• Home
  • Rajasthan
  • Sikar
  • Junior Assistant arrested by acb in jhunjhunu taking bribe of five thousand rupees
--Advertisement--

35 हजार रुपए की रिश्वत मांगी और 5000 लेते एसीबी की गिरफ्त में आया जूनियर असिस्टेंट

झुंझुनूं जिले के सूरतगढ़ जिले में एसीबी ने मंगलवार को एक जूनियर असिस्टेंट को 5000 रुपए की रिश्वत लेते गिरफ्तार कर लिया।

Danik Bhaskar | Jul 17, 2018, 03:38 PM IST

- सूरतगढ़ जिले में ग्राम विकास अधिकारी कार्यालय में तैनात है आरोपी

- सेवानिवृत्त ग्राम सेवक के बेटे से मांगी गई थी 35 हजार रुपए की रिश्वत

झुंझुनूं। जिले के सूरतगढ़ जिले में एसीबी ने मंगलवार को एक जूनियर असिस्टेंट को 5000 रुपए की रिश्वत लेते गिरफ्तार कर लिया। रिश्वत की यह रकम एक रिटायर्ड ग्राम सेवक से ली गई थी। आरोपी ने परिवादी से उसके सेवानिवृत्ति पिता के परिलाभों का बिल बनाकर भुगतान दिलवाने के लिए 35 हजार रुपए की रिश्वत मांगी थी। यह कार्रवाई झुंझुनूं एसीबी के पुलिस निरीक्षक हवासिंह के नेतृत्व में गठित टीम ने की गई।

सीआई हवा सिंह ने बताया कि गिरफ्तार आरोपी रविश कुमार (32) हरियाणा के नारनौल का रहने वाला है। वह झुंझुनूं जिले के बुहाना पंचायत समिति के विकास अधिकारी कार्यालय में जूनियर असिस्टेंट है। उसके खिलाफ सूरजगढ़, झुंझुनूं निवासी 22 वर्षीय राकेश यादव ने एसीबी में शिकायत दर्ज करवाई थी।

रिटायर्ड ग्राम सेवक से मांगी थी 35 हजार रुपए की रिश्वत

- एसीबी के मुताबिक परिवादी राकेश ने बताया कि उसके पिता जगमोहन लाल यादव सेवानिवृत्त ग्राम सेवक है। उनके सेवानिवृत्ति के परिलाभों का बिल बनाकर भुगतान दिलवाने के ग्राम विकास अधिकारी कार्यालय में आवेदन किया था। इस काम को करने की एवज में कनिष्ठ सहायक रविश कुमार ने 35 हजार रुपए की रिश्वत मांगी थी। शिकायत का सत्यापन किया गया तब रविश कुमार ने 5000 रुपए देने को कहा।

शिकायत के चौबीस घंटे के भीतर पकड़ा गया घूसखोर जूनियर असिस्टेंट

एसीबी ने सोमवार को शिकायत के सत्यापन के बाद मंगलवार को ट्रेप की कार्रवाई रची। मंगलवार को परिवादी राकेश यादव रिश्वत की रकम लेकर आरोपी रविश कुमार के पास पहुंचा। जहां रिश्वत की रकम लेते ही एसीबी टीम ने रविश को रंगे हाथों गिरफ्तार कर लिया। एसीबी की कार्रवाई से महकमे में हड़कंप मच गया। उससे पूछताछ की जा रही है।