Hindi News »Rajasthan »Sirohi» खंडेलवाल समाज का सामूहिक विवाह समारोह कल, 18 जोड़े बंधेंगे परिणय सूत्र में

खंडेलवाल समाज का सामूहिक विवाह समारोह कल, 18 जोड़े बंधेंगे परिणय सूत्र में

खंडेलवाल (वैश्य) समाज महासंघ नवपरगना सिरोही के तत्वावधान में आयोजित आठवें सामूहिक विवाह समारोह में अक्षय तृतीया...

Bhaskar News Network | Last Modified - Apr 17, 2018, 06:10 AM IST

खंडेलवाल (वैश्य) समाज महासंघ नवपरगना सिरोही के तत्वावधान में आयोजित आठवें सामूहिक विवाह समारोह में अक्षय तृतीया के अवसर बुधवार को खंडेलवाल छात्रावास में समाज के 18 युवक-युवतियां परिणय सूत्र में बंधेंगे। आयोजन को लेकर तैयारियां जोर-शोर से चल रही है, जिसमें भाग लेने के लिए पश्चिमी राजस्थान के सिरोही, जालौर, पाली, बाड़मेर, जोधपुर व गुजरात के बनासकांठा जिलों समेत काफी संख्या में प्रवासी समाज के लोग पहुंच रहे हैं।

खंडेलवाल समाज महासंघ के महामंत्री एडवोकेट सुरेश कूलवाल ने बताया कि अक्षय तृतीया के अवसर पर समाज का आठवां सामूहिक विवाह समारोह संपन्न होगा। समाज में पहली बार एक साथ 18 युगल जोड़ों का विवाह होगा। इस मौके बुधवार की शाम को खंडेलवाल छात्रावास से शहर के मुख्य मार्गो से वर-वधु की सामूहिक बंदौली निकाली जाएगी। एवं मध्य रात्रि को फेरों की विधि संपन्न होगी। सामूहिक विवाह को लेकर महासंघ एवं सामूहिक विवाह समारोह समिति के तत्वावधान में सभी तैयारियां पूर्ण कर ली गई है। सभी रस्में समाज के मुख्यालय खंडेलवाल छात्रावास में पूर्ण की जाएगी। महासंघ के अध्यक्ष सरजू कुमार खूंटेटा ने बताया कि समाज में कुरीतियों के उन्मूलन, फिजूलखर्ची पर रोकथाम आदि के उद्देश्य से सामूहिक विवाह का आयोजन किया जाता है। इसमें समाज के लोग भी उत्साहपूर्वक भाग ले रहे है। आयोजन में समाज के भामाशाह दानदाताओं ने भी योगदान दिया है। समारोह की तैयारियों में उपाध्यक्ष किशोर कुमार, ललित कुमार कायथवाल, सहमंत्री रामलाल नाटानी, कोषाध्यक्ष मोहनलाल नाटाणी, सह कोषाध्यक्ष गिरधारीलाल कायथवाल, मगरा परगनाध्यक्ष लोकेश खंडेलवाल, कैलाश लवली, किवरली, झोरा परगनाध्यक्ष नेनमल, शेषमल मंडवाड़ा समेत पदाधिकारी, परगनाध्यक्ष एवं समाज के लोग जुटे हुए है।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Sirohi

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×