• Hindi News
  • Rajasthan
  • Sikar
  • Sikar News rajasthan news 1599 lakhs were looted the munim had created the conspiracy knew the agent owner would not be sued because the rupees were rupees

15 नहीं 90 लाख की लूट हुई थी, मुनीम ने ही रचा षड्‌यंत्र, जानता था एजंेसी मालिक मुकदमा नहीं कराएगा...क्योंकि हवाला के थे रुपए

Seekar News - पुलिस ने सूर्य मंदिर के पास छह दिन पहले हुई 15 लाख रुपए की लूट का खुलासा कर दिया। लूट की साजिश मुनीम रविशंकर सैनी ने...

Bhaskar News Network

Jul 14, 2019, 11:05 AM IST
Sikar News - rajasthan news 1599 lakhs were looted the munim had created the conspiracy knew the agent owner would not be sued because the rupees were rupees
पुलिस ने सूर्य मंदिर के पास छह दिन पहले हुई 15 लाख रुपए की लूट का खुलासा कर दिया। लूट की साजिश मुनीम रविशंकर सैनी ने दोस्त शरीफ के साथ मिलकर रची थी। रविशंकर ही रुपयों का बैग गजानंद शर्मा के साथ बाइक पर लेकर जा रहा था। तीन महीने बाद शादी अाैर मकान बनाने के लिए रविशंकर ने यह साजिश रची थी। इसमें चौंकाने वाला खुलासा यह हुआ कि लूट की राशि 15 लाख नहीं, 90 लाख रुपए थी। इनमें से 85.32 लाख रुपए पुलिस ने बरामद कर लिए है। पुलिस ने लूट के 4 आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है।

एसपी गगनदीप सिंगला ने मामले की जानकारी देते हुए बताया कि लूट में शामिल रविशंकर पुत्र गाेपालराम, अावेश उर्फ वसीम पुत्र विशाल अहमद, शरीफ उर्फ बाॅबी लंगडा पुत्र नवाब अली, शरीफ अहमद ठेकेदार पुत्र जमील अहमद काे गिरफ्तार किया है। वारदात मंे शामिल पांचवां अाराेपी अज्जू फरार है। 8 जुलाई काे भवानी एंटरप्राइजेज डाेलियाें का बास के मुनीम रविशंकर सैनी पुत्र गाेपालराम ने लूट की याेजना बनाई थी। उसने ही पुलिस काे रिपाेर्ट दी थी कि दाेपहर ढाई बजे गजानंद के साथ रामलील मैदान सीकर से प्रतीक श्रीवास्तव के घर से कलेक्शन के 15 लाख रुपए बाइक से फर्म डाेलियाें का बास लेकर अा रहे थे। बाइक रविशंकर ही चला रहा था। गजानंद रुपयाें का बैग लेकर पीछे बैठा था। दाेनाें एजेंसी के पास पहुंचे ताे एक बाइक पर दाे नकाबपोश आए। उन्हाेंने पीछे बैठे गजानंद से रुपयाें का बैग छीना अाैर बाइक से ईदगाह की तरफ चले गए। एसपी गगनदीप का कहना है कि एजेंसी मालिक ने 15 लाख रुपए की लूट क्यों बताई। इसकी जांच कर रहे हैं। 90 लाख रुपए हवाला के होने से इनकार नहीं कर सकते, लेकिन जांच के बाद ही पूरी कहानी स्पष्ट हो पाएगी। फिलहाल जांच की जा रही है।

मुनीम ने 3 महीने बाद शादी और मकान बनवाने के लिए पड़ोसी व दोस्त के साथ की थी लूट

रविशंकर सात साल से भवानी एंटरप्राइजेज में मुनीम था। वह जानता था कि लूट करेंगे तो एजेंसी मालिक मुकदमा दर्ज नहीं कराएंगे। तीन महीने बाद उसकी शादी तय थी। मकान बनाना था। इसलिए योजना बनाई। एक महीने पहले पड़ोसी शरीफ उर्फ लंगड़ा से मिला। साेमवार का दिन चुना। क्याेंकि-दो दिन बैंक बंद हाेने के कारण इन दाे दिनाें के साथ सोमवार के आधे दिन का कलेक्शन भी होता है। शरीफ ने कहा कि किसी बाहरी को शामिल करना होगा। शरीफ लंगड़े ने दाेस्त शरीफ अहमद ठेकेदार व वसीम काे भी शामिल करने की याेजना बताई। जयपुर के अज्जू पहलवान काे घटना के दिन ही सीकर बुलाया। पहले बाइक से वसीम अाैर अज्जू काे लाेकेशन दिखाई। वसीम की बाइक ली। नए नंबर लिखे। रवि गजानंद के साथ बाइक से निकला। रवि ने सामने ही मदन ढाबे पर शरीफ काे बैठा रखा था। उसने निकलते ही इशारा कर दिया। शरीफ ने वसीम काे फाेन कर अाने के बारे में बताया। अज्जू वहां पर पैदल रेेकी कर रहा था। जैसे ही दाेनाें बाइक लेकर पहुंचे ताे वसीम ने बाइक अागे लगा दी। अज्जू ने गजानंद को उठाकर पटक दिया अाैर बैग छीन लिया। वसीम ईदगाह की अाेर निकल गया। खास बात यह है कि इन्हें नहीं पता था कि जिस बैग को लूट रहे हैं, उसमें 90 लाख रुपए है।

मैप के जरिए समझिए पूरी वारदात...

