• Home
  • Rajasthan News
  • Sirohi News
  • जल स्रोत के रखरखाव-मरम्मत पर विशेष ध्यान देने की बताई जरूरत
--Advertisement--

जल स्रोत के रखरखाव-मरम्मत पर विशेष ध्यान देने की बताई जरूरत

भारत सरकार के पेयजल एवं स्वच्छता सचिव परमेश्वरम ने कहा कि योजना कि क्रियान्विति चुनौति मानकर करे। वे शनिवार को...

Danik Bhaskar | Jun 03, 2018, 06:25 AM IST
भारत सरकार के पेयजल एवं स्वच्छता सचिव परमेश्वरम ने कहा कि योजना कि क्रियान्विति चुनौति मानकर करे। वे शनिवार को जिला परिषद के सभागार में मौजूद अधिकारियों को निर्देश दे रहे थे। सचिव ने विजन 2022 विषय पर अधिकारियों से बिन्दुवार चर्चा कर स्वास्थ्य एवं पोषण पर विशेष बल देते हुए कहा कि प्रत्येक स्वास्थ्य केन्द्र एवं आगनबांड़ी केन्द्रों को इतना विकसित किया जाए कि जिला स्वास्थ्य एवं पोषण के दृष्टिकोण से विकसित जिलों की श्रेणी में आए। जिले की पेयजल व्यवस्था पर चर्चा कर निर्देश दिए कि जल स्त्रोतों का रखरखाव एवं मरम्मत पर विशेष ध्यान दिया जावे। स्वीकृत योजनाओं को निर्धारित अवधि में पूर्ण किया जाए। ताकि आमजन को पेयजल सुलभता से उपलब्ध करवाया जा सके। उन्होंने ग्रामीण व शहरी क्षेत्रों में पेयजल आपूर्ति की जानकारी लेकर निर्देश दिए। ग्रीष्म ऋतु की दृष्टिकोण से कंट्रोल रूम व हेल्प लाईन सेंटर स्थापित कर आमजन की समस्याओं का निस्तारण किया जाए। उन्होंने सिलिकोसिस बीमारी के बारे में जानकारी लेकर निर्देश दिए कि इस बीमारी की रोकथाम के लिए पूरे उपाय किए जाए और श्रमिकों को जागरूक किया जाए।

सिरोही. जिला परिषद सभागार में आयोजित बैठक में चर्चा करते अधिकारी।

विजन 2022 पर की चर्चा

कलेक्टर बाबुलाल मीणा ने विजन 2022 विषय पर स्वास्थ्य एवं पोषण, शिक्षा, आधारभूत सुविधाएं, कौशल विकास, पेयजल, ऊर्जा, संचार एवं औद्योगिकी, मुद्रा लोन, कृषि, जल संसाधन विषयों पर जिले में किए जा रहे प्रयासों एवं नवाचारों से अवगत कराया। कलेक्टर ने विजन 2022 विषय को संक्षिप्त रूप से पॉवर प्वाइंट प्रजेन्टेशन के माध्यम से प्रदर्शित कर जानकारी दी।

अधिकारियों को दिए निर्देश

बैठक में उपस्थित संभागिय आयुक्त जोधपुर एवं आयुक्त एवं शासन सचिव (मनरेगा) ने जिले में संचालित योजनाओं कि जानकारी लेकर आवश्यक निर्देश दिए। बैठक में एडीएम आशाराम डुडी, मुख्य कार्यकारी अधिकारी जिला परिषद, अति.मुख्य कार्यकारी अधिकारी समेत संबंधित जिला स्तरीय अधिकारियों ने जिले में संचालित योजनाओं-परियोजनाओं की प्रगति से अवगत करवाया।