• Hindi News
  • Rajasthan
  • Sirohi
  • दिवंगत अधिवक्ता की याद में बनी प्याऊ पर लगे बोर्ड को हटाने पर विवाद, प्रशासन को वापस लगाना पड़ा
--Advertisement--

दिवंगत अधिवक्ता की याद में बनी प्याऊ पर लगे बोर्ड को हटाने पर विवाद, प्रशासन को वापस लगाना पड़ा

Sirohi News - शहर के दिवंगत अधिवक्ता स्व. गुलाबसिंह की याद में कलेक्टर कार्यालय के ऊपर बनी प्याऊ पर लगे बोर्ड को हटाने पर विवाद...

Dainik Bhaskar

Jun 05, 2018, 06:35 AM IST
दिवंगत अधिवक्ता की याद में बनी प्याऊ पर लगे बोर्ड को हटाने पर विवाद, प्रशासन को वापस लगाना पड़ा
शहर के दिवंगत अधिवक्ता स्व. गुलाबसिंह की याद में कलेक्टर कार्यालय के ऊपर बनी प्याऊ पर लगे बोर्ड को हटाने पर विवाद हो गया। सोमवार सवेरे कलेक्टर व एडीएम ने प्याऊ पर लगे बोर्ड को हटवा दिया, जिस पर वकील आक्रोशित हो गए। आक्रोशित वकीलों ने कलेक्टर सभागार में चल रही बैठक में जाकर बोर्ड हटाने पर कड़ी आपत्ति जताई और दुबारा बोर्ड नहीं लगाने पर आंदोलन की चेतावनी दी, जिस पर प्रशासन ने हाथोंहाथ बोर्ड वापस लगवा दिया।

जानकारी के अनुसार कलेक्टर कार्यालय के ऊपर का हिस्सा न्यायालय के अधिकार क्षेत्र में हैं। इसी प्रथम माले पर बनी लिफ्ट के पास प्याऊ बनी हुई है। यह प्याऊ शहर के दिवंगत अधिवक्ता स्वर्गीय गुलाब सिंह की स्मृति में 2001 से बनाई गई थी। जिसका उपयोग न्यायालय के कर्मचारी अधिवक्ता और यहां आने जाने वाले लोग करते है। लिफ्ट निर्माण के दौरान उक्त प्याऊ का कुछ हिस्सा तोड़ा गया था, जिसे दुबारा तैयार करवा कर प्याऊ शुरू की गई। तत्कालीन न्यायाधीश व पूर्व न्यायाधिपति गौरी शंकर सर्राफ ने उच्च न्यायालय से अनुमति लेकर जगह आवंटित करवाई थी। इस प्याऊ पर पिछले 18 वर्ष से उनकी स्मृति में निर्मित प्याऊ का बोर्ड लगा हुआ था, जिसे पुर्ननिर्माण पर नया बोर्ड लगाया था। न्यायालय व वकीलों से पूछे बिना कलेक्टर और एडीएम ने प्याऊ पर लगे बोर्ड को हटवा दिया। जिस पर जिला बार एसोसिएशन के अध्यक्ष मानसिंह देवड़ा ने एसोसिएशन की आपातकालीन बैठक बुलाई और सर्वसम्मति से निंदा प्रस्ताव पारित कर कलेक्टर व एडीएम की निंदा की। इसके बाद सभी वकील कलेक्टर द्वारा उनके सभागार में ली जा रही योग दिवस बैठक में गए और वरिष्ठ अधिवक्ता राजेंद्र सुराणा, परवीन शाह, विमल सिंघी, नरेंद्र सिंह, बार अध्यक्ष मानसिंह देवड़ा, हिम्मत देवल, राजेंद्र पुरी के नेतृत्व में वकीलों ने नारेबाजी कर विरोध जताया। आक्रोशित वकीलों ने 24 घंटे में बोर्ड वापस नहीं लगाने की स्थिति में आंदोलन की चेतावनी दी। जिस पर कलेक्टर ने कर्मचारियों को भेजकर बोर्ड वापस लगवा दिया।

जिला प्रशासन ने हटवाया था बोर्ड, वकीलों के विरोध पर वापस लगवाना पड़ा

सिरोही. कलेक्ट्रेट में प्याऊ का बोर्ड हटाने को लेकर वकीलों ने प्रदर्शन किया।

X
दिवंगत अधिवक्ता की याद में बनी प्याऊ पर लगे बोर्ड को हटाने पर विवाद, प्रशासन को वापस लगाना पड़ा
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..