झुंझुनू / मप्र का कुख्यात इनामी अपराधी उज्ज्वल गुप्ता गैंग तीन साथियों के साथ गिरफ्तार



झुंझूनूं पुलिस की गिरफ्त में मध्यप्रदेश पुलिस के वांटेड बदमाश झुंझूनूं पुलिस की गिरफ्त में मध्यप्रदेश पुलिस के वांटेड बदमाश
X
झुंझूनूं पुलिस की गिरफ्त में मध्यप्रदेश पुलिस के वांटेड बदमाशझुंझूनूं पुलिस की गिरफ्त में मध्यप्रदेश पुलिस के वांटेड बदमाश

  • कोतवाली थाना पुलिस की कार्रवाई
  • मध्यप्रदेश पुलिस ने झुंझुनूं एसपी से किया था संपर्क

Jun 24, 2019, 01:28 PM IST

झुंझुनू. जिले की कोतवाली थाना पुलिस ने रविवार को मध्यप्रदेश के जिला सतना के कुख्यात व 30 हजार रुपये ईनामी अपराधी उज्ज्वल गुप्ता को अन्य तीन साथियों के साथ गिरफ्तार करने में कामयाबी हासिल कर ली। पुलिस अधीक्षक झुन्झुनू गौरव यादव ने बताया कि गिरफ्तार आरोपी उज्जवल गुप्ता पुत्र चन्द्रशेखर गुप्ता (20) निवासी गांव उमरी पन्नानाका थाना सिविल लाईन सतना, मध्यप्रदेश का है। इस संबंध में जिला पुलिस अधीक्षक सतना, मध्यप्रदेश से इनपुट प्राप्त हुआ था। 

पिछले आठ से दरगाह परिसर में बने कमरे में छिप कर रहे थे वांटेड बदमाश, एमपी पुलिस को सुपुर्द किया

  1. जिसमें बताया था कि पिछले दिनों जिला सतना के थाना नागोद क्षेत्र में गोली मारकर ढाबा संचालक अंगद प्रसाद जोशी को गंभीर घायल करने एवं उसकी दोनों पत्नियों श्रीमती चम्पादेवी व माया की हत्या में वांछित उमरी पन्नानाका थाना सिविल लाईन सतना निवासी उज्जवल गुप्ता पुत्र चन्द्रशेखर गुप्ता (20) जिला झुन्झुनू में अपने किसी परीचित के यहां रूका हुआ है। 

  2. तब एसपी गौरव यादव के निर्देशन में थानाधिकारी कोतवाली गोपाल सिंह के नेतृत्व में टीम गठित की गई। पुलिस ने जानकारी जुटाकर पहले नरहड़ के झाड़ीवाला बाबा दरगाह से अच्छु उर्फ आशीष मंधानी पुत्र लालचन्द सिंधी (33) निवासी सिंधी केम्प सब्जी मण्डी के पास थाना कोलगंवा सतना को संदेह के आधार पर राउण्ड अप कर पूछताछ की। 

  3. तब अच्छु ने कुख्यात बदमाश उज्जवल गुप्ता के दरगाह के कमरे में छिपे होने की जानकारी दी। इस पर पुलिस ने वहां कमरे में छापा मारकर तलाशी ली तो उज्जवल गुप्ता सहित दो अन्य व्यक्ति कोलगंवा सतना निवासी शुभम मिश्रा एवं सैलेन्द्र प्रताप उर्फ शक्ति सिंह भी छिपे हुए मिले। जिनको पुलिस ने पकड़ लिया। कोतवाली थाने लाकर पूछताछ की गई। 
     

  4. पुलिस अधीक्षक गौरव यादव ने बताया कि उज्जवल गुप्ता के साथ अन्य साथी पवन उर्फ पुन्य प्रताप सिंह की गिरफतारी हो चुकी है तथा उज्जवल गुप्ता घटना के समय से ही फरार चल रहा था जिसकी गिरफतारी पर महानिरीक्षक पुलिस रैंज रीवा मध्यप्रदेश की ओर से 30 हजार रूपये का ईनाम घोषित किया गया है।
         

  5. पिछले आठ से दरगाह परिसर में बने कमरे में छिप कर रहे थे वांटेड बदमाश

    एसपी यादव ने बताया कि उज्जवल गुप्ता शरण देने के आरोप में थाना कोलगांव जिला सतना, एमपी निवासी शुभम मिश्रा पुत्र विजय मिश्रा, अच्छु उर्फ आशिष मंधानी पुत्र लालचन्द मंधानी (33) एवं शैलेन्द्र प्रताप सिंह उर्फ शक्ति सिंह पुत्र राजबहादुर को राउण्ड अप किया जाकर सतना मध्यप्रदेश से आई पुलिस टीम के उप निरीक्षक डी.आर.शर्मा के सुपुर्द किया गया है। 
         

  6. अपराधी अच्छु उर्फ आशिष मंधानी एवं सैलेन्द्र प्रतापसिंह उर्फ शक्तिसिंह के खिलाफ जिला सतना में काफी अपराधिक प्रकरण दर्ज है। इन दोनों को नवम्बर 2018 से जिला सतना से जिला बदर किया गया है उसके पश्चात से उक्त अपराधी नरहड़ स्थित झाड़ी वाला बाबा की दरगाह में रह रहे थे।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना