--Advertisement--

15 हजार गौरव सेनानियों की समस्याओं के समाधान के लिए 28 स्टॉल्स, सैनिक दिखाएंगे पैरा मोटर करतब

गौरव सेनानी रैली शनिवार को सुबह नौ से शाम 5 बजे तक जिला खेल स्टेडियम में होगी।

Danik Bhaskar | Nov 25, 2017, 09:15 AM IST

सीकर। गौरव सेनानी रैली शनिवार को सुबह नौ से शाम 5 बजे तक जिला खेल स्टेडियम में होगी। इसमें सेना की ओर से 15 हजार गौरव सेनानियों और उनके परिजनों की समस्याओं के समाधान के लिए 28 स्टॉल्स लगाई हैं। इसमें से सात जिला प्रशासन की है। कार्यक्रम में सीकर, चिड़ावा, झुंझुनूं से भी पूर्व सैनिक भाग लेंगे। मुख्य अतिथि विशिष्ट सेवा मैडल जनरल कमांडिंग ऑफिसर लेफ्टीनेंट पीसी थीमैया विशिष्ट अतिथि सैनिक कल्याण बोर्ड अध्यक्ष प्रेमसिंह बाजौर होंगे। कार्यक्रम में गैलेंटरी अवार्ड में 130 मेडल विजेता, शहीद वीरांगनाओं अवार्ड विजेता को सम्मानित किया जाएगा। 20 युद्ध विकलांग का सम्मान पूर्व सैनिकों के 18 जरूरतमंद बच्चों को स्कॉलरशिप दी जाएगी। इसमें से तीन बच्चों को लैपटॉप मिलेंगे। कार्यक्रम में करतब दिखाने आगरा से आई सैनिकों की टीम ने पूर्वाभ्यास से पहले मैदान का जायजा लिया। इसमें उन्होंने 22 हजार फीट की ऊंचाई से स्काई डाइविंग करने से इनकार कर दिया। क्योंकि जिला खेल मैदान के ऊपर से हाई टेंशन लाइन गुजर रही है। सैन्य अधिकारियों ने भी स्काई डाइविंग नहीं करवाने का फैसला लिया है। जिला सैनिक कल्याण अधिकारी कर्नल एसएम सैनी ने बताया कि हाई टेंशन लाइन की सप्लाई को पांच से छह घंटे से रींगस होकर डायवर्ट किया जाएगा।

इसतरह होंगे कार्यक्रम : सुबह9 से 10 बजे के बीच पूर्व सैनिकों और उनके परिवार के लोगों का आगमन होगा। इसके बाद 10.15 से 11.30 बजे तक सैन्य प्रदर्शन होगा। सुबह 11. 35 से दोपहर 12 बजे तक अतिथियों का उद्बोधन होगा। दोपहर 12 से 12.30 बजे तक गैलेंटरी अवार्ड, वीर नारी, वीरांगनाओं और गौरव सेनानियों का सम्मान होगा। इसके बाद दोपहर 12.30 से एक बजे तक टी पार्टी होगी।

1. मैंखेल स्टेडियम तक कैसे पहुंच सकता हूं?
-स्टेडियम में तीन प्रवेश द्वार बनाए हैं। सबसे पहले तीसरे द्वार से खेल मैदान में प्रवेश दिया जाएगा। यहां पर जिला सैनिक कल्याण कार्यालय की स्टॉल लगी हुई है। यहां पर आना होगा। समस्याओं के अनुसार, यहां से आगे की स्टॉल पर भेजा जाएगा। पूर्व सैनिक उनके परिवारों को सेना की तरफ से जारी पहचान पत्र से ही प्रवेश मिलेगा। अगर एक्स फौजी का पहचान पत्र है तो उसे दिखाकर भी वह प्रवेश पा सकता है, लेकिन इसके जरिए परिवार के लोगों को प्रवेश नहीं मिलेगा।

2. मैंचिड़ावा, नीमकाथाना जैसे दूर गांव में रहता हूं, मुझे क्या सुविधा मिलेगी?
-सेना ने पूर्व सैनिक उनके परिवार को रैली तक लाने के लिए 80 गाड़ियां लगाई है। यह गाड़ियां, उन स्थानों पर जाएगी, जहां सेना की टीम ने पहले जनसंपर्क किया। कार्यक्रम के बाद इन्हें यहीं गाड़ियां वापस घर तक छोड़ेगी। अगर आप तक गाड़ी नहीं पहुंची है तो खुद भी पहुंच सकते हैं।
3. अगरमुझे कोई बीमारी है तो क्या मेरी यहां पर सुनवाई होगी?
-सेना की ओर से 12 स्टॉल्स चिकित्सा शिविर की लगाई गई है। इसमें विशेषज्ञ चिकित्सकों से दंत, त्वचा, ईएनटी, शल्य नेत्र जांच होगी। इसके अलावा वहीं पर एक्सरे और अन्य जांचें भी होगी। माइनर ऑपरेशन थियेटर भी बनाया गया है। इसके अलावा मोहता ट्रस्ट के कर्नल हेम सिंह आयुर्वेदिक इलाज करेंगे। जांच रिपोर्ट भी हाथों-हाथ दी जाएगी। यहां पर निशुल्क दवाएं भी दी जाएगी।
4.यहांकिन-किन परेशानियों के बारे में सुनवाई होगी?
-यहां सेना के अलावा एसबीआई, सामाजिक कल्याण विभाग, बिजली विभाग, कृषि विभाग, भारतीय डाक विभाग, रिक्रूटिंग ऑफिस हैडक्वार्टर जयपुर आदि की स्टॉल्स लगाई गई है। इसमें उनको पीपीईओ, डिस्चार्ज बुक, पहचान पत्र और बैंक पास बुक लेकर आनी होगी। इसके अलावा जिला प्रशासन स्तर की समस्या का समाधान भी वहीं पर किया जाएगा।

(जैसा कि डिप्टी कमांडर कर्नल महेंद्र सिंह राठौड़ ने बताया)

गैलेंटरी अवार्ड से होंगे सम्मानित : जिलेमें 130 को गैलेंटरी सम्मानित किया जाएगा। जिनमें दो अशोक चक्र सम्मानित पूर्व सैनिक, दो महावीर चक्र से सम्मानित पूर्व सैनिक, एक कीर्ति चक्र से सम्मानित पूर्व सैनिक, छह वीर चक्र से सम्मानित पूर्व सैनिक, सात शौर्य चक्र से सम्मानित, 34 सेना मेडल विजेता, सैनिक शहीद वीरांगनाएं शामिल हैं। इनके अलावा 20 युद्ध विकलांगों को भी सम्मानित किया जाएगा।

सेना की पैरामोटर
स्टेडियम में सवा घंटे तीन सैनिकों की टीम कार्यक्रम में पैरा मोटर का प्रदर्शन भी करेगी। इसमें हजारों फीट की ऊंचाई से यह करतब दिखाएंगे। पुष्पक नाम की टीम यह करतब दिखाएगी। इसमें सूबेदार विजय सिंह 5 पैरा, हवलदार रोहित कुमार 5 पैरा नायक सुखविंदर सिंह 17 पैरा फील्ड प्रदर्शन करेंगे। पैरा मोटर का वजन 32 किलोग्राम है। इस दौरान कई सांस्कृतिक कार्यक्रम भी प्रस्तुत किए जाएंगे।