• Home
  • Rajasthan
  • Sikar
  • आईएएस की तैयारी के लिए एनसीईआरटी की छठी से 12वीं तक की पुस्तकें पढ़ें
--Advertisement--

आईएएस की तैयारी के लिए एनसीईआरटी की छठी से 12वीं तक की पुस्तकें पढ़ें

भास्कर संवाद में गुरुवार को विद्यार्थियों ने कॉमर्स कॉलेज के एबीएसटी के असिस्टेंट प्रो. डॉ. सुरेश से कॅरिअर से...

Danik Bhaskar | May 18, 2018, 07:10 AM IST
भास्कर संवाद में गुरुवार को विद्यार्थियों ने कॉमर्स कॉलेज के एबीएसटी के असिस्टेंट प्रो. डॉ. सुरेश से कॅरिअर से संबंधित सवाल पूछे। उन्होंने कहा कि विद्यार्थी एक से अधिक ऑप्शन के बारे में सोचेंगे तो सफलता नहीं मिलेगी। एक लक्ष्य को निर्धारित करके आगे बढ़ें और डेडिकेशन के साथ तैयारी करें। अपने लक्ष्य को पाने के लिए जीतोड़ मेहनत करें और उसका पीछा जब तक नहीं छोड़ें, तब तक कि सफलता नहीं मिल जाए। कभी भी छोटा लक्ष्य लेकर नहीं चलें, क्योंकि छोटा टारगेट आपको आलसी बना देता है। विद्यार्थी वर्तमान दौर में चल रही कड़ी प्रतिस्पर्धा के अनुसार तैयारी नहीं करते हैं। कोचिंग पर डिपेंड नहीं रहना चाहिए और सेल्फ स्टडी पर ज्यादा फोकस करें। कोचिंग में रटी-रटाई बातें ही पढ़ाई जाती हैं। इससे सिलेबस कंपलीट नहीं होता और छात्र ओवर कॉन्फिडेंस में ज्यादा तैयारी नहीं कर पाता। उन्होंने बताया कि हर चैप्टर के सवाल बनाते हुए नोट्स बनाने चाहिए। विद्यार्थियों ने डॉ. सुरेश से काफी सवाल किए। उनमें से कुछ महत्वपूर्ण सवालों के जवाब यहां दिए जा रहे हैं। अगले गुरुवार को भास्कर संवाद में आप अन्य एक्सपर्ट से कॅरिअर गाइडेंस ले सकेंगे।

बड़ा टारगेट लेकर चलें और सफलता मिलने तक लगातार लक्ष्य का पीछा करते रहें

 बीकॉम फाइनल ईयर की परीक्षा दी है। सीएस की एक्जीक्यूटिव परीक्षा क्लियर नहीं कर पा रहा हूं, आगे क्या करूं। विकास शर्मा, लोसल

 कॉमर्स में सीएस के अलावा भी आपके पास बहुत सारे ऑप्शन हैं। आप बैंकिंग सेक्टर में जा सकते हैं, इसके लिए अापको कम से कम एक साल अच्छी तैयारी करनी होगी। वहीं निजी कंपनियों में कॉमर्स से संबंधित बहुत अच्छी जॉब्स उपलब्ध हैं। शुरू में सैलरी कम मिलेगी, लेकिन वर्क नॉलेज के बाद आपको अच्छा पैकेज मिलेगा।

 बीए फाइनल की परीक्षा दी है। किस क्षेत्र में जाऊं कि अच्छी नौकरी मिल सके। भरतसिंह टाटनवा

 आप शिक्षा के क्षेत्र में जा सकते हैं, इसके लिए एमए के बाद नेट व पीएचडी कर सकते हैं। साथ ही ग्रेजुएशन के बाद आप अधिकांश गवर्नमेंट जॉब्स के लिए आवेदन कर सकते हैं, लेकिन एक लक्ष्य तय कर आगे बढ़ें।

 बीए कर ली, लॉ करना चाहता हूं, कहां से करूं व इसमें क्या स्कोप है। मंगलचंद, भुवाला-धोद

 लॉ करने के लिए आप राजस्थान विवि. के लॉ कॉलेज के साथ ही सीकर स्थित राजकीय विधि महाविद्यालय, दासा की ढाणी में अप्लाई कर सकते हैं। लॉ करने के बाद आप कोर्ट में प्रैक्टिस भी कर सकते हैं। वहीं लॉ के अभ्यर्थी के लिए निजी कंपनियों, फाइनेंस कंपनियों में लॉ एक्सपर्ट का अच्छा जॉब मिल जाएगा। अन्य कोर्स की बजाय यह कोर्स काफी अच्छा है। प्रैक्टिस करते हुए आप आरजेएस की तैयारी भी कर सकते हैं।

