• Home
  • Rajasthan News
  • Sirohi News
  • सफाई कर्मचारियों ने किया झाड़ू डाउन विरोध, शहर में रैली निकाली
--Advertisement--

सफाई कर्मचारियों ने किया झाड़ू डाउन विरोध, शहर में रैली निकाली

सिरोही. वाल्मीकि समाज की ओर से झाडू डाउन प्रदर्शन के दौरान शहर में रैली निकाली गई। फोटो : भास्कर भास्कर न्यूज....

Danik Bhaskar | Jun 06, 2018, 06:25 AM IST
सिरोही. वाल्मीकि समाज की ओर से झाडू डाउन प्रदर्शन के दौरान शहर में रैली निकाली गई। फोटो : भास्कर

भास्कर न्यूज. सिरोही

सफाई कर्मचारी भर्ती में अन्य वर्गों को शामिल करने के विरोध में वाल्मिकी समाज के मंगलवार को ‘झाडू डाउन’ विरोध प्रदर्शन किया। प्रदेशव्यापी झाडू डाउन कार्यक्रम के तहत सफाई कर्मचारियों ने शहर में एक दिन झाडू नहीं निकाली, जिससे जगह-जगह कचरे के ढेर नजर आए। डॉ. अंबेडकर सफाई मजदूर संघ शाखा सिरोही के तत्वावधान में आयोजित विरोध प्रदर्शन के तहत सफाईकर्मी ने शहर में रैली निकाली जाएगी और मुख्यमंत्री के नाम का ज्ञापन कलेक्टर को सौंपा। झाडू डाउन कार्यक्रम के तहत सवेरे सफाईकर्मी नगरपरिषद के बाहर एकत्रित हुए। इसके शहर में रैली निकाली। रैली न्यू बस स्टैंड मार्केट, सदर बाजार, नीलमणी चौक, आयुर्वेदिक चौराहा, पुराना बस स्टैंड होकर कलेक्ट्रेट पहुंची। जहां धरना प्रदर्शन कर मुख्यमंत्री के नाम का ज्ञापन कलेक्टर बीएल मीणा को सौंपा। डॉ. अंबेडकर सफाई मजदूर संघ शाखा के अध्यक्ष सुरेश परमार ने बताया कि संगठन के बैनर तले वाल्मिकी समाज ने मंगलवार को झाडू डाउन कार्यक्रम के तहत शहर में सफाई नहीं की तथा सवेरे नगरपरिषद के बाहर एकत्रित हुए। यहां से रैली के रूप में शहर के मुख्य मार्गों से होते हुए कलेक्ट्रेट पहुंचे, जहां कलेक्टर को ज्ञापन सौंपा जाएगा। उन्होंने बताया कि सफाई कर्मचारी भर्ती में अन्य वर्गों को भी शामिल किया गया है जो गलत है। भर्ती प्रक्रिया में लॉटरी प्रकिया को अपनाया जा रहा है जो वाल्मिकी समाज के हित में नहीं है। उन्होंने बताया कि भर्ती प्रक्रिया में सफाई का अनुभव मांगा गया है, जिसमें फर्जी सर्टिफिकेट लगाने का अंदेशा है। इस मौके सचिव छगनलाल परमार, सफाई जमादार जग्गू देवी, चंपतलाल, ओटी देवी, श्रवण वाघेला, धनवंती, मनीला देवी, भगवती देवी, कविता, शोभा देवी, विक्रम वाघेला, गणपत, विक्रम परमार, मुकेश वाघेला, रमेश पंडित, छगन वारेसा, किशोर घारू, वेनाराम, भरत आदिवाल, उमेश, भरत वाघेला, सविता देवी, सुशीला देवी, शायर पंडित, दिनेश आदि मौजूद रहे।