Hindi News »Rajasthan »Sirohi» इस बार नौतपा की शिद्दत में रोजेदारों का सख्त इम्तिहान, पारा 420 पर

इस बार नौतपा की शिद्दत में रोजेदारों का सख्त इम्तिहान, पारा 420 पर

हफ्ते भर पहले शुरू हुए रमजान के महीने में अगले आठ दिन सख्त इम्तिहान के होंगे। ये आठ दिन हैं हर साल पड़ने वाला नौ...

Bhaskar News Network | Last Modified - May 26, 2018, 06:55 AM IST

इस बार नौतपा की शिद्दत में रोजेदारों का सख्त इम्तिहान, पारा 420 पर
हफ्ते भर पहले शुरू हुए रमजान के महीने में अगले आठ दिन सख्त इम्तिहान के होंगे। ये आठ दिन हैं हर साल पड़ने वाला नौ तपा। नौ तपा शुक्रवार को शुरू हुआ और पहले दिन सिरोही शहर का अधिकतम तापमान 42 डिग्री और न्यूनतम 28 डिग्री सेल्सियस रहा। अकीदतमंदों ने भीषण गर्मी में जुम्मे की नमाज अदा की। पहले तीव्र गर्मी में भूख-प्यास से जूझ-कर कुरबानी दे रहे रोजेदारों को इन आठ दिनों में और ज्यादा आत्म नियंत्रण और संयम रखना होगा। मौसम वेबसाइट के अनुसार, अभी से 44 डिग्री पार हो चुका तापमान अगले 9-10 दिन तक 44-45 के आसपास बना रह सकता है। हालांकि वैज्ञानिक शोध के अनुसार रोजे से शारीरिक व मानसिक सेहत पर अच्छा प्रभाव पड़ता है, कुरआन में भी लिखा है ‘उपवास करो और स्वस्थ रहो’ लेकिन इसके साथ ही इस तीव्र गर्मी में खानपान का ध्यान देना जरूरी है, वरना पानी की कमी से आप डिहाइड्रेशन का शिकार हो सकते हैं।

इबादत: मौसम वेबसाइट के अनुसार अगले नौ दिन 44-45 डिग्री रहेगा तापमान, रोजेदारों को इन दिनों में और ज्यादा रखना होगा संयम

नमक के अधिक सेवन से बचें

रोजे के दौरान नमक का सेवन अधिक मात्रा में नहीं करना चाहिए। अधिक नमक शरीर में सोडियम का इम्बैलेंस हो जाता है जिस कारण प्यास ज्यादा लगती है। इतना ही नहीं फुल फैट दूध की जगह स्किम्ड और लौ फैट दूध का सेवन करना चाहिए। इसके अलावा योगर्ट और दही का भी उपयोग कर सकते है।

रोजा से वजन नियंत्रण

रोजा के दौरान सही नींद और सही आहार लिया जाए तो वजन कम होता है। रक्त में उपस्थित फैट का स्तर कम हो जाता है। यानी सही प्रकार का आहार लिया जाए तो बुरा कोलेस्ट्रॉल कम हो जाता है, अच्छे कोलेस्ट्रॉल की मात्रा बढ़ जाती है। इतना ही नहीं इस दौरान शुगर ये शुगर युक्त चीजों का अधिक सेवन नहीं करना चाहिए, ये वजन बढ़ा सकता है।

इसका रखें विशेष ध्यान

क्या खाएं: साबुत अनाज, सूखे मेवे, मौसमी फल आदि।

क्या न खाएं: बहुत अधिक तले हुए खाद्य-पदार्थ, मसाले युक्त भोजन, मैदायुक्त खाद्य पदार्थ, बहुत अधिक शकरकंद युक्त खाद्य पदार्थ।

बुरी आदतें दूर: चूंकि रमजान आत्म नियंत्रण का महीना है तो लोग गलत व्यसन यानी तंबाकू, सिगरेट इत्यादि का सेवन नहीं करते हैं।

सेहरी: नींबू पानी, छाछ, नारियल पानी, ताजे फलों का रस, रोटी सब्जी, इडली, पोहा, फल, केला, तरबूज, खीरा आदि।

खजूर,बादाम और अखरोट सेहत के लिए फायदेमंद

सेहरी और इफ्तार के समय खजूर खाना सेहत के लिए बेहतरीन है। खजूर में बहुत सारे मिनरल्स होते हैं, जो रोजा के दौरान शरीर को पौष्टिकता प्रदान करते हैं। इसके अलावा यह पाचन के लिए भी काफी अच्छा माना जाता है। मसालेदार, तला-भुना खाने से परहेज करें। यह आपके पाचनतंत्र पर असर डालता है, इसके साथ ही इससे एसिडिटी भी होती है और सीने में जलन भी हो सकती है। इसके अलावा बादाम और अखरोट को भी डाइट में शामिल करें। यह सेहत के साथ साथ हार्ट का भी ख्याल रखेगा।

इफ्तार: नींबू पानी, ताजे फलों का रस, नारियल पानी, सूखे मेवे, खजूर, बादाम, अखरोट, चना, मूंग, मोठ, मौसमी फल, दालें, हरी सब्जियां।

नौ तपा में ऐसा रहेगा पारा

दिन अधिकतम तापमान

26 मई 44

27 मई 45

28 मई 45

29 मई 44

30 मई 44

01 जून 43

02 जून 43

(नोट: सिरोही शहर का तापमान डिग्री सेल्सियस में)

प्रेग्नेंसी में महिलाओं को रोजा रखने से बचना चाहिए। अगर रखती भी है तो आयरन, कैल्शियम से भरपूर खाना लें ताकि बच्चे को सही मात्रा में पोषण मिलता रहें। साथ ही बीमार लोग भी अगर रोजा रखते है तो खानपान का पूरा ध्यान रखें। -डॉ. प्रदीप चौहान, फिजिशियन , सिरोही

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Sirohi News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: इस बार नौतपा की शिद्दत में रोजेदारों का सख्त इम्तिहान, पारा 420 पर
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From Sirohi

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×