• Home
  • Rajasthan
  • Sikar
  • दूसरे जिलों में माल भेजने के लिए भी अब बनाना होगा ई-वे बिल
--Advertisement--

दूसरे जिलों में माल भेजने के लिए भी अब बनाना होगा ई-वे बिल

दूसरे जिले में माल भेजने वाले कारोबारियों को 50 हजार से ज्यादा कीमत का माल भेजने के लिए अब ई-वे बिल जनरेट करना होगा।...

Danik Bhaskar | May 18, 2018, 07:05 AM IST
दूसरे जिले में माल भेजने वाले कारोबारियों को 50 हजार से ज्यादा कीमत का माल भेजने के लिए अब ई-वे बिल जनरेट करना होगा। वाणिज्य कर विभाग 20 मई से पूरे प्रदेश में इंट्रा स्टेट ई-वे बिल लागू कर रहा है। अंतर जिला कारोबार के लिए ई-वे बिल लागू होने के बाद 50 किलोमीटर की दूरी के लिए यह बिल जनरेट करना पड़ेगा। विभाग के उपायुक्त विक्रम सिंह बारहठ ने बताया कि 15 अप्रैल को अंतरराज्यीय कारोबार के लिए ई-वे बिल लागू किया गया था। उसके बाद अब इसे पूरे राज्य में भी लागू किया जा रहा है। ई-वे बिल लागू हाेने के बाद कारोबारियों को अब माल परिवहन के लिए इंटर स्टेट ई-वे बिल की तर्ज पर ई-वे बिल जनरेट करना होगा। ई-वे बिल नहीं होने पर विभाग की ओर से कार्रवाई की जाएगी। ई-वे बिल जनरेट करने के बाद ही माल को प्रदेश के अंदर भेजा जा सकेगा। 50 किलोमीटर से अधिक दूरी के लिए माल ले जाने पर यह बिल आवश्यक होगा। बारहठ ने बताया कि एक जिले से दूसरे जिले में माल लाने व ले जाने पर ई-वे बिल दिखाना होगा। इसके लिए व्यापारी को ऑनलाइन ई-वे बिल जनरेट करना पड़ेगा।