• Home
  • Rajasthan News
  • Sikari News
  • कैलादेवी के लिए उमड़ रहा पदयात्रियों का हुजूम, जगह-जगह लगे सेवा शिविर
--Advertisement--

कैलादेवी के लिए उमड़ रहा पदयात्रियों का हुजूम, जगह-जगह लगे सेवा शिविर

कस्बा सहित खानुआ मोड व अन्य गांवों में जगह-जगह लग रहे भंडारों में रविवार को पदयात्रियों की भीड़ सर्वाधिक देखने को...

Danik Bhaskar | Mar 12, 2018, 07:05 AM IST
कस्बा सहित खानुआ मोड व अन्य गांवों में जगह-जगह लग रहे भंडारों में रविवार को पदयात्रियों की भीड़ सर्वाधिक देखने को मिली। वही भीड़ की सेवा में आसपास के लोग टैंट लगाकर प्रसादी वितरण व अपने परिजनों से बिछड़े हुए बच्चों को मिलाने के साथ-साथ पदयात्रियों की सेवा में पलक पावड़े बिछा रहे हैं तथा भंडाराें में पदयात्रियों को नाश्ते में चाय, हलुआ-चना, जलेबी-कचौड़ी व पोहा एवं खाने में तंदूर की रोटी, पूड़ी, सब्जी, कड़ी-चावल, मिठाई, बूंदी की प्रसादी वितरित की जा रही थी।

संयोजक ओमप्रकाश ने बताया कि उत्तरप्रदेश से करौली कैलादेवी जाने वाले पदयात्री भक्तों की सेवा करने के लिए खानुआ मोड, चंदनपुरा, नयागांव सहित कस्बे में सेठ निरंजनलाल की धर्मशाला, हनुमान मंदिर व गंगामंदिर के पास चैंकोरा रोड पर पांडालों में स्वागत किया जा रहा हैं। वही भंडारे में पदयात्रियों के लिए नहाना-धोना, खाना-पीना, आवास, मोबाइल चार्जिंग एवं दवा की सुविधा निशुल्क हैं। वहीं पदयात्रियों की हर परेशानी को ध्यान रखते हुए लोगों द्वारा सभी सुविधाएं उपलब्ध कराई गई है। जिससे कोर्ठ परेशानी नहीं हो। थानाधिकारी मुकेश कुमार ने बताया कि पदयात्रियों की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए यूपी बार्डर से लेकर दाहिना मोड तक तीन जगह पुलिस की फिक्स पिकेट लगाई हैं। इस मौके पर भंडारों में मुरारीलाल, नंदराम, कलुआ सिंघल, मुकेश कुमार, पदमसिंह, नरेंद्र गर्ग, महेश चंद, गोपाल राम, हरीचंद, नेमीचंद, रामशरनलाल आदि उपस्थित थे।

धर्म-समाज

रूपवास. खानुआ मोड पर लग रहे अस्थायी नलों पर स्नान करते पदयात्रा।

थम नहीं रहा है पदयात्रियों का रैला, नाचते-गाते निकल रहे हैं भक्त

रुदावल। पदयात्रियों में कैला मैया के दर्शनों के लिए आस्था, उत्साह व जोश है। पैदल चलते-चलते पैरों में छाले पड़ गए है। पैरों में पड़े छाले व शरीर के दर्द के कारण पदयात्रियों से चला नहीं जा रहा है, फिर भी पदयात्री आस्था व श्रद्धा के साथ नाचते-गाते कैला मैया के दर्शन करने के लिए चलते चले जा रहे है। पदमार्ग पर पदयात्रियों का रैला थम नहीं रहा है। प्रमुख धार्मिक स्थल कैलादेवी करौली के दर्शनों के लिए पदयात्रियों की संख्या बढ़ रही है। पदमार्ग पर सिर्फ पदयात्रियों का रैला ही दिखाई दे रहा है। वे माता के दरबार तक पहुंचने के लिए जयकारों के साथ चले जा रहे है। पदमार्ग कैला माता की आस्था व जयकारों की गूंज से भक्तिमय हो गया है। कैलादेवी करौली के जाने के लिए पदमार्ग पर बड़ी संख्या में आगरा, फिरोजाबाद, हाथरस, फतेहपुर सीकरी, अलीगढ़, किरावली आदि स्थानों के पदयात्रियों का तांता लगा हुआ है। रविवार को पदयात्रियों की संख्या में काफी बढ़ोत्तरी देखी गई। भक्तों की ओर से भोजन, नाश्ता व चिकित्सा सेवा के लिए पदयात्रियों की मान-मनुहार की जा रही है। कस्बावासी श्रद्घा के साथ पदयात्रियों की सेवा में लगे हुए है। पदमार्ग पर सिर्फ पदयात्री ही नजर आ रहे है, जो हाथों में लाल झंडा लेकर मां के जयकारों के साथ चले जा रहे है। वही पदमार्ग पर जगह-जगह लगे भंडारों में सिर्फ मां के भजनों की धूम मची हुई है।

रुदावल। कैलादेवी के लिए जाते पदयात्री।