• Hindi News
  • Rajasthan
  • Sikar
  • Chala News rajasthan news parenting articles and poetry competition teaches children to be non violent from the beginning

पंेटिंग, लेख और कविता प्रतियोगिता से बच्चों को शुरुआत से ही अहिंसक होना सिखाया जा रहा है

Seekar News - मुंबई में अहिंसा की अलग तरह की पाठशाला चलाई जा रही है। यहां बच्चों आैर सभी लोगों को अपने स्वभाव, खानपान और पहनावे से...

Bhaskar News Network

Apr 17, 2019, 07:26 AM IST
Chala News - rajasthan news parenting articles and poetry competition teaches children to be non violent from the beginning
मुंबई में अहिंसा की अलग तरह की पाठशाला चलाई जा रही है। यहां बच्चों आैर सभी लोगों को अपने स्वभाव, खानपान और पहनावे से अहिंसक जीवन जीने का सबक दिया जा रहा है। मकसद है, अहिंसा को लोगों की जीवनशैली का हिस्सा बनाना। शरण और अहिंसा परमोधर्म संस्था ने मिलकर तीन साल पहले अहिंसा महोत्सव शुरू किया था, इसके तहत साल में एक बड़ा आयोजन और हर महीने छोटे-छोटे आयोजन किए जाते हैं। शरण संस्था की नंदिता शाह कहती हैं कि कुछ दिन पहले ही हमने मुंबई के कांदिवली इलाके के स्कूलों में कार्यक्रम आयोजित किए थे। हमने 7 से 16 साल के बच्चों के लिए तीन प्रतियोगिताएं रखी थीं। बच्चों ने अहिंसा को दर्शाने और बढ़ावा देने वाली पेंटिंग्स बनाईं। निबंध लिखे और अहिंसा पर कविताएं सुनाईं।

अहिंसा की ऐसी पाठशाला हर सप्ताह मुंबई के जुहू, पवई और मलाड क्षेत्र में आयोजित की जा रही है। वर्कशॉप में आने वालाें को हम तीन प्रमुख बातें बताते हैं- धरती यानी पर्यावरण का ध्यान रखिए, प्राणियों के लिए करुणा रखिए और सेहत के प्रति सतर्क रहिए। यह अहिंसा के तीन प्राथमिक तरीके हैं। बहुत से लोगों को लगता है कि शाकाहारी होना अहिंसक होना है, क्योंकि वे जानवरों को तंग नहीं करते हैं। मगर ऐसा नहीं है। अगर आप चमड़े के प्रोडक्ट का इस्तेमाल करते हैं और पेड़ों को काटते हैं तो यह भी एक तरह से हिंसा को बढ़ावा देना है। शाह बताती हैं कि हमारे यहां कीटनाशकों का हर खेत में इस्तेमाल हो रहा है। कीटनाशक जहर ही तो है। यह जहर फसलों के जरिए जानवर भी खाते हैं और साग-सब्जी-अनाज के रूप में इंसान भी। यह जहर हमारे शरीर में पहुंच रहा है और हम बीमार भी पड़ रहे हैं। जिन स्थानों पर कीटनाशकों का इस्तेमाल हो रहा है वहां छोटे-छोटे जीव-जंतु और पक्षी भी मरते हैं। यह बहुत बड़ी हिंसा है। यह हिंसा घुमफिरकर हमारे ही पास आती है।

X
Chala News - rajasthan news parenting articles and poetry competition teaches children to be non violent from the beginning
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना