590 गांव-ढाणियों में पानी सप्लाई के लिए 5.93 करोड़ रुपए का कंटीजेंसी प्लान बनाया

Sikar News - जलदाय विभाग ने गर्मियाें में जिले में पानी की किल्लत से दिलाने और सुचारू सप्लाई के लिए कंटीजेंसी प्लान तैयार...

Feb 15, 2020, 11:30 AM IST

जलदाय विभाग ने गर्मियाें में जिले में पानी की किल्लत से दिलाने और सुचारू सप्लाई के लिए कंटीजेंसी प्लान तैयार किया है। इस प्रस्तावित कंटीजेंसी प्लान को जलदाय विभाग भेजा जाएगा। जलदाय विभाग ने सीकर जिले के लिए कुल 5.93 कराेड़ रुपए का प्लान तैयार किया है। सीकर के खंडेला, श्रीमाधोपुर, नीमकाथाना व दांतारामगढ़ तहसीलों के गांव-ढाणियों में सबसे ज्यादा पेयजल की किल्लत रहती है। जिले में हर बार गर्मी के मौसम में पेयजल की दोगुनी मांग होने के चलते पीने के पानी को लेकर परेशानी बढ़ जाती है। कंटीजेंसी प्लान में शहरी क्षेत्र के लिए 1.66 कराेड़ रुपए अाैर ग्रामीण क्षेत्राें के लिए 4.27 कराेड़ रुपए का प्लान बनाकर भेजा गया है। सीकर शहर में 32 पानी की टंकियां हैं। इनमें पानी की आपूर्ति के लिए ट्यूबवैल हैं जिनके मैंटीनेंस पर पूरा ध्यान रखा जाएगा जिससे पेयजल किल्लत नहीं हो। वहीं कई वार्डाें में नई पाइप लाइन भी डाली जाएगी। इसके लिए जलदाय विभाग ने इस बार खंडेला, श्रीमाधोपुर, नीमकथाना व दांतारामगढ़ में पेयजल किल्लत को प्रमुखता से लिया है। इन क्षेत्रों में ही सबसे ज्यादा पेयजल की समस्या होती है। इनमें भी खंडेला व श्रीमाधोपुर कस्बे में वॉटर लेवल काफी नीचे होने के चलते यहां पानी 20 किलोमीटर दूर से पेयजल की आपूर्ति होती है। इसके लिए पहले से ही इन क्षेत्रों में ट्यूबवैल खोदकर पानी की सुनिश्चितता पूरी करने की तैयारियां की जा रही है।

टैंकराें का टेंडर मार्च में किया जाएगा : विभाग मार्च में पानी के टैंकरों के टेंडर जारी करेगा। जिससे अप्रैल से पहले ही पेजयल आपूर्ति की सभी व्यवस्थाएं पूरी हो सकें। सीकर शहर के एेसे वार्ड जहां पेयजल किल्लत रहती है या पाइप लाईन टूटी हुई है। वहां टैंकर से सप्लाई की जाएगी।

दांतारामगढ़ के 150 गांव-ढाणियां कंटीजेंसी प्लान में शामिल

कंटीजेंसी प्लान में दांतारामगढ़ तहसील के 150 गांव-ढाणियाें काे शामिल किया गया है। इन गांव-ढाणियों में सबसे ज्यादा पेयजल किल्लत है। वहीं दांतारामगढ़, नीमकाथाना, खंडेला व श्रीमाधोपुर ब्लॉक्स के 51 गांवों और 389 ढाणियों को कंटीजेंसी प्लान में शामिल किया गया है। हालांकि व श्रीमाधोपुर में पेयजल किल्लत सबसे ज्यादा रहती है। ऐसे में खंडेला के दो-तीन माेहल्लों में नई पाइप लाइन डाली जाएगी। वहीं दो ट्यूबवैल सहित नए हैडपंप जारी करवाने के लिए भी कंटीजेंसी प्लान में मांग की गई है। पीएचईडी एसई शिवदयाल मीणा का कहना है कि सीकर जिले में गर्मियों में पेयजल किल्लत से निपटने के लिए हमने पूरी व्यवस्था कर ली है। हमने जलदाय विभाग को कंटीजेंसी प्लान बनाकर भेजा है। इसमें ग्रामीण क्षेत्रों पर ज्यादा फोकस किया गया है। पेयजल किल्लत वाले गांव-ढाणियों के लिए हमने विशेष प्लान बनाया है। प्लान में जिले के ग्रामीण क्षेत्रों के लिए 4.27 कराेड़ रुपए की मांग रखी है।

X
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना