ट्रांसपोर्ट कंपनी से धोखाधड़ी कर 60 लाख रुपए का डीजल लिया, दो आरोपी गिरफ्तार

Sikar News - ट्रांसपोर्ट कंपनी के साथ ओटीपी नंबरों से धोखाधड़ी कर 60 लाख रुपए का ऑनलाइन डीजल लेने के मामले में पुलिस ने दो...

Oct 13, 2019, 08:11 AM IST
ट्रांसपोर्ट कंपनी के साथ ओटीपी नंबरों से धोखाधड़ी कर 60 लाख रुपए का ऑनलाइन डीजल लेने के मामले में पुलिस ने दो आरोपियों काे गिरफ्तार किया है। थाना प्रभारी लालसिंह ने बताया कि ऋषभ गांधी ने पुलिस थाने में रिपोर्ट दी थी कि उनकी एक ट्रांसपोर्ट कंपनी है जो सितंबर 2012 में बनी थी। वे बड़ी मात्रा में डीजल खरीदते हैं। उनके पास 550 ट्रक हैं। सभी कंपनियां दो तरह से डीजल देती हैं। एक कार्ड से व एक बिना कार्ड के। हम दोनों ही तरह की सेवा का उपयोग पिछले दो वर्ष से कर रहे हैं। उन्होंने जब डीजल का खाता मिलाया तो पता चला कि ऑनलाइन डीजल एकाउंट से कोई अवैध रूप से डीजल निकाल रहा है। यह मामला जून 2019 में शुरू हुआ और उसकी लागत 60 लाख रुपए तक पहुंच गई। ज्यादातर डीजल सीकर व उसके आसपास से लिया गया है। सबसे अधिक डीजल आरपी संस नामक पंप से लिया गया है जो थाना दांतारामगढ़ में है। पेट्रोप पंप आरपी एंड संस, जगदीश फिलिंग स्टेशन, गिरधारी लाल एम मोहता, अलफा एचपी, हमारा पंप कंवर का बास एवं अन्य पेट्रोप पंपों वालों से मिलीभगत कर लाखों रुपयों के डीजल को ओटीपी नंबर से धोखाधड़ी से लिया गया है। इसके बाद पुलिस ने सभी से पूछताछ कर मामले में दो आरोपियो को गिरफ्तार किया है। इनमें छीतरमल कुमावत (44) पुत्र घीसाराम कुमावत निवासी ज्यानियां की ढाणी तन भादवा पुलिस थाना रेनवाल, मनमोहन सिंह उर्फ मोनू (25) पुत्र भंवरसिंह शेखावत निवासी चिराना थाना उदयपुरवाटी को गिरफ्तार किया है।

पुलिस गिरफ्त में दोनों आरोपी।

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना