• Hindi News
  • Rajasthan News
  • Sirohi News
  • भाजपा प्रत्याशी को परनामी ने जारी किया सिंबल कांग्रेस ने जताई आपत्ति, एसडीएम ने की खारिज
--Advertisement--

भाजपा प्रत्याशी को परनामी ने जारी किया सिंबल कांग्रेस ने जताई आपत्ति, एसडीएम ने की खारिज

सिरोही पंचायत समिति के वार्ड 7 के लिए होना है वार्डपंच का उप चुनाव, 12 जून को होगा मतदान भास्कर न्यूज | सिरोही ...

Dainik Bhaskar

Jun 01, 2018, 06:45 AM IST
सिरोही पंचायत समिति के वार्ड 7 के लिए होना है वार्डपंच का उप चुनाव, 12 जून को होगा मतदान

भास्कर न्यूज | सिरोही

सिरोही पंचायत समिति के तहत वार्ड संख्या 7 में होने वाले उपचुनाव को लेकर गुरुवार को नामांकन पत्रों की जांच की गई। जिसमें एक नामांकन पत्र को खारिज कर दिया गया। इस बीच भाजपा प्रत्याशी योगेश्वरी प|ी गोरधनसिंह के नामांकन को लेकर कांग्रेस ने आपत्ति जताई। कांग्रेस ने आरोप लगाया कि योगेश्वरी को भाजपा प्रत्याशी के रुप में सिंबल अशोक परनामी ने जारी किया है। जबकि वे पहले ही अपने पद से इस्तीफा दे चुके हैं। ऐसे में भाजपा प्रत्याशी का नामांकन खारिज किया जाए। कांग्रेस की ओर से विधि एवं मानवाधिकार प्रकोष्ठ के जिलाध्यक्ष कुलदीप रावल, जिला महामंत्री प्रकाश प्रजापत और सिरोही ब्लॉक कांग्रेस अध्यक्ष प्रकाश धवल ने यह आपत्ति दर्ज करवाई। हालांकि रिटर्निंग अधिकारी नाथूसिंह ने कांग्रेस की इस आपत्ति को खारिज कर दिया। अब उप चुनाव के मैदान में कांग्रेस की तेजपीखेड़ा निवासी मालू प|ी देवाराम रेबारी और भाजपा की सिंदरथ निवासी योगेश्वरी प|ी गोरधनसिंह हैं। नामांकन पत्रों की जांच के दौरान भाजपा की ओर से एडवोकेट अशोक पुरोहित और कांग्रेस की ओर से जिला उपाध्यक्ष जोगाराम मेघवाल, एडवोकेट रतन मेघवाल व निलेश रावल उपस्थित थे।

कांग्रेस ने भाजपा प्रत्याशी के नामांकन पर पर जताई आपत्ति

भाजपा के लिए प्रतिष्ठा का सवाल

होने को तो यह एक वार्ड का उपचुनाव है, लेकिन इसके परिणाम भाजपा के लिए प्रतिष्ठा का सवाल हैं। सिरोही पंचायत समिति के इस वार्ड में कृष्णगंज, सिंदरथ, वाडेली और तेलपीखेड़ा गांव आते हैं। वाडेली भाजपा जिलाध्यक्ष लुंबाराम चौधरी का गांव हैं। इसी प्रकार भाजयुमो जिलाध्यक्ष हेमंत पुरोहित सिंदरथ के रहने वाले हैं। इससे पूर्व राज्य में पंचायत चुनाव 2015 के दौरान इस वार्ड से निर्दलीय दीपा राजगुरु निर्वाचित हुई थी। उन्होंने भाजपा प्रत्याशी रक्षा भंडारी को 626 मतों से हराया था। इसके बाद रक्षा भंडारी ने जिला सत्र न्यायालय में एक याचिका दायर कर दीपा राजगुरु पर नामांकन पत्र में तथ्य छिपाकर चुनाव लड़ने का आरोप लगाया। जिस पर सुनवाई करते हुए न्यायालय ने फरवरी माह में राजगुरु के नामांकन को शून्य घोषित कर दिया था। ऐसे में अब यहां उपचुनाव हो रहे हैं। रक्षा भंडारी भी अभी भाजपा महिला मोर्चा की जिलाध्यक्ष हैं। ऐसे में इस वार्ड से भाजपा और उसके मोर्चों के तीन जिला अध्यक्ष सीधे तौर पर जुड़े हुए हैं। ऐसे में देखना होगा कि क्या इस बार भाजपा यहां से जीत दर्ज करवा पाती है।

कांग्रेस ने इसलिए जताई आपत्ति

कांग्रेस का कहना है कि भाजपा प्रत्याशी को पार्टी का अधिकृत पत्र अशोक परनामी ने जारी है। जबकि यह पद उनके इस्तीफे के बाद से रिक्त है। इसलिए परनामी की ओर से जारी किया गया पत्र अवैध है। ऐसे में भाजपा प्रत्याशी का नामांकन खारिज किया जाए। कांग्रेस की इस आपत्ति को रिटर्निंग अधिकारी नाथूसिंह ने खारिज कर दिया। उनका कहना था निर्धारित कार्यक्रम अनुसार नामांकन पत्रों की जांच सवेरे 11.30 बजे शुरु हुई। जांच में रुक्मण कंवर प|ी गणपतसिंह का नामांकन खारिज कर दिया गया। इसके बाद 11.40 बजे बैठक समाप्त हो गई। कांग्रेस ने 11.45 बजे अपनी आपत्ति दर्ज करवाई। ऐसे में इस पर विचार संभव नहीं था। इसके साथ ही उन्होंने बताया कि राज्य निर्वाचन आयोग से भी ऐसी कोई सूचना नहीं आई। जिसमें अशोक परनामी द्वारा जारी नाम निर्देशन पत्रों के प्रपत्र अ व ब पर हस्ताक्षरों को अमान्य किया जाए।

X
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..