--Advertisement--

मर्डर / शादी का दबाव बनाया तो रिश्ते में भतीजे ने कर दी बुआ की हत्या, आत्महत्या का रूप देने को शव पेड़ से लटकाया



  • पहले साथ बैठकर शराब पी, उसके बाद चुन्नी से हाथ बंाधकर गला दबा दिया
Danik Bhaskar | Sep 12, 2018, 03:55 PM IST

लताना/चिड़ावा. किठाना में चिड़ासन रोड पर खेत में मंगलवार अल सुबह 18 वर्षीय पूजा का शव संदिग्धावस्था में मिला। वह सुलताना के निजी कॉलेज में पढ़ती थी। उसका शव घर के पीछे खेत में पेड़ से लटका मिला। हाथ पीठ के पीछे चुन्नी से बंधे थे और गले पर रस्सी, सीने और दाहिने कान के पास चोट के निशान थे। चिड़ावा के सरकारी अस्पताल में मेडिकल बोर्ड ने पोस्टमार्टम किया।

 

शादी के लिए दबाव बना रही थी पूजा

 

पूजा के पिता ने हत्या का मामला दर्ज करवाया। रिपोर्ट में नजदीकी रिश्तेदार किठाना के नितेश पर हत्या करने का शक जताते हुए बताया कि नितेश ने मुझे धमकी दे रखी थी। पुलिस ने कुछ घंटे बाद आरोपी को सूरजगढ़ क्षेत्र से पकड़ लिया। आरोपी ने रिश्ते में बुआ लगने वाली पूजा की गला दबाकर हत्या करना कबूल लिया। पुलिस पूछताछ में बताया कि पूजा शादी के लिए दबाव बना रही थी। वह बाइक से सतनाली जाने की फिराक में था। सुलताना पुलिस चौकी प्रभारी एसआई वीरेंद्र यादव मौके पर पहुंचे। बुहाना डीएसपी रामप्रकाश मीणा और चिड़ावा सीआई संदीप शर्मा भी किठाना पहुंचे। पुलिस ने युवती के परिजनों और पूर्व सरपंच से मामले की जानकारी ली।

 

पिता को पेड़ लटकी मिली बेटी

 

झुंझुनूं से आई एफएसएल टीम ने घटनास्थल और युवती के घर से साक्ष्य जुटाए। घर के पीछे खेत में पूजा को घसीटने के निशान मिले। एफएसएल टीम और चिड़ावा पुलिस ने फोटोग्राफी करवाई। दीवार के पास एक कंबल, करीब दो फीट लंबी पुरानी चेन की रस्सी, देशी शराब का आधा खाली पव्वा व जमीन पर नमकीन बिखरी मिली। पूजा की एक चप्पल घर के पीछे और दूसरी पेड़ के पास मिली। मृतका के पिता ने पुलिस को बताया कि सुबह पांच बजे लघुशंका करने मकान के पिछवाड़े में गया तो शीशम के पेड़ से पूजा को लटकते पाया। परिवारजनों को जगाया और शव को उतरवाया। पूर्व सरपंच उम्मेद सिंह को सूचना दी, जिन्होंने पुलिस को बताया। पूजा तीन भाइयों की इकलौती बहन थी।

 

आरोपी रात डेढ़-दो बजे आया पूजा के घर, हत्या के बाद शव को पेड़ तक घसीट लाया और लटका गया

 

आरोपी नितेश ने पुलिस को बताया कि पूजा के साथ उसके करीब सात-आठ वर्ष से नाजायज संबंध थे। वह शादी के लिए भगा कर ले जाने का दबाव बना रही थी। सोमवार रात करीब 11 बजे वह पूजा से मिलने उसके घर के पिछवाड़े गया तो उन दोनों को पूजा की भाभी ने देख लिया तो वापस चला गया। रात डेढ़-दो बजे वापस उसके घर के पिछवाड़े पहुंचा। वहां पूजा के साथ बैठ कर शराब पी। पूजा ने उसे शादी के लिए भगा कर ले जाने या फिर मार डालने की बात कही। नितेश ने मजाक में पूजा के हाथ पीठ के पीछे चुन्नी से बांध दिए और गला दबा दिया। गला दबने से पूजा अचेत हो गई। उसने आत्महत्या का रूप देने के लिए उसे घसीटकर पेड़ तक ले गया और चुन्नी से पेड़ के शव को लटका दिया।

 

परिजनों को नींद की गोलियां खिला नितेश से मिलती थी पूजा 

 

नितेश से मिलने के लिए पूजा अपने परिवार के लोगों को खाने में नींद की गोलियां डाल कर खिलाती थी। नितेश ने पुलिस को बताया कि नींद की ये गोलियां वह सुलताना के मेडिकल स्टोर से लाकर पूजा को देता था। ये डेढ़ वर्ष से जारी था। छह माह पहले पूजा के एक भाई ने नितेश को रात में बहन के कमरे में देख लिया था। वह नितेश को मारने के लिए कुल्हाड़ी लेने दौड़ा तो पूजा ने नितेश को मौके से भगा दिया। नितेश ने बताया कि वह सोमवार सुबह टाइलों की गाड़ी खाली करवाने नारनौल गया था। 

--Advertisement--