पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

फतेहपुर में पंचायत समिति की बैठक आयोजित

2 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
फतेहपुर | फतेहपुर पंचायत समिति सभागार में कई माह बाद पंचायत समिति की साधारण सभा की बैठक हुई। पंचायत समिति साधारण सभा की बैठक कोरम के अभाव के कारण करीब एक घंटे देरी से शुरू हुई।

प्रधान सुनीता कड़वासरा की अध्यक्षता में हुई बैठक में कई मुद्दों पर चर्चा हुई। दांतरु सरपंच विद्याधर मील ने कहा कि बिजली विभाग के जीएसएस की बहुत बुरी स्थिति है। गांवों में बने जीएसएस अवैध बार की तरह संचालित हो रहे हंै, वहां पर कार्यरत कार्मिक अधिकतर समय शराब के नशे में रहते हैं व जब मन करें तब बिजली काट देते हैं। इस पर पंचायत समिति सदस्य विकास भास्कर सहित अन्य जनप्रतिनिधियों ने भी समर्थन किया। मील ने कहा कि स्थिति इतनी खराब है कि उक्त जीएसएस का ठेकेदार चाहे जब कार्मिक भी बदल देता है, इसकी जानकारी भी विभाग को नहीं रहती है। इस पर बिजली विभाग के अधिकारी ने जांच कर कार्रवाई का आश्वासन दिया। विद्याधर मील ने कहा कि राइट टू एज्युकेशन के तहत निजी स्कूलों में निशुल्क शिक्षा के लिए प्रवेश होता है, शिक्षा विभाग के सही मॉनीटरिंग नहीं होने के कारण इसमें जबरदस्त भष्ट्राचार का अंदेशा है। ऐसे में इसकी जांच की जानी चाहिए। पंचायत समिति सदस्य तौफिक हेतमसर ने खाद्य सुरक्षा योजना, गोड़िया गांव के रास्ते पर जल भराव का मुद्दा उठाया। बैठक में एसडीएम रेणु मीणा, रामगढ़ एसडीएम निधि सिंह, तहसीलदार सुशील कुमार सैनी, तहसीलदार दमयंती कंवर, बीडीओ सुनील ढाका, ब्लॉक चिकित्सा अधिकारी डॉ. दलीप सिंह कुल्हरी सहित कई अधिकारी उपस्थित रहे।

खबरें और भी हैं...