पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

सरकारी कॉलेज के लिए एसआर स्कूल भवन देने को तैयार

2 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
लक्ष्मणगढ़ | दो सप्ताह पहले ही स्वीकृत हुई लक्ष्मणगढ़ की सरकारी कॉलेज के लिए श्रीरघुनाथ विद्यालय ने अस्थायी व्यवस्था के तौर पर भवन एवं फर्नीचर उपलब्ध करवाने का प्रस्ताव रखा है। स्कूल के पश्चिमी विंग के खाली पड़े भवन में क्लासों एवं ऑफिस सहित 9 कमरे बिना किराये के तथा फर्नीचर सहित सरकारी कॉलेज के लिए उपलब्ध कराने की बात संस्था के स्थानीय प्रबंध कमेटी के पदाधिकारियों ने कही है।

एसआर स्कूल की स्थानीय प्रबंध कमेटी के चेयरमैन ओमप्रकाश जोशी व संस्था प्राचार्य राजेश जांगिड़ ने बताया कि वर्षों के इंतजार के बाद स्वीकृत सरकारी कॉलेज शीघ्र ही शुरू हो तथा क्षेत्र के बच्चों को उच्च शिक्षा के लिए अन्यत्र नहीं जाना पड़े। इसी के चलते प्रबंधन ने विद्यार्थियों एवं अभिभावकों के हित में भवन उपलब्ध करवाने का मानस बनाया है। इसके लिए स्कूल भवन के पश्चिमी विंग में से 9 कमरे देने पर सहमति प्रदान की है। संस्था प्राचार्य राजेश जांगिड़ ने बताया कि संस्था प्रबंधन ने भवन का कोई किराया नहीं लेने तथा संस्थान में पहले से उपलब्ध फर्नीचर भी आगामी व्यवस्था होने तक सरकारी कॉलेज के लिए देने की पेशकश की है। इस संबंध में एसडीएम डॉ.कुलराज मीणा ने बताया कि भवन का अवलोकन किया गया है। विभागीय अधिकारियों का दौरा होने के बाद उनकी रिपोर्ट के बाद ही भवन को लेकर कोई निर्णय होगा शिक्षा राज्यमंत्री गोविंद सिंह डोटासरा ने अगस्त में ही सरकारी कॉलेज का पहला सत्र शुरू करने की मंशा के बाद प्रशासनिक स्तर पर अंदरूनी रूप से तैयारियां चल रही है।

मंत्री की मंशा के अनुरूप इतनी जल्दी भवन की व्यवस्था का सर्वोत्तम विकल्प एसआर स्कूल का भवन ही हैं। जहां कॉलेज शुरू करने की प्राथमिक जरूरतों की पूर्ति हो सकती है। संस्थान का प्रबंधन 7 कमरे क्लासरूम व 2 कमरे ऑफिस व स्टाफ रूम के लिए देने को तैयार है। इसके अलावा पहले से उपलब्ध क्लास फर्नीचर भी बिना शुल्क देने तथा आवश्यकता अनुसार टॉयलेट बनाकर देने की भी पेशकश की है।

एसअार स्कूल के इस भवन में शुरू हाे सकता है सरकारी काॅलेज।

खबरें और भी हैं...