--Advertisement--

तीन दिवसीय जीवरक्षा सम्मेलन आज से

देश की पशु सेवार्थ संस्था समस्त महाजन की ओर से आयोजित तीन दिवसीय जीवरक्षा अधिवेशन शुक्रवार से शुरु होगा, जो 20 मई तक...

Danik Bhaskar | May 18, 2018, 07:10 AM IST
देश की पशु सेवार्थ संस्था समस्त महाजन की ओर से आयोजित तीन दिवसीय जीवरक्षा अधिवेशन शुक्रवार से शुरु होगा, जो 20 मई तक चलेगा। इस अधिवेशन में राजस्थान व गुजरात के करीब एक हजार से ज्यादा पशु रक्षक सम्मिलित होकर जीवरक्षा का प्रशिक्षण लेंगे। समस्त महाजन के संयोजक एवं भारतीय जीवन जन्तु कल्याण बोर्ड के मनोनीत सदस्य गिरीश शाह के नेतृत्व में यह सम्मेलन आयोजित किया जाएगा, जिसमें समस्त महाजन के ट्रस्टी एवं पशु रक्षा से संबंधित विशेषज्ञों की ओर से जानकारी दी जाएगी। पीएफए के सचिव एवं सम्मेलन के कार्यकर्ता अमित दियोल ने बताया कि प्रशिक्षण शिविर में सम्मिलित होने वाले पशुरक्षकों के लिए आवास, भोजन एवं वातानुकूलित वाहनों की व्यवस्था की गई है। प्रशिक्षण के पहले दिन शुक्रवार को सूरिप्रेम जीवरक्षा केंद्र परलाई का भ्रमण करवाया जाएगा, दोपहर सुमती जीवरक्षा केंद्र पावापुरी द्वारा गोचर भूमि के विकास जानकारी दी जाएगी। रात्रि विश्राम गुजरात के जैन तीर्थ भीलडीयाजी में होगा। 19 मई को जलाराम गौशाला भाभर का भ्रमण एवं दोपहर देश की आत्मनिर्भर बंशी गीर पांजरापोल में गौ माता के नस्ल सुधार के बारे में जानकारी दी जाएगी। उसी दिन रात्रि विश्राम जैन तीर्थ कलीकुंड में रहेगा। प्रशिक्षण के अंतिम दिन गोकुलधाम पांजरापोल अहमदाबाद (धोलेरा) का भ्रमण किया जाएगा एवं उसी दिन देश का प्रथम आत्मनिर्भर एवं स्वावलंबी गांव धर्मज का भ्रमण, वहां के गोचर विकास, पौधरोपण, शिक्षा के प्रति जागरूकता, गांव में स्वयं सहायता समूह द्वारा गांव का सौन्दर्यीकरण की जानकारी दी जाएगी।