तंज / कांग्रेस ने 70 साल तक लोकतंत्र जिंदा रखा, तभी नरेंद्र मोदी आज देश के प्रधानमंत्री बने: गहलाेत

सीकर नगर परिषद के नवनिर्मित भवन का लोकार्पण करते मुख्यमंत्री अशोक गहलोत। सीकर नगर परिषद के नवनिर्मित भवन का लोकार्पण करते मुख्यमंत्री अशोक गहलोत।
X
सीकर नगर परिषद के नवनिर्मित भवन का लोकार्पण करते मुख्यमंत्री अशोक गहलोत।सीकर नगर परिषद के नवनिर्मित भवन का लोकार्पण करते मुख्यमंत्री अशोक गहलोत।

  • प्रधानमंत्री बनने के बाद वे पूछ रहे है कि कांग्रेस ने अपने राज में क्या किया

दैनिक भास्कर

Oct 13, 2019, 01:51 AM IST

सीकर. मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि कांग्रेस ने देश में 70 साल तक लोकतंत्र को जिंदा रखा। इस कारण नरेन्द्र मोदी देश के प्रधानमंत्री बने। प्रधानमंत्री बनने के बाद वे पूछ रहे है कि कांग्रेस ने अपने राज में क्या किया। गहलोत शनिवार को सीकर नगर परिषद के नवनिर्मित भवन का लोकार्पण करने के बाद कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे। सीएम गहलोत ने कहा कि सरकार पारदर्शी और जवाबदेह प्रशासन के लिए काम कर रही है। इससे पहले कार्यकाल में भी खूब काम किए थे। 


बैठकों में वे खुद हर एमएलए और एमपी से पूछते थे कि विकास का कोई काम हो ताे बताओ। विधायक काम बताते हुए थक गए लेकिन वे काम करते नहीं थके। शेखावाटी में पेयजल व सिंचाई के मुद्दे पर गहलोत ने कहा कि हरियाणा से पानी को लेकर चंडीगढ़ में दो बार बैठक हुई है। पानी आएगा तो पेयजल और सिंचाई दोनों के काम आएगा। पूर्ववर्ती वसुंधरा सरकार को घेरते हुए गहलोत ने कहा कि भाजपा सरकार ने छह महीने में बिना बजट के ही कामों की घोषणा कर प्रारंभ कर दिए। भामाशाह योजना में करप्शन था। अब आयुष्मान भारत योजना लागू की है।

 

उन्होंने कहा कि प्रदेश में आधारभूत ढांचे काे मजबूत कर रहे है। सरकार सड़क, शिक्षा और पानी पर विशेष जोर है। हर जिला मुख्यालय पर अच्छे अस्पताल व काॅलेज अाैर यूआईटी होने ही चाहिए। प्रदेश में सड़कों की हालत ज्यादा ठीक नहीं है। इसके लिए भी काम शुरू है। सरकार बनने के बाद पहले बजट में पूरे प्रदेश में 50 नए कॉलेज खोले गए है। जिले के विधायकों की मांगों का जवाब देते हुए गहलोत ने कहा कि नवलगढ़ रोड की डीपीआर तैयार है। जल्द ही बरसाती पानी के निकासी की व्यवस्था होगी।

 

वहीं ऑडिटोरियम हर जिला मुख्यालय पर बनने चाहिए। स्वायत्त शासन मंत्री शांति धारीवाल ने मोदी सरकार पर हमला करते हुए कहा कि मज्मेशाही का जमाना आ गया है। तालियां बजवा रहे हैं और लोकतंत्र का मजाक बनाने वाले आज राज कर रहे हैं। देश में कई प्रधानमंत्री बने है लेकिन ऐसी भाषा का प्रयोग करते किसी को नहीं देखा। समारोह को शिक्षा राज्यमंत्री गोविंद डाेटासरा, पूर्व मंत्री राजेन्द्र पारीक मौजूद रहे।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना