Hindi News »Rajasthan »Sirohi» स्वच्छता के लिए नगरपरिषद ने 8 जगह बनाए थे पब्लिक टॉयलेट, अब वहां लगे गंदगी के ढेर

स्वच्छता के लिए नगरपरिषद ने 8 जगह बनाए थे पब्लिक टॉयलेट, अब वहां लगे गंदगी के ढेर

सिरोही. गोयली चौराहा स्थित पब्लिक टॉयलेट में लगे नल और बिजली बल्ब गायब हो चुका है। पानी नहीं होने से टॉयलेट में...

Bhaskar News Network | Last Modified - Jun 09, 2018, 06:45 AM IST

  • स्वच्छता के लिए नगरपरिषद ने 8 जगह बनाए थे पब्लिक टॉयलेट, अब वहां लगे गंदगी के ढेर
    +1और स्लाइड देखें
    सिरोही. गोयली चौराहा स्थित पब्लिक टॉयलेट में लगे नल और बिजली बल्ब गायब हो चुका है। पानी नहीं होने से टॉयलेट में गंदगी पसर गई है।

    शहर में यहां बने हैं पब्लिक टॉयलेट

    गोयली चौराहा : यहां 10 शीट टॉयलेट बनाया गया है।

    कालकाजी रोड : यहां 6 शीट टॉयलेट बनाया गया है।

    मातर माताजी रोड : यहां 6 शीट टॉयलेट बनाया गया है।

    निडोरा तालाब : यहां भी 6 शीट टॉयलेट बनाया गया है।

    जनाना अस्पताल : यहां 10 शीट टॉयलेट बनाया गया है।

    वाल्मीकि समाज मुक्तिधाम : यहां 4 शीट टॉयलेट बनाया गया है।

    सबसे उचित जगह पर बने टॉयलेट की स्थिति खराब

    नगरपरिषद की ओर से सबसे उचित जगह गोयली चौराहे पर बनाए गए सार्वजनिक शौचालय की स्थिति बेहद खराब है। बाहरी लोगों की आवाजाही से जुड़े गोयली चौराहे पर शौचालय बनाने से लोगों को राहत की उम्मीद थी, लेकिन कुछ ही दिन में इसकी हालत खस्ता हो गई। शौचालय में लगे नल गायब है। टंकी में पानी नहीं भरने से शौचालय में गंदगी पसरी हुई है। जिसकी वजह से लोग शौचालय के पास में खुले में शौच जाते हैं। यहीं, नहीं स्वच्छता संदेश के पास कचरे के ढेर लगे हैं।

    कागजों में ओडीएफ, आज भी लोग खुले में जाते हैं शौच

    शहर के कुल 25 वार्डों को नगरपरिषद ने ओडीएफ घोषित कर दिया है। लेकिन, हकीकत यह है कि आज भी लोग खुले में शौच जाते हैं। इसका सबसे बड़ा कारण यहीं है कि सार्वजनिक जगहों पर बने शौचालयों की स्वच्छता के प्रति नगरपरिषद गंभीर नहीं है। सार्वजनिक शौचालय बनाने के बाद इनके रखरखाव और साफ-सफाई पर ध्यान नहीं दिया जा रहा। इसके अलावा खुले में शौच जा रहे लोगों को रोकने के लिए भी नगरपरिषद की ओर से कोई प्रयास नहीं किए जा रहे।

    टॉयलेट में शीघ्र ही दुरुस्त करवाएंगे व्यवस्था

    शहर में बने सार्वजनिक शौचालयों की स्थिति व खुले में शौच जा रहे लोगों को रोकने की योजना को लेकर बैठक ली जाएगी। सार्वजनिक शौचालयों में नल की व्यवस्था करवाएंगे। इसके साथ ही शीघ्र ही व्यवस्था को दुरुस्त किया जाएगा। -प्रहलादराय वर्मा, आयुक्त, नगरपरिषद, सिरोही

    दो पुराने पब्लिक टॉयलेट को भी किया था शुरू

    भाटकड़ा रेबारीवास : यहां 15 साल पहले बना पब्लिक टॉयलेट काम में नहीं आने से जर्जर हो गया था। जिसे नए सिरे से तैयार किया गया है। लेकिन, मौजूदा स्थिति पहले से कुछ ज्यादा अच्छी नहीं है।

    झुपाघाट कॉलोनी : एसपी बंगले से सटा पब्लिक टॉयलेट बंद पड़ा था। इसे नए सिरे से तैयार कर शुरू किया गया है। लेकिन, यहां भी स्थिति खराब है।

    गोयली चौराहा स्थित पब्लिक टॉयलेट पर जहां स्वच्छता का संदेश लिखा हुआ है, वहीं पर कचरे के ढेर पड़े हैं।

  • स्वच्छता के लिए नगरपरिषद ने 8 जगह बनाए थे पब्लिक टॉयलेट, अब वहां लगे गंदगी के ढेर
    +1और स्लाइड देखें
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Sirohi

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×