• Hindi News
  • Rajasthan
  • Sikar
  • Sikar News rajasthan news on the nirajla ekadashi women kept fasting without water and fruit god wished for the happiness of the family

निर्जला एकादशी पर महिलाओं ने बिना जल व फलाहार के रखा व्रत, भगवान से परिवार की खुशहाली की कामना की

Seekar News - निर्जला एकादशी पर महिलाओं ने बिना पानी पीये व्रत रखा। भास्कर संवाददाता | सीकर सालभर की 24 एकादशियों में...

Bhaskar News Network

Jun 14, 2019, 10:50 AM IST
Sikar News - rajasthan news on the nirajla ekadashi women kept fasting without water and fruit god wished for the happiness of the family
निर्जला एकादशी पर महिलाओं ने बिना पानी पीये व्रत रखा।

भास्कर संवाददाता | सीकर

सालभर की 24 एकादशियों में सर्वश्रेष्ठ मानी जाने वाली महा-पुण्य फलदायी निर्जला एकादशी पर श्रद्धालुओं ने व्रत रखकर भगवान विष्णु की आराधना की। किसी परिवार में महिलाओं ने बिना पानी पीए व्रत रखा तो उसी परिवार के अन्य सदस्यों ने दिन-रात निराहार रहकर व्रत रखा। परिवार में निर्जला एकादशी व्रत रखने की परंपरा को बच्चों ने भी निभाया और फल-दूध लेकर अपनी श्रद्धा प्रकट की। सुबह स्नान-ध्यान व पूजा-पाठ करके व्रत रखने का संकल्प लिया और निर्जला एकादशी महात्म्य की कथा भी सुनी।

पूरे परिवार ने रखा व्रत : पाेलाे ग्राउंड पिछले मंजू अग्रवाल 25 साल से भी अधिक समय से हर साल निर्जला एकादशी का व्रत रखती आ रही हैं। इस बार पहली बार बहु शुभश्री ने व्रत रखा। इसके साथ देवरानी अंजू, सविता कई सालों से फलाहार लेकर व्रत रखते आ रहे हैं। व्रत रखने के बाद वे कल्याण मंदिर में जाकर श्रीजी के दर्शन करते है।

दान कर खाेला व्रत : पं अश्विन मिश्रा कहते हैं कि शास्त्रों में निर्जला एकादशी को महा पुण्य फल देने वाली एकादशी कहा गया है। इस दिन बिना पानी पीये निराहार व्रत रखने से पुण्य फल की प्राप्ति होती है। व्रतधारी को आर्थिक, पारिवारिक, बीमारी, क्लेश आदि परेशानी से मुक्ति मिलती है। जिन लोगों ने व्रत रखा है वे अब मंगलवार को ब्राह्मण को भोजन करवाकर जल से भरा कलश, फल, शक्कर, अनाज, वस्त्र, जूता, छतरी, पंखा आदि दान करेंगे और फिर व्रत खोलेंगे।

लोगों को शर्बत पिलाया : शहर में सामाजिक एवं धार्मिक संस्थाओं, संगठनों एवं व्यापार मंडलों की ओर से जगह जगह छबीले लगा छाछ, शीतल जल, शर्बत, मिल्क रोज, शिकंजी पिला कर पुण्यार्जन किया गया। शहर के सभी बाजार में लोगों को शर्बत पिलाया गया। राहगीरों ने गर्मी में शर्बत का आनंद लिया। निर्जला एकादशी के पावन अवसर पर राष्ट्रीय गौ सेवा संघ और सीकर जिला युवा उद्यमी संघ और राष्ट्रीय ब्राह्मण महासंघ की ओर से मंडी के सामने राहगीरों को रसना पिलाने का कार्यक्रम आयोजित किया गया। पुराना दूजोद दरवाजे में सिद्धपीठ श्री फतेह बालाजी धाम पर निर्जला एकादशी के अवसर पर ठंडा शर्बत पिलाया गया। माहेश्वरी युवा मंच की ओर से निर्जला एकादशी के अवसर पर आम जन के लिए शीतल पेय जल की व्यवस्था के लिए बजाज रोड पर जैन मंदिर के पास जल मंदिर का शुभारंभ किया गया। सांवर मल मोर की स्मृति पर जयपुर रोड स्थित बालाजी मंदिर ने प्याऊ का उद्घाटन किया।

