• Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Sikar
  • Sikar News rajasthan news every month 20 thousand saris and 1 lakh dupattas are being sent by the people of shekhawati tradition and euphoria

शेखावाटी की परंपरा व उल्लास का पक्का रंग-बंधेजहर माह 20 हजार साड़ियां व 1 लाख दुपट्‌टे भेज रहे सूरत

Sikar News - यह खुशी के रंगों की तस्वीरें है। यह रंग-बिरंगे रंग ही है, जिनके दम पर हम सूरत को मात दे रहे हैं। विदेशों में अपनी...

Mar 09, 2020, 10:31 AM IST

यह खुशी के रंगों की तस्वीरें है। यह रंग-बिरंगे रंग ही है, जिनके दम पर हम सूरत को मात दे रहे हैं। विदेशों में अपनी पहचान बना रहे हैं। पूरे देश को साड़ी उपलब्ध कराने वाले सूरत को सीकर हर महीने 20 लाख बंधेज की साड़ियां उपलब्ध करा रहा है। सिंगापुर व दुबई को भी साड़ी भेज रहे हैं। हर रोज अकेले सीकर में बंधेज के 10 हजार दुपट्टे अाैर 1000 बंधेज साड़ियां तैयार हो रही है। हर महीने का कारोबार 50 करोड़ रुपए का है। इसमें शेखावाटी के 25 हजार परिवार सीधे रूप में जुड़े हैं। पहले छाेटे स्तर पर यह कारोबार हाेता था अाैर जिले के विभिन्न भागाें में इसकी बिक्री हाेती थी, लेकिन जनवरी 2018 से इसने कारोबार की शक्ल ली। इस कारोबार की शुरुआत में पहले महीने करीब 700 साड़ियां सूरत भेजी गई। अब हर महीने 20 हजार से ज्यादा साड़ियां अाैर एक लाख दुपट्टे तैयार किए जा रहे हैं।

बंधेज की साड़ी महंगी थी ताे कम कीमत वाली साड़ी तैयार कराने का अाया अाइडिया

शेखावाटी के बंधेज को काफी पसंद करते हैं। ये महंगे होने से इनकी कम खरीद होती थी। इसे देख पिछले 29 साल से साड़ियों का कारोबार करने वाले पंकज रावत अाैर शिवरतन रावत ने कम कीमत में बंधेज तैयार करवा उसे देश में भेजने का विचार किया। इन्हाेंने सूरत से साड़ियों का प्लेन कपड़ा मंगाया और उस बंधेज अाैर रंगाई करवा भेजना शुरू किया।

शेखावाटी के 25 हजार लाेग जुड़े हुए हैं

बंधेज की साड़ी और दुपट्‌टे के कारोबार से सीधे तौर पर 25 हजार परिवार राेजगार ले रहे हैं। सीकर के करीब 11000 परिवार अाैर झुंझुनूं के 10 परिवार इससे जुड़े हैं। वहीं, चूरू के 4000 से ज्यादा परिवार अब तक इसमें जुड़े हैं। सीकर से देश में भेजी जा रही बंधेज की साड़ी 500 रुपए से 1500 रुपए की कीमत में उपलब्ध हाे रही है। सीकर जिले में बनने वाली बंधेज की साडी में अब 10 से ज्यादा डिजाइनें डवलप की जा चुकी है। इनमें काइन, कैरी, बल्ब, जाल काफी फेमस हुई है।

एक साड़ी बनने में 20 दिन लगते हैं

6 मीटर की साड़ी में 240 ग्राम का वजन होता है। रंगाई सहित अन्य कार्यों के बाद 100 ग्राम का इजाफा होता है। जिससे साड़ी 350 ग्राम की बनती है। इसमें सिल्क व पॉलिस्टर धागे का उपयोग हाेता है। बंधेज की साड़ी को बनने में लगभग 20 दिन तक समय लगता है।

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना