Hindi News »Rajasthan »Sikar» Saraf Says In Rajasthan There Are So Many Deaths In Routine

सराफ बोले-राजस्थान में इतनी मौतें तो रूटीन में होती हैं, एसएमएस में रोज 35-40 मौत हो जाती हैं

भास्कर नेफतेहपुर आए स्वास्थ्य मंत्री से हड़ताल के दौरान हुई तीन दर्जन मौतों के बारे में पूछा तो-

Bhaskar News | Last Modified - Nov 14, 2017, 08:56 AM IST

  • सराफ बोले-राजस्थान में इतनी मौतें तो रूटीन में होती हैं, एसएमएस में रोज 35-40 मौत हो जाती हैं

    फतेहपुर(सीकर)।स्वास्थ्य मंत्री कालीचरण सराफ सोमवार को कुलदेवी के दर्शन करने सपरिवार फतेहपुर आए। स्वास्थ्य मंत्री ने इस दौरान दैनिक भास्कर से बातचीत की। सेवारत डॉक्टरों की हड़ताल में तीन दर्जन मरीजों की मौत होने के सवाल पर उन्होंने कहा कि राजस्थान में इतनी मौतें रूटीन में होती है। एसएमएस में रोज 35-40 मौतें हो जाती है। क्योंकि वहां मरीज अंतिम स्टेज पर पहुंचने पर इलाज के लिए लाया जाता है। तीन दर्जन मौतों को हड़ताल से नहीं जोड़ सकते। सरकार ने इलाज के लिए मजबूत वैकल्पिक व्यवस्था की थी। निजी, सेना, बीएसफ, रेलवे के अस्पतालों में इलाज किया।

    तिवाड़ी खुद समझदार है... :

    - सराफ ने कहा कि प्रदेश में डाॅक्टरों और पेरामेडिकल स्टाफ की कमी है। हमें अभी तीन हजार डाॅक्टरों की आवश्यकता है। घनश्याम तिवाड़ी के विद्रोही तेवर के सवाल पर उन्होंने कहा कि तिवाड़ी वरिष्ठ कार्यकर्ता हैं। वे खुद समझदार है और उन्हें स्वयं सोचना है कि उन्हें क्या करना है। कार्यकर्ता पार्टी के साथ रहेगा वो पार्टी का रहेगा।
    - सराफ ने कहा कि डॉक्टर धरती के भगवान हैं। उनकी हड़ताल गलत थी। हम पहले दिन जो समझौता कर रहे थे वो ही सात दिन बाद हुआ है। वे हठधर्मी बने हुए थे। सराफ ने एक सवाल के जवाब में कहा कि डॉक्टर मानव धर्म समझें। अतिरिक्त ड्यूटी देकर हड़ताल की भरपाई करें। हड़ताल पर गए डॉक्टरों पर कार्रवाई के सवाल पर उन्होने कहा कि लोकतंत्र में समझौते के बाद कार्रवाई की परंपरा नहीं रही है।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Sikar

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×