हजारों लोगों ने किया भीमसेनी एकादशी व्रत : सुभाष चाैक स्थित गोपीनाथ मंदिर, महामंदिर राेड स्थित कल्याण मंदिर में भगवान का विशेष श्रृंगार किया गया। एकादशी का व्रत रखने वाले श्रद्धालु दर्शन करने पहुंचे और सामूहिक कथा भी सुनीं। कथा सुनाने वाले ने बताया कि पांडव पुत्र भीम द्वारा बिना पानी पिए व्रत रखने से ज्येष्ठ शुक्ल एकादशी का नाम भीमसेनी एकादशी पड़ा था।

स्काउट गाइड ने पिलाई रसना : स्काउट व गाइड की अाेर से निर्जला एकादशी पर्व पर जगदीश प्रसाद चाैधरी के सहयाेग से डीअाे अाॅफिस के सामने रसना पिलाई गई। कार्यक्रम का शुभारंभ सीअाे गाइड सुयश लोढा, जेपी चाैधरी, संस्था प्रधान अनिता चाैधरी, अशोक सैनी एवं लालचन्द सियाक ने किया। स्काउट की अाेर से जिलेभर में कैंप लगाकर शिकंजी पिलाई गई।

पक्षियों के लिए परिंडे लगाए : भारत माता मंदिर योगशाला की अाेर से निर्जला एकादशी पर गुरुवार काे शहर में कई स्थानाें पर पक्षी परिण्डे लगाए गए। कायर्क्रम में रणवीर सिंह सेवा संस्थान के डा. मीना शर्मा व डा. राजाराम याेगाचार्य सहित संगठन के अनेक सदस्य एवं पदाधिकारी शामिल हुए। निर्जला ग्यारस के पावन अवसर पर पक्षियों के लिए परिंदे लगाए गए सीकर शेखावाटी कॉलोनी वार्ड 44 चुरु रेलवे लाइन के पास विशेष संयोग उमंग शर्मा, रविंद्र मिश्रा, सुशील मिश्रा दिनेश शर्मा,राम अवतार शर्मा, श्यामसुंदर फौजी, शंकर लाल शर्मा, आदि मौजूद थे।

भास्कर संवाददाता | सीकर

सालभर की 24 एकादशियों में सर्वश्रेष्ठ मानी जाने वाली महा-पुण्य फलदायी निर्जला एकादशी पर श्रद्धालुओं ने व्रत रखकर भगवान विष्णु की आराधना की। किसी परिवार में महिलाओं ने बिना पानी पीए व्रत रखा तो उसी परिवार के अन्य सदस्यों ने दिन-रात निराहार रहकर व्रत रखा। परिवार में निर्जला एकादशी व्रत रखने की परंपरा को बच्चों ने भी निभाया और फल-दूध लेकर अपनी श्रद्धा प्रकट की। सुबह स्नान-ध्यान व पूजा-पाठ करके व्रत रखने का संकल्प लिया और निर्जला एकादशी महात्म्य की कथा भी सुनी।

पूरे परिवार ने रखा व्रत : पाेलाे ग्राउंड पिछले मंजू अग्रवाल 25 साल से भी अधिक समय से हर साल निर्जला एकादशी का व्रत रखती आ रही हैं। इस बार पहली बार बहु शुभश्री ने व्रत रखा। इसके साथ देवरानी अंजू, सविता कई सालों से फलाहार लेकर व्रत रखते आ रहे हैं। व्रत रखने के बाद वे कल्याण मंदिर में जाकर श्रीजी के दर्शन करते है।

दान कर खाेला व्रत : पं अश्विन मिश्रा कहते हैं कि शास्त्रों में निर्जला एकादशी को महा पुण्य फल देने वाली एकादशी कहा गया है। इस दिन बिना पानी पीये निराहार व्रत रखने से पुण्य फल की प्राप्ति होती है। व्रतधारी को आर्थिक, पारिवारिक, बीमारी, क्लेश आदि परेशानी से मुक्ति मिलती है। जिन लोगों ने व्रत रखा है वे अब मंगलवार को ब्राह्मण को भोजन करवाकर जल से भरा कलश, फल, शक्कर, अनाज, वस्त्र, जूता, छतरी, पंखा आदि दान करेंगे और फिर व्रत खोलेंगे।

