पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

रामगढ़ शेखावाटी में मंदिर में दीपक जलाने के दौरान दो पक्षों में विवाद, पत्थरबाजी की

एक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक

हेतमसर में रात नौ बजे प्रधानमंत्री के आह्वान पर मंदिर में दीपक जलाने के दौरान गांव के युवकों में आपसी विवाद हो गया। इस दौरान पत्थरबाजी की गई। मामले की सूचना मिलते ही पुलिस ने मौके पर जाकर जांच की तथा दोषियों की तलाश शुरू कर दी। थानाधिकारी उमाशंकर शर्मा ने बताया कि हेतमसर के प्रवेश पर माली समाज के पांच-छह घरों की ढाणी है, जहां स्थित बालाजी मंदिर में प्रधानमंत्री के आह्वान पर रूकमानंद सैनी, मनोज सैनी, जीनकूदेवी, कैलाश, सुशीलकुमार तथा भागूराम द्वारा दीपक जलाए जा रहे थे। अचानक सद्दाम, शाहरुख, जावेद, अरशद, एजाज, जाबिर ने आकर उनसे दीपक जलाने की बात पर विवाद किया और दीपक जलाने से मना करते हुए पथराव शुरू कर दिया। अचानक पत्थरबाजी की घटना से रूकमानंद सहित सैनी परिवार बुरी तरह से डर गया तथा चिल्लाने लगा। इसके बाद आरोपी फरार हो गए। मामले की जानकारी मिलने पर फतेहपुर डीएसपी ओमप्रकाश किलानियां के नेतृत्व में रामगढ़ व फतेहपुर से पुलिस जाब्ता पहुंचा और आरोपियों की तलाश शुरू की। देर रात तक किसी की गिरफ्तारी नहीं हो सकी।

मंदिर में पड़े पत्थर।
खबरें और भी हैं...