पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Sikar
  • Sikar News Rajasthan News City Police Monitor Thieves Target Two Houses As Soon As They Return Patrol Vehicle Steal Cash And Jewelry Worth Rs 1150 Lakh

शहर पुलिस पर चोरों की निगरानी, गश्त वाहन लौटते ही दो घरों को निशाना बनाया, 11.50 लाख की नकदी-गहने चोरी

2 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
शहर में कच्छा-बनियान गिरोह फिर सक्रिय हो गया है। नेहरू पार्क स्थित शास्त्री नगर के दो मकानों को निशाना बनाया। एक मकान के अंदर अलमारी का लॉकर तोड़ा, लेकिन कुछ मिला नहीं। सिर्फ एक बैग चुरा पाए, जबकि एक मकान में 1.40 लाख रुपए नकद व करीब 10 लाख रुपए के सोने-चांदी के गहने चुरा ले गए। वारदात के बाद गिराेह के सदस्य घटना स्थल से चंद दूरी पर 20 मिनट रुके अाैर यहां कपड़े बदल दाे बाइकाें से पार हाे गए। गिराेह के तीन सदस्य सीसीटीवी में कैद हाे गए।

पुलिस के अनुसार कच्छा-बनियान पहने हुए तीन लाेग शास्त्री नगर स्थित खाली प्लाॅट के पास मलबे के ढेर पर चढ़े अाैर दीवार के सहारे पहले रामनिवास शर्मा के घर में घुसे। कमरे की जाली ताेड़कर अंदर घुसे। यहां उनके हाथ केवल स्कूल बैग हाथ लगा।

इसके बाद पास चोर पास ही स्थित प्रकाशचंद शर्मा के घर में घुसे। कमरे की खिड़की की जाली ताेड़कर अंदर गए। यहां रखी अलमारी, बक्से, बेड व संदूक के ताले ताेड़कर सामान ले गए। उसके बाद दूसरे कमरे में घुसे अाैर यहां भी दाे अलमारियों के ताले ताेड़कर 1.40 लाख रुपए अाैर करीब 10 लाख रुपए के साेने-चांदी के गहने चुराकर दीवार फांदकर पार हाे गए। वारदात के समय जिस कमरे में परिवार के लोग सो रहे थे, उसे बाहर से कुंदी लगाकर बंद कर दिया। कमरे के अंदर रोशनी नहीं जाए, इसके लिए गेट पर कपड़ा लगा दिया। इसके बाद वारदात को अंजाम दिया।

यहां से घुसे मकान के अंदर

नेहरु पार्क के पास जिस कमरे में सो रहा था परिवार, उसे बाहर से कुंदा लगाया, दो कमरों में अलमारी-बॉक्स खंगाले।

पुलिस गश्त पर सवाल चोरों को भी पता है पुलिस दुबारा नहीं आती गश्त पर

कॉलोनी में चौकीदार भी तैनात, मंगलवार रात पुलिस गश्त का वाहन गुजरने के बाद चोरों ने दो मकानों में धावा बोला

िगराेह के तीनाें सदस्य प्रकाशचंद के घर में घंटेभर से ज्यादा समय रुके। चाराें बच्चों के गुल्लक भी ले गए। प्रकाशचंद ने बताया कि उनकी किराने की दुकान है अाैर चाेरी हुए रुपए कलेक्शन के थे। कुछ रुपए उनकी बहन ने चेजा-पत्थर के एक दिन पहले ही िभजवाए थे। इसके अलावा चार साेने की चूड़ियां, साेने की तागड़ी, मंगलसूत्र, हार, चार साेने की अंगूठी, मांग टीका, झूमर, कान की बालियां व चांदी के बर्तन चुरा ले गए। स्थानीय निवासी देवीशंकर व नीलकमल का कहना है कि रात काे पुलिस गश्त कर गई थी। काॅलाेनी में चौकीदार भी नियमित अाता है। हर साल यहां चोरी हो रही है। कुछ महीनाें पहले काॅलाेनी के एक माथुर परिवार के यहां चाेरी हाे गई थी। इससे पहले खुद प्रकाशचंद की दुकान के ताले ताेड़कर चाेर हजाराें रुपए ले गए थे।

चोर जिसकी फोटो सीसीटीवी में कैद हुई।

देखिए... पुलिस के कामकाज पर चोरों का ऐसा विश्वास-बेफिक्र होकर दो घर खंगाले, चोरी के बाद उसी मकान के सामने कपड़े बदले, बाइक से पार हो गए

1. कच्छा-बनियान गिरोह के तीन लोगों ने घंटों तक दो मकानों में चोरी की। वहां बच्चों के गुल्लक तक चुराए। घर के पीछे से घुसे और आगे के दरवाजे से दीवार फांदकर बेखौफ निकल गए।

2. चोरी के बाद चोरी वाले मकान के सामने ही कपड़े भी बदले। फिर बाइक पर बैठकर आसानी से चले गए। बाइक नानी बाईपास पर पहुंचकर जयपुर रोड पर जाती हुई दिख रही है।

3. सीअाे सीटी साैरभ तिवाड़ी का कहना है कि सीसीटीवी फुटेज मिल गए हैं। पुलिस छानबीन में जुटी है। वारदात का जल्द ही खुलासा करने का प्रयास किया जाएगा।

इस मकान में हुई चोरी

पीड़ित प्रकाशचंद शर्मा ने बताया कि वारदात वाले कमरे का पंखा खराब हाेने के कारण वह अपनी प|ी, तीन बेटियाें व बेटे के साथ दूसरे कमरे में साे रहे थे। उन्होंने बताया कि सुबह 3:30 बजे जगे तो कमरे के बाहर कुंदी लगी थी। दूसरे रास्ते से कमरे के बाहर निकल देखा तो चोरी की जानकारी मिली। गहने नहीं मिले तो वह बेहोश होकर गिर गए।

खबरें और भी हैं...