--Advertisement--

गलतफहमी / मकान में घुसे पुलिस जवान को ग्रामीणों ने बदमाश समझ बंधक बनाया, पीटा भी



Villagers made mortgages to police jawan
X
Villagers made mortgages to police jawan

  • गांव के ही लोगों की सूचना पर बदमाशों की तलाश में पहुंची थी पुलिस, वर्दी में नहीं था जवान
  • पुलिस ने चार ग्रामीणों के खिलाफ मामला दर्ज किया, विरोध में थाने का घेराव

Dainik Bhaskar

Nov 10, 2018, 01:46 AM IST

मंडावा/ झुंझुनूं. मंडावा इलाके के वाहिदपुरा गांव में एक घर में बदमाश की तलाश में दाखिल हुए पुलिस के जवान को ग्रामीणों ने मारपीट करने के बाद बंधक बनाए रखा। दरअसल, ग्रामीण पुलिस के जवान को बदमाश समझ बैठे थे। पुलिस ने राजकार्य में बाधा डालने का मामला दर्ज किया है। चार जनों को गिरफ्तार किया है। गिरफ्तारी के विरोध में गुरुवार को ग्रामीणों ने थाने का घेराव किया।

 

वाहिदपुरा गांव में एक घर में कुछ लोग संदिग्धावस्था में घुसे। पड़ोसियों ने सूचना पुलिस को दी। पुलिस पहुंची। मकान के अंदर गई। पुलिस को वहां कोई नहीं मिला। पुलिस बाहर आई। उनके साथ बगैर ड्रेस में मंडावा थाने का कांस्टेबल प्रवीण भी था। ग्रामीणों ने कांस्टेबल प्रवीण को पकड़ लिया और कहा कि यही है आरोपी। काफी देर तक हंगामा होता रहा।

 

हैडकांस्टेबल हजारीलाल ने इसकी सूचना थानाप्रभारी राकेश मीणा को दी। पुलिस ने हल्का बल प्रयोग करते चार जनों को पकड़कर थाने ले आई। प्रवीण की रिपोर्ट पर एक दर्जन से अधिक लोगों के खिलाफ मारपीट का मामला दर्ज किया। इसके बाद पुलिस ने नरेंद्र फौजी(34), नगेंद्र (20 ), यशपाल (26)] वीरेंद्र सिंह ( 20) निवासी वाहिदपुरा को गिरफ्तार किया गया। शुक्रवार को आरोपियों को कोर्ट में पेश कर तीन दिन के रिमांड पर लिया गया।

Bhaskar Whatsapp
Click to listen..