखना है।
निर्माता-निर्देशक झुंझुनूं निवासी डॉ. सत्तार दीवान ने दी जानकारी
फिल्म बॉलीवुड डायरीज सिनेमा जगत के पर्दे के पीछे का सच है। फिल्म अभिनय के प्रति समर्पित कलाकारों के संघर्ष की कहानी है। फिल्म के निर्माता निदेशक झुंझुनूं निवासी डॉ. सत्तार दीवान ने बताया कि फिल्म 26 फरवरी को रिलीज होगी। उनके निर्देशन में बनी इस पहली फिल्म को देशभर के 650 सिनेमाघरों प्रदर्शित किया जाएगा। फिल्म में अभिनेत्री रायमा सेन इमली और अभिनेता आशीष विद्यार्थी विष्णु का किरदार निभाएंगे।
बॉलीवुड में कदम रखने वाले सलीम दीवान और छोटे पर्दे की कलाकार करूणा पांडे और विनीतसिंह का भी इसमें दमदार अभिनय है। डॉ. सत्तार दीवान ने बताया कि फिल्म की शूटिंग दिल्ली, भिलाई और कोलकाता में की गई है। डॉ. सत्तार ने बताया कि विदेशों में भी यह फिल्म प्रदर्शित की जाएगी।
X
Kunal Verma Award nomination for Songwriter of Srimadopur
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..