4. शिव कॉलोनी

5. छाेटूवाली काेठी के पास से निकल गली में चले गए अाैर मदीना काॅलाेनी पहुंचे। यहां पर बॉबी उर्फ शरीफ बाइक पर सीसीटीवी में दिखा। कांस्टेबल लक्ष्मण ने फुटेज में देखकर इसे पहचाना। क्योंकि-बाॅबी जाली नोट प्रकरण में गिरफ्तार हो चुका है। तीनाें मदीना काॅलाेनी में शरीफ के घर पर रूके। कुछ देर बाद बॉबी पैदल चलते हुए भी दिखाई दिया। सीसीटीवी में यह भी पता चला कि रात 9 बजे रविशंकर सैनी यहां पहुंचा। इससे पुलिस इन्वेस्टिगेशन आगे बढ़ गई और रवि को गिरफ्तार कर लिया।

2. फर्जी नंबरों की बाइक से लूट की। बजाज रोड से अजमेरा अस्पताल के पास गली में घुसे। बाइक वसीम चला रहा था और स्थानीय होने के कारण सभी रास्ते जानता था।

6 घंटे तक शहर में ही रुके बदमाश: लूट के बाद वसीम अाैर अज्जू अलग-अलग रास्ताें से शरीफ अहमद ठेकेदार के घर हुसैनगंज में पहुंचे। वारदात के बाद रात 9 बजे तक चाराें उसके घर पर ही रूके। वसीम व अज्जू ने शरीफ ठेकेदार काे 90 लाख से भरा बैग साैंप दिया। तब शरीफ ठेकेदार ने रवि काे फाेन किया। दाेनाें ने 20 लाख निकाल अलग रख लिए। टीम के अन्य लोगाें को 70 लाख ही बताए। रिपाेर्ट दर्ज कराने के बाद रवि थाने से निकल शरीफ के घर पर पहुंचा। तब उन्हाेंने अापस में रुपयाें का बंटवारा कर लिया।

4. नाॅर्थ चाैकी से पहले गली से निकलकर शिव काॅलाेनी में चले गए। सीसीटीवी फुटेज में सभी बाइक पर दिख रहे हैं।

3. बुच्याणी

5. मदीना कॉलोनी

मदीना कॉलोनी में शरीफ लंगड़ा

सीसीटीवी फुटेज जांचे तो शरीफ दिखा, तब पकड़े गए




3. जैन मंदिर के पास से निकलते हुए बकरा मंडी से आगे दाे-तीन गलियाें से घूमते हुए बुच्यानी की अाेर गए। गलियों में इसलिए घूमे ताकि पुलिस गुमराह हो। सभी ने यहां भी नकाब नहीं हटाया।

2. अजमेरा अस्पताल

1. बजाज राेड सूर्य मंदिर के पास लूट की। ऑफिस के पास है। दूसरी जगह लूट करते को एजेंसी को विश्वास कम होता।

1. सूर्य मंदिर

लूट के 5 मुख्य सूत्रधार






इन्होंने किया मामले का खुलासा

एसपी गगनदीप सिंगला ने बताया कि एएसपी देवेंद्र कुमार के नेतृत्व में टीमें बनाई। डीएसपी साैरभ तिवाड़ी अाैर काेतवाल श्रीचंद सिंह काे टीम में शामिल किया। रानाेली थानाधिकारी पवन कुमार, साइबर सेल एसअाई मनीष कुमार, एसअाई सुनील कुमार, एसअाई अमित कुमार, एएसअाई जयप्रकाश, भाेपाल सिंह, बीरबल सिंह, हनुमान सिंह, विशेष शाखा से राेहिताश कुमार, हैड कांस्टेबल संतकुमार, नाैरंगलाल, कांस्टेबल लक्षमण राम, भंवरलाल, राजेश, भागीरथमल, दुर्गाराम, राजपाल, हरीश कुमार, दिलीप कुमार, िवनाेद कुमार, यशवंत सिंह, जीवराज व साइबर सेल से अंकुश काे लगाया गया। याेजना के खुलासे के लिए सिपाही लक्ष्मणराम अाैर भागीरथ की सराहनीय भूमिका रही। एसपी ने टीम काे ईनाम की घाेषणा की है।

शरीफ लंगड़े ने मां व खुद का चैकअप कराया : लूट के बाद अज्जू व शरीफ बस से जयपुर गए। शरीफ ने खुद के कूल्हे के ज्वॉइंट्स की जांच कराई। मां का भी इलाज कराया। वहीं अज्जू काे जयपुर पुलिस ने एससी-एसटी के एक मामले में गिरफ्तार कर लिया। बाद में जमानत पर बाहर अाया। पुलिस काे शरीफ उर्फ बाॅबी के पास से 23.30 लाख, शरीफ अहमद के पास से 27.28 लाख, रविशंकर के पास से 34.74 लाख रुपए अाैर वसीम के पास से बाइक बरामद हुई। तीनाें ने अपने घर पर ही रुपए रखे थे।

बरामद रुपए।

Sikar News - rajasthan news 1599 lakhs were looted the munim had created the conspiracy knew the agent owner would not be sued because the rupees were rupees
Sikar News - rajasthan news 1599 lakhs were looted the munim had created the conspiracy knew the agent owner would not be sued because the rupees were rupees
X
Sikar News - rajasthan news 1599 lakhs were looted the munim had created the conspiracy knew the agent owner would not be sued because the rupees were rupees
Sikar News - rajasthan news 1599 lakhs were looted the munim had created the conspiracy knew the agent owner would not be sued because the rupees were rupees
Sikar News - rajasthan news 1599 lakhs were looted the munim had created the conspiracy knew the agent owner would not be sued because the rupees were rupees
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना