पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

परिजन फसल काटने गए थे, झोपड़े में आग लग गई; बछड़ी के साथ खेल रहे 2 सगे भाई समेत चार मासूम जिंदा जले

5 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
लोग जब तक मौके पर पहुंचे तब तक झोंपड़ा पूरी तरह जल चुका था।
  • मरने वाले तीन से पांच साल के बच्चों में दो सगे भाई, एक चचेरी बहन व एक बुआ की बेटी है
  • सरदारशहर की ढाणी कालेरा में मंगलवार दोपहर की घटना, कलेक्टर-एसपी ने मदद का भरोसा दिया
Advertisement
Advertisement

सरदारशहर. गांव ढाणी कालेरा में मंगलवार दोपहर एक घर में झोपड़े में आग लगने पर उसमें बछड़ी के साथ खेल रहे चार मासूम जिंदा जल गए। घटना के समय परिवार के लोग खेत में फसल काटने गए हुए थे। घर पर एक बुजुर्ग दादी थी, जो अंदर थी। मरने वाले तीन से पांच साल के बच्चों में दो सगे भाई, एक चचेरी बहन व एक बुआ की बेटी है। मासूम बच्चों की मौत की खबर मिलने के बाद खेत से घर पहुंचे परिजन बेसुध से हो गए। गांव में भी माहौल गमगीन हो गया। 

जानकारी के अनुसार आशाराम भाकर के 6 बेटों ने एक ही आंगन में अलग-अलग घर बना रखे हैं। परिवार के लोग मंगलवार सुबह खेत में सरसों की फसल काटने चले गए। पीछे आशाराम की पत्नी व बच्चे घर पर थे। नानूराम के दो बेटे, रामलाल की एक बेटी व लालचंद की एक दोहिती दोपहर में झोपड़े में बछड़ी के साथ खेल रहे थे। इसी दौरान झोपड़े में आग लग गई।

ग्रामीण पहुंचे तब तक जल चुकी थी झोपड़ी
आग लगने का पता चलने पर ग्रामीण मौके पर पहुंचे, तब तक झोपड़ा पूरी तरह जल चुका था। लालचंद पुत्र आशाराम भाकर ने पुलिस को घटना की जानकारी दी। इसके बाद  सूचना मिलते ही एसएचओ महेंद्रदत्त शर्मा पुलिस टीम के साथ दमकल व 108 एंबुलेंस लेकर मौके पर पहुंच गए। पुलिस ने ग्रामीणों के कहने पर चारों बच्चों का पोस्टमार्टम गांव में ही कराकर शव परिजनों को सौंप दिए।

कलेक्टर ने हर संभव मदद का आश्वासन दिया
घटना की सूचना मिलने के बाद कलेक्टर संदेश नायक, एसपी तेजस्वनी गौतम भी चूरू से मौके पर पहुंचे और पीड़ित परिवार को दिलासा दी। वहीं डीएसपी गिरधारीलाल शर्मा, एसडीएम रीना छींपा, तहसीलदार सुशीलकुमार सैनी, प्रधान सत्यनारायण, कांग्रेस के अनिल शर्मा भी मौके पर पहुंच गए। कलेक्टर नायक ने परिवार को हर संभव सहायता देने का आश्वासन दिया।

भवन निर्माण में जुटे किशनाराम धुआं उठता देखकर पहुंचे, तब तक जल चुका था झोपड़ा
जानकारी के अनुसार गांव में भवन निर्माण में जुटे मिस्त्री किशनाराम भाकर ने धुंआ उठता देखा। वह काम छोड़कर मौके पर भाग कर आया, लेकिन तब तक झोपड़ा जल चुका था। उसके साथ ही काम कर रहे मजदूर भी आए। किशनाराम ने अन्य ग्रामीणों को इसकी सूचना दी। इधर, जानकारी के अनुसार घर में बच्चों की 80 वर्षीय दादी अंदर थी। बताया जा रहा है कि उससे चला-फिरा नहीं जाता। वह घर के अंदर थी। बाहर झोपड़े में आग लग गई, लेकिन उसे पता नहीं चला। धुंआ उठता देख किशनाराम मौके पर पहुंचा, तो उसे घटना का पता चला।
 

बच्चों से खेल-खेल में माचिस की तीली जलने से आग लगने की आशंका
एसएचओ शर्मा के अनुसार पुलिस को दी गई रिपोर्ट में बताया कि 5 वर्षीय अजय व 3 वर्षीय देवाराम पुत्र नानूराम, 3 वर्षीय शिवानी पुत्री रामलाल निवासी ढाणी कालेरा और लालचंद की दोहिती 3 वर्षीय मनीषा पुत्री राजेश जाट निवासी कालू दोपहर में झोपड़े में बछड़ी के साथ खेल रहे थे। अचानक झोपड़े में आग लग गई, जिससे सभी जिंदा जल गए। बछड़ा भी जल गया। घटना के बाद ग्रामीणों की भीड़ लग गयी। ग्रामीणों द्वारा बताया जा रहा है कि बच्चों ने खेल-खेल में माचिस की तीली जला ली होगी, जिससे आग लग गई। बच्चे छोटे होने से बाहर नहीं निकल पाए और जिंदा जल गए। 

उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट व भाजपा प्रदेशाध्यक्ष पूनिया ने जताई संवेदना 
उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट ने ट्वीट किया कि सरदारशहर में आग लगने से हुए दर्दनाक हादसे में चार बच्चों की मृत्यु होना अत्यंत दुखद है। इस मुश्किल घड़ी में मेरी गहरी संवेदनाएं शोकाकुल परिजनों के साथ है। इसी तरह भाजपा प्रदेशाध्यक्ष सतीश पूनिया ने भी संवेदना जताई। ट्वीट किया कि 4 मासूमों के जिंदा जलने की हृदय विदारक दुर्घटना का समाचार अत्यंत पीड़ादायक है।

Advertisement
0

आज का राशिफल

मेष
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज पिछले समय से आ रही कुछ पुरानी समस्याओं का निवारण होने से अपने आपको बहुत तनावमुक्त महसूस करेंगे। तथा नजदीकी रिश्तेदार व मित्रों के साथ सुखद समय व्यतीत होगा। घर के रखरखाव संबंधी योजनाओं पर भ...

और पढ़ें

Advertisement