• Home
  • Rajasthan
  • Sikar
  • नगर परिषद के नए भवन में कचरा डालने का विरोध, सभापति बोले- क्या आपके घर डलवा दूं
--Advertisement--

नगर परिषद के नए भवन में कचरा डालने का विरोध, सभापति बोले- क्या आपके घर डलवा दूं

लोगों के विरोध के दौरान नगर परिषद सभापति जीवण खां ने हाथ जोड़कर लोगों को समझाने की कोशिश भी की और बाद में वे विवादित...

Danik Bhaskar | May 18, 2018, 07:05 AM IST
लोगों के विरोध के दौरान नगर परिषद सभापति जीवण खां ने हाथ जोड़कर लोगों को समझाने की कोशिश भी की और बाद में वे विवादित बयान दे गए।

एक साल से डाला जा रहा है कचरा, लोगों ने विरोध जताया तो सभापति भड़के

भास्कर संवाददाता | सीकर

नगर परिषद के नवनिर्माणाधीन भवन के सामने खाली जमीन पर परिषद प्रशासन करीब एक साल से पूरे शहर का कचरा डाल रहा है। गुरुवार को सफाई कर्मियों के चिकित्सा शिविर में सभापति जीवण खां आए तो कॉलोनीवासियों ने यहां कचरा नहीं डालने के लिए वार्ता की। इस पर सभापति महिलाओं और आमजन से उलझ गए और कहा कि यह मेरी जगह नहीं है, कचरा क्या आपके घर डालूं। मैं तो वन विभाग के अधिकारियों व सफाई कर्मियों के हाथ जोड़कर कचरा डलवा रहा हूं। आप लोगों को ज्यादा परेशानी है तो कलेक्टर के पास चले जाओ। कचरा तो यहीं डाला जाएगा।

परिषद के नए भवन में सफाई कर्मियों का चिकित्सा शिविर चल रहा था। इसमें सभापति जीवण खां आए हुए थे। इस दौरान वार्ड 25, 27 व 28 के तिलक नगर, अशोक विहार, देवीपुरा कोठी, इंद्रा कॉलोनी, संतोषी माता मंदिर, अंबेडकर सर्किल के आसपास के निवासी कार्यक्रम में आकर सभापति से नए भवन में कचरा डालने का विरोध करने लगे। निवासियों ने कहा कि परिषद भवन को कचरागाह बना दिया है, आसपास के क्षेत्र में मौसमी बीमारियां पनप रही हैं। दिनभर बदबूभरा माहौल रहता है। बेसहारा पशुओं का जमावड़ा लगा रहता है। बारिश में बदबू और तेज हो जाती है। स्नेहलता, सुमन बजाज, सविता अग्रवाल, कविता अग्रवाल, उषा रूपचंदका, विमल अग्रवाल, सचिन अग्रवाल, शमशाद हुसैन सहित तीन वार्डों के सैकड़ों लोग यहां कचरा डालने का विरोध करने लगे। इस पर सभापति ने महिलाओं से उलझते हुए कहा कि शहर का कचरा एकत्र करने के लिए हमारे पास जगह नहीं है। कचरा कहां डालें। कल से आप लोगों के क्षेत्र का घर-घर से कचरा संग्रहण नहीं करेंगे। मैं सफाई कर्मियों के साथ हूं। इस दौरान सफाई कर्मचारियों के नेता ने बीच में ही कहा कि आप हमारे कार्यक्रम को बिगाड़ना चाहते हो। इसके बाद कुछ ही देर में सभापति वहां से चले गए। क्षेत्र के महिला और पुरुषों ने सभापति के जाने के बाद प्रदर्शन किया और बहुत देर तक नारेबाजी की।

सुबह ही उठवा दिया कचरा, सफाई कर लगा दिया टैंट

सफाई कर्मियों के चिकित्सा शिविर के चलते नवनिर्माणाधीन भवन से सुबह ही कचरा उठवा लिया और भवन के सामने कनात लगवा दी गई। इससे गंदगी नहीं दिखे। लोगों को प्रदर्शन करते देख पूरे शहर का कचरा लाने वाले ऑटो टीपर व डंपरों को रोक दिया गया और सीधे डंपिंग यार्ड भेजा जाने लगा।