--Advertisement--

कैलादेवी पदयात्रा की तैयारियां शुरू, लगने लगे पांडाल

प्रमुख धार्मिक स्थल कैलादेवी करौली के दर्शनों के लिए पदयात्रा की तैयारियां शुरू हो गई है। इसके लिए भक्तों की ओर से...

Dainik Bhaskar

Mar 08, 2018, 06:55 AM IST
प्रमुख धार्मिक स्थल कैलादेवी करौली के दर्शनों के लिए पदयात्रा की तैयारियां शुरू हो गई है। इसके लिए भक्तों की ओर से कस्बे के अलावा पदमार्ग पर भोजन-पानी, चिकित्सा, चाय-नाश्ता, ठहरने, नहाने आदि व्यवस्था के लिए पांडाल लगाना शुरू कर दिया है। पदयात्रियों की सुविधा के लिए कस्बे में करीब एक दर्जन पांडाल लगाए जाएंगे है। कैलादेवी के लिए हजारों की संख्या में आगरा, फतेहपुर सीकरी, किरावली, हाथरस, अलीगढ़, फिरोजाबाद के पदयात्री कस्बे में होकर निकलते है। कैलादेवी करौली के दर्शनों के लिए जाने वाले पदयात्रियों के लिए भक्तों की ओर से चिकित्सा सेवा, नाश्ता, भोजन, विश्रामगृह, चाय, दूध आदि की निशुल्क सुविधाएं दी जाएगी। खानुआ मोड़ से रुदावल कस्बे तक पदमार्ग पर पदयात्रियों की सुविधा के लिए दो दर्जन से अधिक पांडाल लगाए जाएंगे। बुधवार से पदयात्रियों का निकलना शुरू हो गया है।

पुलिस-प्रशासन ने भी की तैयारी, 24 घंटे होगी गश्त

कैलादेवी पदयात्रा को लेकर पुलिस-प्रशासन ने भी तैयारी शुरू कर दी है। रुदावल एसएचओ अनिल शर्मा ने बताया कि पदयात्रियों की सुरक्षा के लिए पुलिसकर्मियों की ड्यूटी लगाई गई है। तीन बाइकों पर दो-दो पुलिसकर्मी दांहिनामोड़ से ब्रह्मवाद पुल तक 24 घंटे तक गश्त करेंगे। साथ ही पांच पुलिसकर्मियों का जाब्ता जीप में गश्त करेंगा और चार पुलिसकर्मी बस स्टैंड पर तैनात रहेंगे। चिकित्सा विभाग की ओर से अस्पताल में चौबीस घंटे के लिए अलग-अलग चिकित्साकर्मियों की ड्यूटी लगाई है। मेडिकल मोबाइल वैन दवाओं के साथ राउंड पर रहेगी। जिससे पदयात्रियों को किसी भी तरह की परेशानी होने पर शीघ्र लाभ दिलाया जा सके। इसके लिए भक्तों की ओर से पदयात्रियों के भोजन से लेकर आराम दवा आदि सभी मूलभूत आवश्यकताओं की व्यवस्था की गई जिससे पदयात्रियों के सामने किसी भी प्रकार की समस्या नहीं रहे। वहीं पदयात्रा को देखते हुए पुलिस प्रशासन द्वारा सभी तैयारियां पूरी कर ली गई है। जिससे पदयात्रियों को किसी तरह की परेशानी होने पर शीघ्र पुलिस प्रशासन द्वारा मदद की जा सके।

कैलादेवी करौली के लिए यूपी से जाएंगे पदयात्री, कस्बे में जगह-जगह लगेंगे एक दर्जन भंडारे

बंद रहेंगे ओवरलोडिंग वाहन

पदयात्रियों की सुरक्षा व व्यवस्था के लिए चार दिन के लिए ओवरलोडिंग वाहन बंद रहेंगे। पुलिस के अनुसार पदमार्ग पर चलने वाले ओवरलोडिंग वाहन पदयात्रा चलने तक बंद रहेंगे। इसके लिए वाहन मालिकों को सूचित कर दिया। अगर पदयात्रा के समय कोई भी ओवरलोडिंग वाहन चलता है तो उसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। यह निर्देश इसलिए दिए गए है कि पदयात्रा के समय ओवरलोडिंग वाहनों से दुर्घटना की आशंका बनी रहती है। इसलिए पदयात्रा के समय किसी भी तरह के ओवरलोडिंग वाहन को पदयात्रा मार्ग पर नहीं चलने दिया जाएगा। इसके लिए वाहन मालिकाें को सूचना दे दी गई है। यदि उन्होंने अवहेलना की तो नियमानुसार कार्रवाई की जाएगी।

X
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..