• Home
  • Rajasthan News
  • Sirohi News
  • अस्पताल में भर्ती डायबिटीज के मरीज की वार्ड के टॉयलेट में हुई मौत
--Advertisement--

अस्पताल में भर्ती डायबिटीज के मरीज की वार्ड के टॉयलेट में हुई मौत

जिला अस्पताल के सर्जिकल वार्ड में भर्ती एक मरीज की वार्ड के शौचालय में मौत हो गई। मरीज गुरुवार को भर्ती हुआ था और...

Danik Bhaskar | May 27, 2018, 03:05 AM IST
जिला अस्पताल के सर्जिकल वार्ड में भर्ती एक मरीज की वार्ड के शौचालय में मौत हो गई। मरीज गुरुवार को भर्ती हुआ था और शुक्रवार सवेरे करीब 6 बजे इंसुलिन का इंजेक्शन दिया था। इसके बाद मरीज बेड से नदारद हो गया। शनिवार शाम करीब 7 बजे वार्ड के शौचालय में कीड़े-मकौड़े जाने तथा दरवाजा नहीं खुलने की सूचना पर पीएमओ मौके पर पहुंचे। सफाईकर्मी को खिड़की से शौचालय में दिखाने पर पता चला कि मरीज टॉयलेट के कमोड पर पड़ा हुआ है। सूचना पर पहुंची पुलिस ने दरवाजा खोला तो पता चला कि मरीज की मौत हो चुकी है।

पीएमओ डॉ. दर्शन ग्रोवर ने बताया कि गोल निवासी जीतू उर्फजितेंद्र पुत्र कानाराम हीरागर को डायबिटीज के कारण 24 मई की सुबह 11.10 बजे सर्जिकल वार्ड के बैड नंबर 11 पर भर्ती कर उसका इलाज किया जा रहा था। शुक्रवार सुबह 6 बजे उसे इंसुलिन का इंजेक्शन वार्ड के कंपाउडर ने लगाया। उसके थोड़ी देर के बाद मरीज बिस्तर से कही चला गया। सुबह 8 से 9 बजे के बीच राउंड पर पहुंचे डॉ. प्रदीप चौहान ने मरीज के बारे में पूछा तो उन्हें वहां मौजूद लोगों ने जानकारी नहीं होने पर अनभिज्ञता जाहिर की। शनिवार शाम को वार्ड के तीसरे नंबर के शौचालय के दरवाजे के नीचे से कीड़े मकोड़े जाते देख तथा दरवाजा नहीं खुलने पर वार्ड कंपाउडर ने उन्हें जानकारी दी। वे मौके पर पहुंचे तो दरवाजा नहीं खुलने पर दरवाजे के उपर से देखने के लिए सफाईकर्मी को कहा। उसने बताया कि कमोड के उपर कोई आदमी पड़ा हुआ है। इस पर कोतवाली पुलिस को सूचना दी गई। सीआई आनंद कुमार तथा सब इंस्पैक्टर मोहनलाल विश्नोई मौके पर पहुंचे। पुलिस ने मृतक के परिजनों को अस्पताल बुलाया। पुलिस की मौजूदगी में शौचालय का दरवाजा खुलवाया तथा शव को पोस्टमार्टम के लिए मोर्चरी भिजवाया गया। सब इंस्पैक्टर मोहनलाल विश्नोई ने बताया कि मरीज जीतू का भाई जीवन व उसकी मां ने पहले तो रिश्तेदारों तथा मिलने वालों के यहां तलाश की फिर शनिवार सुबह कोतवाली पहुंचे तथा उसकी गुमशुदगी की सूचना दी।