Hindi News »Rajasthan »Sikar» चोरियाें का खुलासा नहीं होने पर 2 घंटे बंद रहा अलसीसर

चोरियाें का खुलासा नहीं होने पर 2 घंटे बंद रहा अलसीसर

पिछले चार-पांच माह से चोरों के निशाने पर बने अलसीसर के लोगों के धैर्य का बांध सोमवार को टूट गया। ग्रामीणों ने पुलिस...

Bhaskar News Network | Last Modified - Apr 17, 2018, 06:55 AM IST

पिछले चार-पांच माह से चोरों के निशाने पर बने अलसीसर के लोगों के धैर्य का बांध सोमवार को टूट गया। ग्रामीणों ने पुलिस की कार्यशैली के खिलाफ कस्बे को बंद रखकर विरोध जताया। दो घंटे दुकानें बंद रखी। इस दौरान हुई सभा में लोगों ने पुलिस को पांच दिन में वारदातों का खुलासा करने का अल्टीमेटम दिया। अन्यथा आंदोलन को तेज करने की चेतावनी दी।

लोगों ने कहा कि कस्बे में चोर बेखौफ वारदातों को अंजाम दे रहे हैं। आमजन में भय है। गत 27 मार्च को चोरों ने सुभाष गुप्ता के घर में सेंधमारी कर नए तरीके से चोरी की। दो कमरों में सो रहे परिवार के सदस्यों के कमरों की कुंडी बाहर से बंद कर लाखों रुपए के माल पर हाथ साफ कर गए। चोरी करने के तरीके से साफ जाहिर है कि उनके साथ किसी स्थानीय व्यक्ति की भूमिका भी है। उनको पता था कि परिवार के लोग किस कमरे में सो रहे थे और किस कमरे में गहने व नकदी रखी हुई थी।

पुलिस के खिलाफ प्रदर्शन, 5 दिन में खुलासा नहीं होने पर आंदोलन तेज करने की चेतावनी

चार महीनों मेंे अलसीसर में चोरी की 10 वारदात, एसपी के नाम ज्ञापन दिया

पुलिस के विरोध में दो घंटे बंद रही अलसीसर में दुकानें।

एसपी के नाम ज्ञापन सौंपते ग्रामीण।

अलसीसर में चार माह के दौरान चोरी की 10 घटनाएं हुई। 29 नवंबर को निर्माणाधीन होटल से लाखों का फर्नीचर चोरी हो गया था। 14 फरवरी को रामाकांत शर्मा के घर में चोर घुसे लेकिन मालिक के बरसों से बाहर होने के कारण कुछ नहीं मिला। 15 फरवरी को पूर्णमल के घर से 5 लाख के गहने ले गए। 16 फरवरी को विश्वनाथ शर्मा के फार्म हाउस से सौर ऊर्जा की प्लेटें चोरी चली गईं। 17 मार्च को मुरारीलाल गुप्ता की दुकान से 15 हजार रुपए ले गए। 20 मार्च को ट्रक से 200 लीटर डीजल चोरी हो गया। तीन-चार वारदातों में मामले दर्ज नहीं हुए। इनके विरोध में ग्रामवासियों ने अटल सेवा केंद्र पर बैठक की। एएसआई मंगतुराम को एसपी के नाम का ज्ञापन सौंपकर चोरी का खुलासा करने की मांग की। व्यापार मंडल अध्यक्ष अरुण केडिया ने बताया कि कलेक्टर व एसपी से मुलाकात की जाएगी।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Sikar

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×