--Advertisement--

पायलट बोले- पथराव की घटना निंदनीय; भाजपा को बड़ा जनादेश मिला था, सम्मान करने में नाकाम

आजादी के बाद पहली बार देश में किसान इतना दुखी नजर आ रहा : गहलोत

Danik Bhaskar | Aug 29, 2018, 05:57 AM IST

चूरू. कांग्रेस के प्रदेशाध्यक्ष सचिन पायलट ने कहा कि कांग्रेस की विचारधारा में हिंसा का स्थान नहीं है। पार्टी की रीति-नीति गांधी जी के अहिंसा के सिद्धांत पर आधारित है। पायलट मंगलवार को चूरू के पुलिस ग्राउंड में आयोजित संकल्प रैली को संबोधित कर रहे थे।

उन्होंने कहा कि सत्ताधारी पार्टी की यात्रा पर पथराव की घटना निदंनीय है। इसके दोषियों पर कार्रवाई होनी चाहिए। हर घटना के लिए कांग्रेस पर दोषारोपण करना ठीक नहीं है। सहानुभूति बटोरने के भाजपा के प्रयास से लोग भ्रमित नहीं होंगे। भाजपा को जितना बड़ा जनादेश मिला था उसका सम्मान करने में सरकार बिल्कुल नाकाम रही। जनता से वादाखिलाफी किए जाने से समाज के हर वर्ग में आक्रोश है। वहीं पूर्व मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि आजादी के बाद पहली बार किसान को इतना दुखी देखा है। किसान की न प्रदेश में सुनवाई हो रही है न केंद्र में। इस दौरान पूर्व केंद्रीय मंत्री सीपी जोशी, पूर्व केंद्रीय मंत्री भंवर जितेंद्र सिंह, प्रदेश प्रभारी अविनाश पांडे, नेता प्रतिपक्ष रामेश्वर डूडी, विधायक हाजी मकबूल मंडेलिया आदि रहे।

भाजपा का पलटवार, राठौड़ बोले- कांग्रेस का संकल्प, अब भाजपा ही विकल्प

ग्रामीण विकास एवं पंचायतीराज मंत्री राजेंद्र राठौड़ ने चूरू में कहा कि बीजेपी की गौरव यात्रा से कांग्रेस घबरा गई है। उसे अपनी जमीन खिसकती नजर आ रही है, इसलिए अब जगह-जगह रैलियां की जा रही हैं। समझदार कांग्रेस के कार्यकर्ता तो कहने भी लगे हैं कि कांग्रेस का संकल्प अब भाजपा ही विकल्प। उन्होंने कहा कि कांग्रेस की खेमेबाजी चूरू की सभा में भी नजर आ गई। एक खेमा गहलोत के नारे लगा रहा था तो दूसरा पायलट के। कांग्रेस अलग-अलग जगहों से लोगों को बुलवा रही है। फिर भी रैली में भीड़ नहीं जुट रही। कांग्रेस की बौखलाहट का पता इसी बात से चलता है कि उनकी पार्टी के पूर्व मुख्यमंत्री गौरव यात्रा पर हमला करवा रहे हैं। कांग्रेस लोगों को बांटने का काम करती आई है।