 जेईई की तैयारी कर रहा हूं, आईएएस बनना चाहता हूं। हरिओम नेहरा, बाड़मेर, हाल सीकर

 सबसे पहले एक लक्ष्य तय कीजिए। आप अभी जेईई की तैयारी कर रहे हैं तो इसके अध्ययन पर ही जोर दीजिए। सिविल सर्विसेज के लिए आपको पहले ग्रेजुएशन करना होगा। इसके बाद आप इसकी परीक्षा दे पाएंगे। आईएएस की तैयारी के लिए आप एनसीईआरटी की 6 से 12वीं तक की पुस्तकों का गहन अध्ययन करें और इसके बाद रूटीन में गहन अध्ययन व करंट जीके की भी तैयारी करनी होगी।

 कॉमर्स कॉलेज से एमकॉम की परीक्षा दी है, इसमें आगे क्या-क्या अच्छे जॉब के अवसर उपलब्ध हैं। प्रवीण, गनेड़ी, सालासर

 कॉमर्स के क्षेत्र में वैसे तो बहुत सी जॉब्स उपलब्ध हैं, लेकिन आप एमकॉम के बाद नेट कर लेक्चरर की तैयारी कीजिए। कॉलेज लेक्चरर के पदों का नोटिफिकेशन जारी होने वाला है। लेक्चरर के पदों की काफी वेकेंसी निकलेगी।

 एमए हिंदी से की है। नेट की तैयारी के लिए सुझाव दें। प्रेमसिंह, भैरूंपुरा, सीकर

 नेट की तैयारी के लिए अाप अच्छी बुक्स की स्टडी कीजिए। जिस विषय से नेट करना चाहते हैं उसका गहन अध्ययन करिए। एमए में आपके अच्छी परसेंटेज है, इसलिए आप नेट के साथ स्कूल व कॉलेज लेक्चरर की तैयारी में जुट जाइए। हिंदी विषय के लेक्चरर की काफी डिमांड है, नेट कंपलीट करने के बाद तैयारी के साथ आप निजी कॉलेज में भी पढ़ा सकते हैं।

 साइंस मैथ्स से 12वीं की परीक्षा दी है, आगे एमबीए करना चाहती हूं, क्या विषय चेंज करना पड़ेगा। खुशी चौधरी, खाटूश्यामजी

 नहीं आपको विषय चेंज नहीं करना पड़ेगा। वर्तमान में एमबीए के बाद ज्यादा पैकेज नहीं मिल रहा है और इस कोर्स के करने के बाद आप भीड़ में शामिल हो जाएंगी। आप ग्रेजुएशन करते हुए अभी से एसएससी की तैयारी कर सकती हैं। इसके साथ ही एनडीए परीक्षा भी दे सकती हैं।

 इतिहास से एमए की है। पीएचडी करने के लिए सही सुझाव दीजिए। संदीप चौपड़ा, सीकर

 पीएचडी करने के लिए राज्य की करीब सभी यूनिवर्सिटी लिखित परीक्षा लेती हैं। इसमें पास होने पर आपको छह माह के काेर्स के उपरांत पीएचडी शुरू हो जाएगी। वहीं नेट व जेआरएफ वाले अभ्यर्थियों को हरियाणा की एमडी यूनिवर्सिटी व कुरुक्षेत्र यूनि. सीधे ही पीएचडी करवाती है। कुछ निजी विवि. जो ए ग्रेड हैं वे भी पीएचडी करवाते हैं, लेकिन फीस अधिक वसूलते हैं। साथ ही निजी विवि. से पीएचडी करने से पूर्व उसकी अच्छे से जानकारी जुटा लेनी चाहिए।

प्रो. डॉ. सुरेश

 12वीं पीसीएम की परीक्षा दी है। एयरक्राफ्ट मेंटीनेंस इंजीनियरिंग की परीक्षा क्लियर कर चुका। एयरफोर्स व नेवी में से अच्छा ऑप्शन क्या रहेगा। अशोक कुमार सैनी, महरोली, सीकर

 दोनों अपनी-अपनी जगह बेस्ट है। एयरफोर्स व नेवी दोनों की जॉब ही चैलेंजिंग है। इसमें सलेक्शन के लिए विषय भी अच्छे हैं। आप सेना के रिटायर्ड अधिकारियों से और अधिक जानकारी जुटा कर इस क्षेत्र में आगे बढ़ सकते हैं।