• Hindi News
  • Rajasthan
  • Sikar
  • देश में लोकतंत्र की हत्या किसी भी कीमत पर बर्दाश्त नहीं: पायलट
--Advertisement--

देश में लोकतंत्र की हत्या किसी भी कीमत पर बर्दाश्त नहीं: पायलट

Dainik Bhaskar

May 18, 2018, 05:05 AM IST

Sikar News - कर्नाटक चुनाव के नतीजों के बाद केंद्र सरकार की ओर से भाजपा सरकार बनाने को कांग्रेस ने लोकतंत्र की हत्या करार दिया...

देश में लोकतंत्र की हत्या किसी भी कीमत पर बर्दाश्त नहीं: पायलट
कर्नाटक चुनाव के नतीजों के बाद केंद्र सरकार की ओर से भाजपा सरकार बनाने को कांग्रेस ने लोकतंत्र की हत्या करार दिया है। इसके विरोध में गुरुवार को कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष सचिन पायलट के नेतृत्व में जयपुर के कलेक्ट्रेट सर्किल पर प्रदर्शन किया गया। साथ ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का पुतला दहन किया गया। इस दौरान कांग्रेसियों ने जमकर नारेबाजी कर आक्रोश व्यक्त किया।

पायलट ने कहा कि कर्नाटक में जिस तरह से भाजपा सरकार ने लोकतंत्र का गला घोटने का काम किया है, वह ना सिर्फ निंदनीय है, बल्कि जनादेश का अपमान भी है। ये स्पष्ट हो गया है कि भाजपा की प्राथमिकता सत्ता में बने रहना है, जिसके लिए देश के संविधान के साथ खिलवाड़ करने से भी नहीं डरे। भारत विश्व का सबसे बड़ा लोकतांत्रिक देश है, जिसके संविधान का सम्मान दुनियाभर में किया जाता है, लेकिन इसे नुकसान पहुंचाने का प्रयास किया जा रहा है। गोवा, मणिपुर और मिजोरम में कांग्रेस सबसे बड़ी पार्टी के रूप में उभरकर आई थी, लेकिन वहां सबसे बड़े गठबंधन को सरकार बनाने का आमंत्रण दिया। इसके विपरीत कर्नाटक में कांग्रेस और जेडीएस का गठबंधन सबसे बड़ा होने के बावजूद भाजपा को ना सिर्फ़ सरकार बनाने के लिए आमंत्रित किया गया, बल्कि बिना बहुमत साबित किए मुख्यमंत्री को शपथ भी दिला दी गई। कांग्रेस भाजपा को इस तरह लोकतंत्र की हत्या नहीं करने देगी। इसका विरोध किया जाएगा। प्रदर्शन के दौरान जिलाध्यक्ष प्रतापसिंह खाचरियावास, पूर्व सांसद महेश जोशी, पूर्व मंत्री बृजकिशोर शर्मा, मीडिया चेयरपर्सन अर्चना शर्मा, ज्योति खंडेलवाल, विक्रमसिंह शेखावत, सुशील शर्मा, रुपेशकांत व्यास, पुष्पेंद्र भारद्वाज सहित बड़ी संख्या में कांग्रेसी मौजूद रहे।

पॉलिटिकल रिपोर्टर| जयपुर

कर्नाटक चुनाव के नतीजों के बाद केंद्र सरकार की ओर से भाजपा सरकार बनाने को कांग्रेस ने लोकतंत्र की हत्या करार दिया है। इसके विरोध में गुरुवार को कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष सचिन पायलट के नेतृत्व में जयपुर के कलेक्ट्रेट सर्किल पर प्रदर्शन किया गया। साथ ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का पुतला दहन किया गया। इस दौरान कांग्रेसियों ने जमकर नारेबाजी कर आक्रोश व्यक्त किया।

पायलट ने कहा कि कर्नाटक में जिस तरह से भाजपा सरकार ने लोकतंत्र का गला घोटने का काम किया है, वह ना सिर्फ निंदनीय है, बल्कि जनादेश का अपमान भी है। ये स्पष्ट हो गया है कि भाजपा की प्राथमिकता सत्ता में बने रहना है, जिसके लिए देश के संविधान के साथ खिलवाड़ करने से भी नहीं डरे। भारत विश्व का सबसे बड़ा लोकतांत्रिक देश है, जिसके संविधान का सम्मान दुनियाभर में किया जाता है, लेकिन इसे नुकसान पहुंचाने का प्रयास किया जा रहा है। गोवा, मणिपुर और मिजोरम में कांग्रेस सबसे बड़ी पार्टी के रूप में उभरकर आई थी, लेकिन वहां सबसे बड़े गठबंधन को सरकार बनाने का आमंत्रण दिया। इसके विपरीत कर्नाटक में कांग्रेस और जेडीएस का गठबंधन सबसे बड़ा होने के बावजूद भाजपा को ना सिर्फ़ सरकार बनाने के लिए आमंत्रित किया गया, बल्कि बिना बहुमत साबित किए मुख्यमंत्री को शपथ भी दिला दी गई। कांग्रेस भाजपा को इस तरह लोकतंत्र की हत्या नहीं करने देगी। इसका विरोध किया जाएगा। प्रदर्शन के दौरान जिलाध्यक्ष प्रतापसिंह खाचरियावास, पूर्व सांसद महेश जोशी, पूर्व मंत्री बृजकिशोर शर्मा, मीडिया चेयरपर्सन अर्चना शर्मा, ज्योति खंडेलवाल, विक्रमसिंह शेखावत, सुशील शर्मा, रुपेशकांत व्यास, पुष्पेंद्र भारद्वाज सहित बड़ी संख्या में कांग्रेसी मौजूद रहे।

X
देश में लोकतंत्र की हत्या किसी भी कीमत पर बर्दाश्त नहीं: पायलट
Astrology

Recommended

Click to listen..