• Hindi News
  • Rajasthan News
  • Sirohi News
  • रेवदर में बनेगा जिले का मॉडल कॉलेज, 12 करोड़ हुए मंजूर, शीघ्र काम होगा शुरू
--Advertisement--

रेवदर में बनेगा जिले का मॉडल कॉलेज, 12 करोड़ हुए मंजूर, शीघ्र काम होगा शुरू

सिरोही. रेवदर के अस्थाई भवन में इस वर्ष कॉलेज शुरु होगा। 12 करोड़ की मंजूरी मिलने पर दूसरी जगह मॉडल कॉलेज बनाया...

Dainik Bhaskar

Jun 04, 2018, 06:25 AM IST
रेवदर में बनेगा जिले का मॉडल कॉलेज, 12 करोड़ हुए मंजूर, शीघ्र काम होगा शुरू
सिरोही. रेवदर के अस्थाई भवन में इस वर्ष कॉलेज शुरु होगा। 12 करोड़ की मंजूरी मिलने पर दूसरी जगह मॉडल कॉलेज बनाया जाएगा।

एमएलएसयू से संबद्धता के लिए जमा कराए 96 हजार

इधर, रेवदर कॉलेज की मोहनलाल सुखाडिया यूर्निवसिटी उदयपुर (एमएलएसयू) से संबद्धता के लिए पीजी कॉलेज सिरोही ने कुलसचिव को 96 हजार रुपए संबद्धता राशि जमा करवा दी है। डॉ. अजय शर्मा ने बताया कि संबद्धता राशि का चैक जमा करवा दिया है। रेवदर कॉलेज में 160 सीटों के लिए सत्र 2018-19 में आवेदन आमंत्रित किए जाएंगे। रेवदर में स्नातक स्तर कला संकाय में हिंदी साहित्य, अंग्रेजी साहित्य, इतिहास, गृह विज्ञान, राजनीति विज्ञान, चित्रकला व संस्कृत विषय खोले गए है।

रेवदर में मॉडल कॉलेज पर खर्च होंगे 12 करोड़


पीजी कॉलेज ने बनाया था रेवदर कॉलेज का प्रोजेक्ट

रेवदर में नवस्वीकृत कॉलेज के लिए पीजी कॉलेज सिरोही को नोडल कॉलेज बनाया गया है। पीजी कॉलेज के प्राचार्य एवं रेवदर के नोडल अधिकारी प्रो. केके शर्मा के नेतृत्व में रूसा नोडल अधिकारी डॉ. अजय शर्मा व प्राणीशास्त्र सह आचार्य ज्ञानविकास मिश्रा ने रेवदर कॉलेज के लिए प्रोजेक्ट बनाया। कम्पोनेंट फाइव के तहत तैयार प्रोजेक्ट 30 मार्च को कॉलेज निदेशालय जयपुर भेजा गया। इसके बाद 27 अप्रैल और 1 मई को प्रोजेक्ट के लिए जयपुर में आयोजित बैठक में नोडल अधिकारी डॉ. अजय शर्मा दो बार निदेशालय गए।

भवन निर्माण, उपकरण एवं पुस्तकों पर खर्च होगी राशि

रूसा के तहत रेवदर के लिए आवंटित 12 करोड़ रुपए से नया कॉलेज भवन बनाय जाएगा। इसका नक्शा भी निदेशालय से अप्रूवल हो गया है। इसी राशि से आवश्यक उपकरण और पुस्तकें भी खरीदी जाएगी। बजट मंजूर होने के बाद अब कॉलेज भवन के लिए डीपीआर बनाई जाएगी। इसके बाद टेंडर आमंत्रित कर भवन निर्माण का काम शुरू किया जाएगा। रूसा नोडल अधिकारी डॉ. अजय शर्मा ने बताया कि रूसा के तहत अलग-अलग कम्पोनेंट है। जिसमें हमारा जिला कपोनेंट फाइव यानी आर्थिक पिछड़ा जिला श्रेणी में आता है। इसलिए हमारा प्रस्ताव मंजूर हुआ।

X
रेवदर में बनेगा जिले का मॉडल कॉलेज, 12 करोड़ हुए मंजूर, शीघ्र काम होगा शुरू
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..