• Hindi News
  • Rajasthan
  • Sikar
  • Sikar News rajasthan news solving the ongoing cases of five years in the family court of five couples married couple married in debra39s concert

पांच दंपती के पारिवारिक न्यायालय में कई सालाें से चल रहे मामले सुलझाए, दाेबारा काेर्ट में कराई शादी

Sikar News - नाेंकझाेंक हाेने व गलफहमी हाेने पर कई सालाें से पति-प|ी के बीच पारिवारिक न्यायालय में दहेज की मांग अाैर तलाक काे...

Bhaskar News Network

Jul 14, 2019, 11:05 AM IST
Sikar News - rajasthan news solving the ongoing cases of five years in the family court of five couples married couple married in debra39s concert
नाेंकझाेंक हाेने व गलफहमी हाेने पर कई सालाें से पति-प|ी के बीच पारिवारिक न्यायालय में दहेज की मांग अाैर तलाक काे लेकर चल रहे 5 मामले लाेकअदालत में सुलझाए गए। काेर्ट में ही पति-प|ी की माला पहनाकर दाेबारा से शादी करवाई गई। जिला विधिक प्राधिकरण अध्यक्ष व जिला जज देवेंद्रप्रकाश शर्मा ने बताया कि राष्ट्रीय विधिक सेवा प्राधिकरण एवं राजस्थान राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण के अनुसार रींगस, नीमकाथाना, दांतारामगढ़,श्रीमाधाेपुर,फतेहपुर, लक्ष्मणगढ़, सीकर में लाेकअदालत का अायाेजन किया। 25 बैंचाें का गठन कर अापराधिक मामले, सिविल, पारिवारिक, बैंकाें के ऋण वसूली सहित अन्य मामलाें की सुनवाई हुई। उन्हाेंने बताया कि 6689 प्रकरणाें में से 1507 प्रकरणाें का अापसी राजीनामा करवाकर निस्तारण करवाया। सचिव जगतसिंह पंवार ने बताया कि 147138041 रुपए का अवार्ड पारिए किए गए। उन्हाेंने बताया कि पारिवारिक प्रकरणाें के 5 केस सुलझाए गए। करीब 10 सालाें से चल रहे मारपीट, जमीनी विवाद के मामलाें में फैसला कराया गया। डेफाेडिल्स स्कूल अाैर एनजीअाे हरीतिमा के सहयाेग से पाैधे भी भेंट किए। न्यायलय परिसर में भी पाैधे लगाए गए। सिविल प्रकरण के एक मामले में 90 साल की वृद्धा काे पहली मंजिल में जाने में दिक्कत हुई ताे बैंच अध्यक्ष मुकुल गहलाेत ने हेल्पडेस्क पर अाकर राजीनामा करवाया।

4 साल बाद दाेनाें ने गलती मानकर केस वापस लिया

2013 में खिराेड़ की सुशीला की शादी विकास से हुई थी। दाेनाें के तीन बच्चियां भी है। विकास काे शराब पीने का अादत थी। मारपीट करने लगा ताे 2015 में सुशीला ने काेर्ट में दहेज अाैर तलाक के लिए मुकदमा किया। चार साल केस चला। पारिवारिक काेर्ट के मजिस्ट्रेट त्रिरुपति गुप्ता ने दाेनाें के वकील रामस्वरुप अाैर अमीलाल से समझाइश के प्रयास किए। फूफा हुकमाराम काे भी बुलाया। उन्हीं के प्रयास से विकास अाैर सुशीला काे समझाइश के प्रयास किए। विकास ने शराब छाेड़ दी। दाेनाें साथ रहने लगे। 15-20 दिनाें के अंतराल में दाेनाें से बातचीत भी करते रहे। चार साल के बाद दाेनाें ने अपनी गलती मानी। लाेकअदालत में केस वापस ले लिए।

तीन साल से अलग रह रहे थे, अब मुकदमा वापस लिया

सीकर की रहने वाली रीतू की शादी 22 अप्रैल 2006 में बाेपतपुरा के संजय साेनी से हुई थी। दाे बच्चे भी हुए। अापसी मनमुटाव के कारण दाेनाें 2016 में अलग हाे गए। रीतू ने दहेज व मारपीट का पारिवारिक काेर्ट में मुकदमा 2017 में दायर कर दिया। पारिवारिक न्यायालय के न्यायाधीश त्रिरुपति गुप्ता ने दाेनाें की समझाइश कराई। इसके बाद दाेनाें 4 महीने से साथ रहने लगे। उनके संपर्क में रहकर विवाद की स्थिति काे लेकर पूछते रहे। लाेक अदालत में दाेनाें ने अपने मुकदमे वापिस लिए। दाेनाें ने कहा कि हमसे गहलफहमी हाे गई थी। बच्चाें के भविष्य के बारे में भी नहीं साेचा।

Sikar News - rajasthan news solving the ongoing cases of five years in the family court of five couples married couple married in debra39s concert
X
Sikar News - rajasthan news solving the ongoing cases of five years in the family court of five couples married couple married in debra39s concert
Sikar News - rajasthan news solving the ongoing cases of five years in the family court of five couples married couple married in debra39s concert
COMMENT