--Advertisement--

निलंबित एएसआई ने कहा- शराब का ट्रक पकड़ने की मिली सजा, आईजी बोले- 2 माह में 10 ट्रक पकड़ो, प्रमोशन कर दूंगा

चूरू पुलिस लाइन में निलंबित एएसआई ने कहा- राजनीति दबाव के चलते हुई कार्रवाई

Danik Bhaskar | Aug 25, 2018, 07:04 AM IST

चूरू. चूरू पुलिस लाइन में शुक्रवार को राजगढ़ क्षेत्र में कार्यरत एक निलंबित एएसआई ने बीकानेर रेंज आईजी से कहा कि उसने राजगढ़ क्षेत्र में शराब से भरा ट्रक पकड़ा, तो राजनीतिक दबाव के चलते उस पर ही कार्रवाई हो गई।

संपर्क सभा ले रहे आईजी भी उक्त बात सुनकर हैरान रह गए। एएसआई जाेगेंद्रसिंह ने पूरी घटना बताई, तो आईजी दिनेश एमएन ने कहा कि आप दो महीने में शराब के 10 ट्रक पकड़ने की कार्रवाई करो और इस पूरे नेटवर्क का रास्ता जाम कर दो, तो तुम्हारी पदोन्नति करवा दूंगा। उन्होंने कहा कि पुलिस कोई भी एसएचओ, एसआई, हैड कांस्टेबल और कांस्टेबल शराब सहित नशीले पदार्थ की तस्करी के नेटवर्क को खत्म करने की बड़ी कार्रवाई करके दिखाएंगे, उनको रिवार्ड दिया जाएगा।

उदयपुर में कांस्टेबल ने शराब तस्करी रोकी, उसे हैड कांस्टेबल बना दिया : आईजी ने उदयपुर का उदाहरण देते हुए बताया कि वहां के एक कांस्टेबल ने शराब तस्करी की रोकथाम को लेकर कई बड़ी कार्रवाई की, तो 15 दिन में ही उसे हैड कांस्टेबल बना दिया गया। संपर्क सभा के बाद आईजी दिनेश एमएन ने पुलिस अधिकारियों की क्राइम मीटिंग लेकर जिले में अपराध की स्थिति, उसकी रोकथाम के प्रयास सहित अन्य बिंदुओं पर चर्चा कर फीडबैक लिया। उन्होंने अधिकारियों से कहा कि वे बिना किसी दबाब के काम करे, चूरू जिले में कानून व्यवस्था दिखनी चाहिए। उन्होंने कहा कि चुनाव को देखते हुए अभी से तैयारी शुरू कर दी जाए, जिसके तहत जिले के अति संवेदनशील, संवेदनशील क्षेत्रों का चिह्निकरण कर अपराधिक कार्य रोकने होंगे।

शराब तस्करी रोकने के लिए मूल नेटवर्क तक पहुंचना जरूरी : आईजी ने कहा कि शराब तस्करी के मामले में गाड़ी चालकों व उसमें सवार लोगों की गिरफ्तारी के साथ ही उसके मूल नेटवर्क तक पहुंचना होगा और उनके खिलाफ भी सख्त कार्रवाई करनी होगी। उन्होंने थानों में पेडिंग मामलों के समय पर निस्तारण, थाने में आने वाले परिवादी को सहानुभूतिपूर्वक सुनकर प्राथमिकता के हिसाब से कार्रवाई करने, अशांति फैलाने वाले, अपराध से जुड़े लोगों, शराब तस्करों के खिलाफ मुहिम चलाकर काम किया जाए। बैठक में एसपी राममूर्ति जोशी ने जिले में पुलिस कार्रवाई की प्रोग्रेस रिपोर्ट व फीडबैक दिया।