ट्रैक पर चल रहे थे 6 दोस्त, ट्रेन से टकराए, 3 की माैत

Sikar News - राजसमंद | गुजरात में काम-धंधे की तलाश में गए अजमेर व राजसमंद के 6 दाेस्ताें में से तीन की काकरा खाड़ी ब्रिज पर ट्रेन...

Bhaskar News Network

Jul 14, 2019, 07:50 AM IST
Chala News - rajasthan news 6 friends walking on the track colliding with the train killing 3
राजसमंद | गुजरात में काम-धंधे की तलाश में गए अजमेर व राजसमंद के 6 दाेस्ताें में से तीन की काकरा खाड़ी ब्रिज पर ट्रेन की चपेट में अाने से माैत हाे गई, जबकि तीन सुरक्षित बच गए। सभी युवा सूरत-उधना रेलवे स्टेशन के बीच ट्रैक पर पैदल चल रहे थे। सभी की उम्र 18-19 साल के बीच है। मृतकाें में दाे चचेरे भाई हैं। दरअसल, ये युवक ट्रेन से सूरत पहुंचे थे अाैर वहां से वलसाड जाना था। इसके लिए शनिवार सुबह 7:50 बजे वे सूर्यनगरी एक्सप्रेस में सवार हाे गए। कुछ दूर ट्रेन चलने के बाद उन्हें पता चला कि ये ट्रेन वलसाड जाती ही नहीं है। इस बीच, सूरत-उधना स्टेशन के बीच सिग्नल नहीं मिलने के कारण ट्रेन धीमी हुई ताे सभी नीचे उतर गए अाैर अन्य ट्रेन पकड़ने के लिए सूरत की तरफ पैदल ही चलने लगे। रास्ते में तीन युवा पीछे रह गए अाैर बाकी तीन काकरा ब्रिज पर पहुंच गए। उधना की तरफ से कर्णावती एक्सप्रेस अा गई। ब्रिज पर बचने की जगह नहीं हाेने के कारण तीनाें युवक ट्रेन की चपेट में अा गए। मृतक कुलदीप सिंह अाैर प्रवीण नारायण राजसमंद के भीम क्षेत्र के शेरों का वाला और प्रवीण धीरज सिंह पांती की अांती का रहने वाला था।

सूरत-उधन स्टेशन के बीच काकरा खाड़ी ब्रिज पर हादसा

15 मीटर लंबे ब्रिज के बीच में फंस गए थे तीन युवक

सूरत -उधना के बीच 15 मीटर लंबे काकरा खाड़ी ब्रिज पर ट्रैक के दोनों तरफ बचने के लिए जगह नहीं है। ऐसे में यदि कोई इस ट्रैक पर चल रहा हो और ट्रेन आ जाए तो ब्रिज को पार करने या उससे कूदने के अलावा कोई विकल्प नहीं है। जाे तीन युवा इस ब्रिज पर मारे गए, वे इस ब्रिज पर 7 मीटर तक पहुंच चुके थे। इसी काकरा खाड़ी ब्रिज पर 27 फरवरी 2008 को कच्छ एक्सप्रेस की चपेट में आकर 16 लोगों की मौत हाे गई थी।

X
Chala News - rajasthan news 6 friends walking on the track colliding with the train killing 3
COMMENT