लोगों को शर्बत पिलाया : शहर में सामाजिक एवं धार्मिक संस्थाओं, संगठनों एवं व्यापार मंडलों की ओर से जगह जगह छबीले लगा छाछ, शीतल जल, शर्बत, मिल्क रोज, शिकंजी पिला कर पुण्यार्जन किया गया। शहर के सभी बाजार में लोगों को शर्बत पिलाया गया। राहगीरों ने गर्मी में शर्बत का आनंद लिया। निर्जला एकादशी के पावन अवसर पर राष्ट्रीय गौ सेवा संघ और सीकर जिला युवा उद्यमी संघ और राष्ट्रीय ब्राह्मण महासंघ की ओर से मंडी के सामने राहगीरों को रसना पिलाने का कार्यक्रम आयोजित किया गया। पुराना दूजोद दरवाजे में सिद्धपीठ श्री फतेह बालाजी धाम पर निर्जला एकादशी के अवसर पर ठंडा शर्बत पिलाया गया। माहेश्वरी युवा मंच की ओर से निर्जला एकादशी के अवसर पर आम जन के लिए शीतल पेय जल की व्यवस्था के लिए बजाज रोड पर जैन मंदिर के पास जल मंदिर का शुभारंभ किया गया। सांवर मल मोर की स्मृति पर जयपुर रोड स्थित बालाजी मंदिर ने प्याऊ का उद्घाटन किया।

हजारों लोगों ने किया भीमसेनी एकादशी व्रत : सुभाष चाैक स्थित गोपीनाथ मंदिर, महामंदिर राेड स्थित कल्याण मंदिर में भगवान का विशेष श्रृंगार किया गया। एकादशी का व्रत रखने वाले श्रद्धालु दर्शन करने पहुंचे और सामूहिक कथा भी सुनीं। कथा सुनाने वाले ने बताया कि पांडव पुत्र भीम द्वारा बिना पानी पिए व्रत रखने से ज्येष्ठ शुक्ल एकादशी का नाम भीमसेनी एकादशी पड़ा था।

स्काउट गाइड ने पिलाई रसना : स्काउट व गाइड की अाेर से निर्जला एकादशी पर्व पर जगदीश प्रसाद चाैधरी के सहयाेग से डीअाे अाॅफिस के सामने रसना पिलाई गई। कार्यक्रम का शुभारंभ सीअाे गाइड सुयश लोढा, जेपी चाैधरी, संस्था प्रधान अनिता चाैधरी, अशोक सैनी एवं लालचन्द सियाक ने किया। स्काउट की अाेर से जिलेभर में कैंप लगाकर शिकंजी पिलाई गई।

पक्षियों के लिए परिंडे लगाए : भारत माता मंदिर योगशाला की अाेर से निर्जला एकादशी पर गुरुवार काे शहर में कई स्थानाें पर पक्षी परिण्डे लगाए गए। कायर्क्रम में रणवीर सिंह सेवा संस्थान के डा. मीना शर्मा व डा. राजाराम याेगाचार्य सहित संगठन के अनेक सदस्य एवं पदाधिकारी शामिल हुए। निर्जला ग्यारस के पावन अवसर पर पक्षियों के लिए परिंदे लगाए गए सीकर शेखावाटी कॉलोनी वार्ड 44 चुरु रेलवे लाइन के पास विशेष संयोग उमंग शर्मा, रविंद्र मिश्रा, सुशील मिश्रा दिनेश शर्मा,राम अवतार शर्मा, श्यामसुंदर फौजी, शंकर लाल शर्मा, आदि मौजूद थे।

वार्ड 44 में पक्षियों के लिए परिंडे लगाए।

निर्जला एकादशी पर कल्याणजी मंदिर में महिला श्रद्धालुओं की लगी कतार।

माहेश्वरी युवा मंच द्वारा जैन मंदिर के पास जल मंदिर का शुभारंभ किया गया।

निर्जला एकादशी पर नींबू पानी पिलाया गया।

Sikar News - rajasthan news on the nirajla ekadashi women kept fasting without water and fruit god wished for the happiness of the family
Sikar News - rajasthan news on the nirajla ekadashi women kept fasting without water and fruit god wished for the happiness of the family
Sikar News - rajasthan news on the nirajla ekadashi women kept fasting without water and fruit god wished for the happiness of the family
Sikar News - rajasthan news on the nirajla ekadashi women kept fasting without water and fruit god wished for the happiness of the family
X
Sikar News - rajasthan news on the nirajla ekadashi women kept fasting without water and fruit god wished for the happiness of the family
Sikar News - rajasthan news on the nirajla ekadashi women kept fasting without water and fruit god wished for the happiness of the family
Sikar News - rajasthan news on the nirajla ekadashi women kept fasting without water and fruit god wished for the happiness of the family
Sikar News - rajasthan news on the nirajla ekadashi women kept fasting without water and fruit god wished for the happiness of the family
Sikar News - rajasthan news on the nirajla ekadashi women kept fasting without water and fruit god wished for the happiness of the family
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना