राजस्थान / 56 साल की विधवा को कार में अगवा कर जंगल में ले गए, 3 घंटे ज्यादती की, वीडियो बनाया



पुलिस हिरासत में आरोपी। पुलिस हिरासत में आरोपी।
X
पुलिस हिरासत में आरोपी।पुलिस हिरासत में आरोपी।

  • फतेहपुर की घटना, शादी में सम्मिलित हाेने के बाद पैदल घर लौट रहीं थी महिला
  • युवक आकर बोले-.माताजी आपकाे जानते हैं, घर छाेड़ देंगे, मना करने पर जबरन गाड़ी में डाल चाइल्ड लॉक लगा दिया

Dainik Bhaskar

Jul 13, 2019, 03:36 AM IST

फतेहपुर. जेठवा का बास बस स्टैंड से पैदल अपने घर जा रही 56 साल की बुजुर्ग महिला का दाे युवक शराब के नशे में कार में अपहरण कर ले गए। फतेहपुर बीड़ में ले जाकर तीन घंटे तक उनके साथ ज्यादती की। दाेनाें आराेपियाें ने ज्यादती करते हुए वीडियाे भी बनाए। ज्यादती के बाद बुजुर्ग महिला काे दाेनाें युवक वापस घर से 500 मीटर दूर पटक कर चले गए। महिला के 10 पाेते-नाती हैं। पुलिस ने दाेनाें युवकाें काे गिरफ्तार कर कार भी बरामद कर ली।


डीएसपी फतेहपुर कुशाल सिंह खींची ने बताया कि गिरफ्तार युवक भाऊजी की ढाणी, लक्ष्मणगढ़ निवासी मनोज जाखड़ (27) पुत्र भंवरसिंह जाखड़ और कल्याणपुरा तन दांतरू-फतेहपुर निवासी वीरेन्द्र डाेटासरा (25) पुत्र बनवारी डोटासरा है। दाेनाें के माेबाइल जब्त कर फाेरेंसिक लैब में भिजवा दिए गए हैं। उन्हाेंने बताया कि जेठवा का बास की रहने वाली 56 साल की बुजुर्ग महिला शादी में मलसीवा में सम्मिलित हाेने के लिए गईं थी।

 

पैदल गांव लौट रहीं थीं बुजुर्ग

शादी समाराेह के बाद गुरुवार काे रिश्तेदार बुजुर्ग महिला काे गाड़ी से शाम काे पांच बजे छाेड़ने के लिए आया। वह जेठवा का बास स्टैंड पर छाेड़कर चला गया। वहां से महिला का गांव डेढ़ किलाेमीटर की दूरी पर है। वह पैदल ही गांव के लिए जाने लगी ताे दाेनाें युवक कार में आए। दाेनाें शराब के नशे में थे। उतर कर महिला के पास आए। महिला कुछ समझ पाती, इससे पहले ही दाेनाें उन्हें जबरन गाड़ी में बैठाने लगे। महिला ने विराेध किया ताे धक्का-मुक्की करते हुए गाड़ी में पटक लिया।

 

आरोपियों ने मारपीट भी की

इसके बाद दाेनाें उन्हें गाड़ी में फतेहपुर बीड़ के अंदर सुनसान जंगल में ले गए। महिला के विराेध करने पर दाेनाें ने उनके पैर बांध दिए। उनके साथ मारपीट भी की। कार के अंदर ही बुजुर्ग महिला के साथ ज्यादती की। दाेनाें ने एक-एक कर उसके अश्लील वीडियाे भी बनाए। शराब भी पी। तीन घंटे तक उनके साथ ज्यादती करते रहे। करीब नाै बजे दाेनाें उन्हें वापस गाड़ी में लेकर आए और जेठवा का बास स्टैंड पर ही पटक गए। बुजुर्ग महिला ने बदहवास स्थिति में घर पहुंचने के बाद बच्चाें काे बताया।

 

घटना के दिन सुबह से पी रहे थे शराब

पुलिस के मुताबिक दाेनाें युवक गुरुवार सुबह से ही बाटडानाऊ और दांतरू के मध्य हाईवे से 100 मीटर भीतर बाटडानाऊ सर्किल के ठेके पर शराब पी रहे थे। उनके साथ अन्य युवक भी शराब पी रहे थे। दाे साथी ताे तीन बजे वापस चले गए। जबकि दाेनाें आराेपी वहीं शराब पीते रहे। शराब ठेके से जेठवा का बास स्टैंड दिखाई देता है। दोनों ने महिला को कार से उतरते देखा अपनी कार लेकर महिला के पास गए।


सीआरपीएफ का भगाेड़ा है मनाेज

पुलिस के मुताबिक बुजुर्ग महिला से ज्यादती का एक आराेपी मनाेज कुमार सीआरपीएफ का भगौडा है। वह 2012 में सीआरपीएफ में भर्ती हुआ था और 2016 में ही सीआरपीएफ की 126 जम्मू बटालियन से भाग कर आ गया। उसके खिलाफ लक्ष्मणगढ़ थाने में भी 2010 में अपहरण का प्रकरण दर्ज हुआ था। उसकी पत्नी पडिहारा रतनगढ में निजी स्कूल में टीचर हैं। जिस कार में महिला काे लेकर गए वह भी मनाेज के बड़े भाई मनीष जाखड़ की है। मनीष जाखड़ सीआरपीएफ में आसाम में है।


परिजन करते रहे इंतजार

पुलिस ने बताया कि बुजुर्ग महिला काे गुरुवार शाम 5 बजे रिश्तेदार कार से स्टैंड पर छाेड़कर गए थे। रात 9 बजे तक वह घर नहीं पहुंची ताे परिजनाें से तलाश की। महिला के पति की 20 साल पहले माैत हाे चुकी है। उसके दाे बेटे-दाे बेटियां हैं। चाराें की शादी हाे चुकी है। बड़ा बेटा 40 साल का है। महिला के एक पाेता, चार पाेतियां, तीन दाेहिती व दाे दाेहिते हैं। पुलिस ने बुजुर्ग के मेडिकल चेकअप भी कराया। इसके बाद बयान दर्ज करवाए गए। पुलिस ने मनाेज काे भाऊजी की ढाणी और वीरेंद्र काे बीकमसरा चाैराहे से गिरफ्तार कर लिया।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना